Tuesday , 27 June 2017
Home » Health » allergy » एलर्जी से बचाव, रखे ख्याल इन बातो का।

एलर्जी से बचाव, रखे ख्याल इन बातो का।

एलर्जी से बचाव – घरेलु नुस्खे:- Allergy

एलर्जी से बचाव ही एलर्जी का सर्वोत्तम इलाज है इसलिए एलर्जी से बचने के लिए इन उपायों का पालन करना चाहिए:-
* य़दि आपको एलर्जी है तो सर्वप्रथम ये पता करें की आपको किन किन चीजों से एलर्जी है इसके लिए आप ध्यान से अपने खान पान और रहन सहन को देखे l

* घर के आस पास गंदगी ना होने दें l
* घर में अधिक से अधिक खुली और ताजा हवा आने का मार्ग प्रशस्त करें l
* जिन खाद्य पदार्थों से एलर्जी है उन्हें न खाएं l
* एकदम गरम से ठन्डे और ठन्डे से गरम वातावरण में ना जाएं l
* बाइक चलाते समय मुंह और नाक पर रुमाल बांधे,आँखों पर धूप का अच्छी क़्वालिटी का चश्मा लगायें l
* गद्दे, रजाई,तकिये के कवर एवं चद्दर आदि समय समय पर गरम पानी से धोते रहे l
रजाई ,गद्दे ,कम्बल आदि को समय समय पर धूप दिखाते रहे l
* पालतू जानवरों से एलर्जी है तो उन्हें घर में ना रखें l
* ज़िन पौधों के पराग कणों से एलर्जी है उनसे दूर रहे l
* घर में मकड़ी वगैरह के जाले ना लगने दें समय समय पर साफ सफाई करते रहे l
* धूल मिटटी से बचें ,यदि धूल मिटटी भरे वातावरण में काम करना ही पड़ जाये तो फेस मास्क पहन कर काम करेंl

नाक की एलर्जी :-

* जिन लोगों को नाक की एलर्जी बार बार होती है उन्हें सुबह भूखे पेट 1 चम्मच गिलोय और 2 चम्मच आंवले के रस में 1चम्मच शहद मिला कर कुछ समय तक लगातार लेना चाहिए इससे नाक की एलर्जी में आराम आता है ,सर्दी में घर पर बनाया हुआ या किसी अच्छी कंपनी का च्यवनप्राश खाना भी नासिका एवं साँस की एलर्जी से बचने में सहायता करता है आयुर्वेद की दवा सितोपलादि पाउडर एवं गिलोय पाउडर को 1-1 ग्राम की मात्रा में सुबह शाम भूखे पेट शहद के साथ कुछ समय तक लगातार लेना भी नाक एवं श्वसन संस्थान की एलर्जी में बहुत आराम देता है

* जिन्हे बार बार त्वचा की एलर्जी होती है उन्हें मार्च अप्रेल के महीने में जब नीम के पेड़ पर कच्ची कोंपलें आ रही हों उस समय 5-7 कोंपलें 2-3 कालीमिर्च के साथ अच्छी तरह चबा चबा कर 15-20 रोज तक खाना त्वचा के रोगों से बचाता है, हल्दी से बनी आयुर्वेद की दवा हरिद्रा खंड भी त्वचा के एलर्जी जन्य रोगों में बहुत गुणकारी है इसे किसी आयुर्वेद चिकित्सक की राय से सेवन कर सकते हैं l

* सभी एलर्जी जन्य रोगों में खान पान और रहन सहन का बहुत महत्व है इसलिए अपना खान पान और रहन सहन ठीक रखते हुए यदि ये उपाय अपनाएंगे तो अवश्य एलर्जी से लड़ने में सक्षम होंगे और एलर्जी जन्य रोगों से बचे रहेंगे एलर्जी जन्य रोगों में अंग्रेजी दवाएं रोकथाम तो करती हैं लेकिन बीमारी को जड़ से ख़त्म नहीं करती है जबकि आयुर्वेद की दवाएं यदि नियम पूर्वक ली जाती है तो रोगों को जड़ से ख़त्म करने की ताकत रखती हैं l

अलेर्जी के लिए घरेलु नुस्खों के लिए यहाँ पर क्लिक कर के पढ़े। 

 

9 comments

  1. Chakkar ka treatment kya he

  2. Good and cheap remedies for allergies in Ayurveda.

  3. Sir m dhoop or mitti ki allergy se 10 year se pareshan hu
    Mere face par lal lal chakte se nikalte h or kujli jalan bhi hoti h
    Din me 3 time sunscreen lotion lagata hu phir bhi koi araam nahi milta
    Doctor bolte h meri skin sensitive h
    Please koi upchar ho to bataein

  4. कृष्ण कुमार

    Thanks sir

  5. Sunburn(धूप से एलर्जी) se bachne ka upaye btaye plz…..

  6. Namaste
    Maine aapki bht sari post dekhi or sab se bht faeda mila
    Mje dust allergy h me 6 saalo se anti allergi tab leti hu agr kch din na lu to mje nazla zukham sir drd shuru ho jata or milk ya milk se bni koi b chz zyada leti to gale me bhari lgta or saans lene me problem hoti h …
    Plz koi illaj batae ..

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status