Saturday , 24 June 2017
Home » Health » fistula » बवासीर से लेकर पेट सम्बंधित सभी रोगों में रामबाण गौ तक्रासव onlyayurved

बवासीर से लेकर पेट सम्बंधित सभी रोगों में रामबाण गौ तक्रासव onlyayurved

गौ तक्रासव घर पर बनाने की विधि,सेवन का तरीका और इसके स्वास्थ्य लाभ 

Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi

दोस्तों नमस्कर onlyayurved के इस आर्टिकल में आज हम आपको बता रहे है Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi  बवासीर पेट के सभी रोग के लिए रामबाण इलाज है गौ तक्रासव।इसे कुछ लोग गौ तक्रारिष्ट के नाम  से भी जानते हैं ।दोस्तों जो जानकारी आपको आज इस पोस्ट में बता रहे है वह आप को इन्टरनेट  पर हमारी वेबसाइट के आलावा शायद ही कही मिलेगी क्यूंकि यह treatment of piles and all stomach diseases in hindजानकारी केवल कुछ आयुर्वेदिक ग्रंथो में ही बताई गई है।गौ तक्रासव या गौ तक्रारिष्ट  आपको बाजार में नही बल्कि केवल किसी गौ शाला में ही मिलेगा।लेकिन आज हम आपको इसे घर पर ही बनाने का पूरा तरीका बता रहे हैं ।आइये जाने Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi 

 गौ तक्रारिष्ट को घर पर ही बनाने के लिए जरुरी सामग्री :-

  1. गाय की लस्सी 1 लीटर
  2. हल्दी चूर्ण। 50 ग्राम
  3. राई का चूर्ण। 50 ग्राम
  4. सेंधा नमक। 50 ग्राम
  5. एक कांच का बर्तन 
  6. पानी 1 लीटर

गौ तक्रासव घर पर ही बनाने की विधि :-

गाय की लस्सी में समान मात्रा में पानी मिलाकर बाकी सभी चीजों को इसके अंदर मिला ले ओर किसी कांच के बर्तन में चार दिन के लिए रख दे,चार दिन बाद किसी सूती कपड़े से छानकर बोतलों में डालकर रख दे।Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi 

घर पर बने गौ तक्रासव के स्वास्थ्य वर्धक फायदे :-

बवासीर के लिए हर सूरत में फायदेमंद है।इसके निरंतर सेवन से बवासीर (piles) में अत्यधिक फायदा होता है।हमने बहुत से बवासीर के मरीजो को इसका सेवन करने को कहा था और उनको इससे बेहद फायदा पंहुचा है । Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi 

बवासीर
बवासीर

पेट के सभी रोगों को दूर करता है।पेट के रोगियों को भी इससे काफी हद तक फायदा पंहुचा है ।कुछ मरीजो ने लगातार इसका सेवन करके पेट के रोगों से छुटकारा पाया है ।आप भी जरुर अपनाए और अपना अनुभव हमारे साथ शेयर जरुर करें। Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi 

पेट का दर्द
पेट का दर्द

 गौ तक्रासव को सेवन करने की विधि :-

आपको रोज  चार चम्मच दिन में दो बार सेवन  करना है।जब तक आपको फायदा महसूस न हो तब तक सेवन कर सकते हैं । गौ तक्रासव को एक बार सुबह खाली पेट और दोपहर में खाना खाने के एक घंटे बाद  सेवन करना परम हितकारी है। इसका सेवन एक बारमें ज्यादा से ज्यादा तीन महीनो  तक ही करे इसके बाद  भी अगर फायदा न हो तो पंद्रह दिन के बाद फिर से तीन महीने यही कर्म जरी रखें । Treatment of Piles and all Stomach Diseases in Hindi 

यह भी जरुर पढ़े :- नारियल की जटा से खुनी बवासीर का एक दिन में इलाज

दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके हमें जरुर बताएं और अगर आपको इस लेख में कुछ समझ में न आया हो तो भी आप पोस्ट के निचे कमेंट करके हमें पूछ  सकते हैं।हम आपके लिए भारत के कोने कोने से आयुर्वेद के अनसुने चमत्कार ले कर आते हैं, आप भी इनको शेयर कर के ज़्यादा से ज़्यादा लोगो तक पहुंचाए। और ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को पेज लाइक करने के लिए कहे।आपने पोस्ट को पूरा पढ़ा इसके लिए आपका धन्यवाद ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status