Friday , 22 June 2018
Home » Beauty » eye care » आंखों की सूजन जलन और चश्मा खत्म करने के असरदार घरेलू नुस्खे !!!

आंखों की सूजन जलन और चश्मा खत्म करने के असरदार घरेलू नुस्खे !!!

कई बार जब हम लोग सोकर उठते है, तो आंखों के नीचे बैग यानी सूजन नजर आने लगती है, जो जल्दी नहीं जाती। इसके अलावा इनकी वजह ज्यादा नींद लेना, अधिक धुम्रपान, ड्राई स्किन या आपका खराब लाइफस्टाइल भी हो सकता है। बैग्स यानी सूजन की समस्या के कारण आंखों के नीचे का हिस्सा फूल जाता है, जोकि देखने में बिल्कुल अच्छा नहीं लगता। कुछ लोग इस समस्या को दूर करने के लिए क्रीमों का इस्तेमाल करते है लेकिन कुछ घरेलू तरीके अपना कर भी इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। आज हम आपको आंखों की सूजन को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताएंगे, जिससे यह समस्या बिना किसी नुकसान के दूर हो जाएगी।

आखों के नीचे सूजन के कारण

  • अनुवांशिकी कारण
  • पोषण की कमी
  • पानी की मात्रा का कम होना
  • उम्र का बढ़ना
  • एलर्जी
  • धूम्रपान का सेवन

 कैमोमाइल टी-बैग
एंटी इंफेलमेटरी गुणों से भरपूर कैमोमाइल टी-बैग को पानी में उबाल कर हल्का ठंडा करके आंखों के उपर रखें। 15-20 मिनट बाद आंखों को ठंडे पानी से धो लें। दिन में 2-3 बार ऐसा करने से आंखों की सूजन दूर हो जाएगी।

गुलाब जल
आंखों की सूजन को दूर करने के लिए गुबालजल की कुछ बूंदें आंखों में डालें। इससे आपको ठंडक मिलने के साथ-साथ सूजन कू समस्या भी दूर होगी।
एग-व्हाइट
आंखों के नीचे एग-व्हाइट को लगाकर सूखने दें। इसके सूखने के बाद ठंडे पानी से आंखों को साफ करें। इससे आपकी सूजन मिनटों में गायब हो जाएगी।

दूध
दूध को हल्का गुनगुना करके दिन में 2-3 बाक आंखों को धोएं। इससे आपकी सूजन मिनटों में गायब हो जाएगी।

अगर आपकी आंख पर चोट या कोई कचरा आंख में चला जाता है तो ऐसे में अपनी आंख को मसलें नहीं, ऐसा करने से आंख लाल हो जाएगी और आंखो के आगे धुंधलापन छा जाएगा जो कि आंख के लिए खराब है। इससे बचने के लिए अगर आप घर पर है तो दूध गर्म करके उसमें रूई को भिगोकर उसे ठंडा करके अपनी आंखों पर रख लें और अगर आप कही बाहर है तो ठंडें पानी से आंखों पर रूक-रूककर छिडकाव करें। इससे आंखो को ठंडक और आराम मिलेगा।
खीरा
खीरे की स्लाइड काट कर उसे आंखों के अपर रखने से भी सूजन की समस्या दूर हो जाएगी। आप चाहें तो खीरे का रस निकाल कर भी उसे आंखों के नीचे लगा सकते हैं।

एलोवेरा जेल
एलोवेरा जेल में कपड़ा डूबोकर उससे आंखों पर कुछ देर के लिए रख लें। दिन में कम से कम 2-3 बार ऐसा करें।

 धनिया

धनिया का रस निकाल कर उसे 15-20 मिनट के लिए आंखों के नीचे लगा लें। इससे आपको ठंडक मिलेगी और सूजन दूर हो जाएगी।

आंखों पर मारें ठंडे पानी के छींटे

कई बार ज्यादा टीवी देखने, मोबाइल और कम्प्यूटर पर ज्यादा काम करते रहने से आंखो में जलन, कम दिखना और आंखो में जालें बनने जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप इन परेशानियों से बचना चाहते है तो आप अपने मुंह में पानी भरकर अपनी आंखों पर पानी की छींटे मारिए। ऐसा आपको दिन में करीब 25 से 50 बार कर सकते है। जिससे आपकी आंखो की ये परेशानी खत्म हो जाएगी। और इसके बाद डॉक्‍टर से चेकअप कराना बिल्‍कुल मत भूलें।

करें हरे पत्‍ते वाली सब्‍िजयां का उपयोग

हमेशा धूप में निकलने से पहले सन ग्‍लासेस का इस्‍तेमाल करना न भूलें। इससे आपकी आंखें तेज रोशनी से बची रहेगी। और खाने में विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में लें यानि खाने में हमेशा हरे पत्‍ते वाली सब्‍िजयां, टमाटर, चिकन और दूध से बनी चीजों का भरपूर इस्तेमाल करें। और एक बात का अवश्य ध्यान रखें कि हमेशा रात को सोते समय पैरों के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करके सोएं। ये आंखो की रोशनी को बढ़ाने में सबसे ज्यादा असर करती है।

आंवले के पानी से आंखों को धोएं

अपनी आंखों को बचाने के लिए और रोशनी बढाने के लिए आप आंवले के पानी से आंखों को धोकर उनमें गुलाब जल डालकर आराम करें। इसके अलावा बादाम की गिरी, बड़ी सौंफ और मिश्री तीनों को बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें और रात को सोते समय रोज एक गिलास दुध में मिलाकर पीएं। ये आंखो के लिए काफी असरकारक है, और आंखो की रोशनी को बढाने में काफी मदद करती है।

गाय का घी है अमृत

गाय का घी काफी गुणो और पोषक तत्वों से भरा हुआ है। ये आंखो के लिए अमृत के बराबर काम करता है। अगर आप भी अपनी आंखों से चश्मा हटाना चाहते है और आंखो की रोशनी को तेज करना चाहते है तो इसके लिए रोज रात को सोते समय अपनी कनपटी पर हल्के हाथों से गाय के घी को लगाकर मालिश करें। ये आंखो को जबदस्त आराम देती है और आंखों की सफेदी को भी बढाती है।

श्यामा तुलसी का रस है उपयोगी

श्यामा तुलसी के बारें में आपने सुना तो होगा ही या यह कही भी किसी भी घर में आसानी से मिल सकती है। इसे बीज और पत्तों को लेकर आप उसका रस निकाल लिजिए और फिर उस रस की कुछ बूंदे अपनी आंखों में डालें। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि श्यामा तुलसी के रस का उपयोग करने से रतौंधी जैसी बीमारी से छुटकारा मिलता है।

खीरा और पत्ता गोभी का इस्तेमाल

अगर आप खाने में खीरा और पत्ता गोभी का इस्तेमाल नही करते है तो आज से ही इनका इस्तेमाल करना शुरू कर दिजिए। क्योकि रोजाना खाने के साथ 50 से 100 ग्राम पत्‍तागोभी के बारीक पत्तों में सेंधा नमक, काली मिर्च मिलाकर खाने से आंखो की रोशनी तेज होती है और इसी तरह आप खीरें को भी इस्तेमाल कर सकते है। यह आंखों को काफी आराम और जलन से बचाएं रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status