Tuesday , 24 October 2017
Home » आयुर्वेद (page 10)

आयुर्वेद

अभ्रक भस्म के गुण और विभिन्न बिमारियों में उपयोग की विधि.

अभ्रक भस्म के प्रधान गुण – Abhrak Bhasm ke fayde अभ्रक भस्म त्रिदोष नाशक, प्रमेह, कुष्ठ, उदररोग, राजयक्ष्मा, पांडू, कामला, गृहणी, शूल, श्वास, कास, गाम, मन्दाग्नि, ज्वर, गुल्म, अर्श, मानसिक दुर्बलता, मृगी, उन्माद, हृदय रोग, प्रसूत, निर्बलता आदि सब प्रकार के शारीरिक और मानसिक रोगों में यह भस्म लाभदायक सिद्ध होती है. इसके सेवन से शरीर सुदृढ़ और बलवान होता …

Read More »

किसी भी प्रकार की एलर्जी ,शीतपित्त, रक्तविकार, शरीर की बढ़ी हुयी गर्मी नाशक योग-

किसी भी प्रकार की एलर्जी ,शीतपित्त, रक्तविकार, शरीर की बढ़ी हुयी गर्मी नाशक योग- आजकल जन सामान्य किसी न किसी प्रकार की एलर्जी से ग्रसित है | निम्नलिखित प्रयोग हर तरह की एलर्जी को समूल नष्ट करने की शक्ति रखता है।एलर्जी व शीतपित्त इत्यादि रोगों के लिए शास्त्रोक्त हरिद्रा खण्ड अत्यंत उपयोगी सिद्ध हुआ है।लेकिन निम्नलिखित नवीन प्रयोग उससे भी …

Read More »

आयुर्वेद में प्रयुक्त रस-रसायन, वटी व गोलियाँ

आयुर्वेद में प्रयुक्त रस-रसायन, वटी व गोलियाँ आयुर्वेद में इस्तेमाल होने वाले रस रसायन, वटी और गोलियां, तीव्र रिजल्ट देने वाली हैं. इनके प्रयोग से अनेक रोगों में फायदा होता है. आइये जाने आयुर्वेद में प्रयुक्त रस रसायन वटी व् गोलियों के बारे में. अगस्ति सूतराज रस : संग्रहणी अतिसार, आमांश शूल व मंदाग्नि में। मात्रा 1 रत्ती प्रातः व …

Read More »

आयुर्वेद भस्म और इनके फायदे.

आयुर्वेद भस्म और इनके फायदे. आयुर्वेद में भस्मों की एक समूची श्रृंखला है, इनसे उपचार की विधि भी अत्यंत प्राचीन और शास्त्रोक्त है. अनेक रोगों और रोग के बाद आई हुयी कमजोरी को चुटकी बजाते ही हल इनका प्रमुख गुण है. आज बहुत कम वैद्य हैं जो इनके बारे में पूर्ण ज्ञान रखते हैं. इस श्रृंखला में हम धीरे धीरे …

Read More »

हमेशा काम आने वाले 51 अचूक नुस्खे –

हमेशा काम आने वाले 51 अचूक नुस्खे – हमारे जीवन में रोगों का प्रभाव पड़ता ही रहता है -हम छोटी-मोटी बीमारियों का इलाज स्वयं कर सकते है आज हम आप के लिए लाये हैं साधारण छोटे-छोटे प्रयोग जिनको आप अवश्य अपनाए कुछ प्रयोग नीचे दिए गए है जो आपके घर में ही उपलब्ध है अजमाए और लाभ ले – 1.दमे …

Read More »

क्या आप जानते हैं आयुर्वेद के अनुसार क्या हैं दूध पीने के नियम – इनका पालन करने वाला सदा सुखी

doodh peene ke niyam, dudh kaise piye कुछ लोगों को दूध पीने के बाद हजम नहीं हो पाता। उन्‍हें पेट फूलने या फिर बार खराब होने की समस्‍या से जूझना पड़ता है। आयुर्वेद के अनुसार दूध पीने के कुछ नियम हैं, जिनका पालन करने से आपको दूध हजम हो जाएगा। आयुर्वेद में हैं दूध पीने के कुछ नियम दूध हमारे …

Read More »

ये घास है चमत्कारी, औषधीय गुणों से भरपूर है दूब घास (Cynodon dactylon)

औषधीय गुणों से भरपूर है दूब घास (Cynodon dactylon)  दूब या ‘दुर्वा’ (वानस्पतिक नाम : Cynodon dactylon) वर्ष भर पाई जाने वाली घास है, जो ज़मीन पर पसरते हुए या फैलते हुए बढती है। हिन्दू धर्म में इस घास को बहुत ही महत्त्वपूर्ण स्थान प्राप्त है। हिन्दू संस्कारों एवं कर्मकाण्डों में इसका उपयोग बहुत किया जाता है। इसके नए पौधे …

Read More »

तांबे के बर्तन से पानी पीने के 14 स्वास्थ्य लाभ ; copper vessel water benefits

तांबे के बर्तन से पानी पीने के 14 स्वास्थ्य लाभ ; copper vessel water benefits हम में से ज्यादातर लोगों ने अपने दादा-दादी से तांबे के बर्तन में संग्रहीत पानी पीने के स्वास्थ्य लाभों के बारे में सुना होगा। कुछ लोग तो पानी पीने के लिए विशेष रूप से तांबे से बने गिलास और जग का उपयोग करते हैं। लेकिन …

Read More »

कया आप जैविक घड़ी पर आधारित दिनचर्या के बारे में जानते है। स्वस्थ्य जीवन का रहस्य-

हमारे ऋषियों, आयुर्वेदाचार्य ने जो जल्दी सोने-जागने एवं आहार-विहार की बातें बतायी है, उन पर अध्ययन व खोज करके आधुनिक वैज्ञानिक और चिकित्सक अपनी भाषा में उसका पुरजोर समर्थन कर रहे है । मनुष्य के शरीर में करीब ६० हजार अरब से एक लाख अरब जितने कोश होते है और हर सेकंड एक अरब रासायनिक क्रियाएँ होती है । उनका …

Read More »

पानी तेल या दूध का कुल्ला करने के चमत्कारिक फायदे.

पानी तेल या दूध का कुल्ला करने के चमत्कारिक फायदे. Kulla karne ke fayde. हमारी परम्पराएँ और घरेलु ज्ञान इतना ज़बरदस्त है के अगर हम इन पर थोडा भी ध्यान देवें तो बिना दवा के भी स्वस्थ रह सकते हैं. आज आपको ऐसी ही एक विधि से परिचित करवा रहें हैं जिसका नाम है कुल्ला. कुल्ला एक ऐसी विधि है …

Read More »
Share
DMCA.com Protection Status