Friday , 15 December 2017
Home » Health » arthritis - joint pain » अगर आप घुटनों और जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो ये फल जरूर खाएं

अगर आप घुटनों और जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो ये फल जरूर खाएं

आजकल जोड़ों में दर्द होना एक आम समस्या हो गयी है जो मुख्यत Osteoarthritis, Arthritis, Rheumatism और gout की वज़ह से हो सकती है जैसे की घुटनों में दर्द होना, सूजन होना, जोड़ों में लाली होना (Redness), समस्या आपके शरीर में किसी भी जोड़ (Joint) में हो सकती है, जैसे घुटना, कन्धा, कमर, एड़ी, ऐसी हालत में हमें दैनिक कार्यों में बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए हम आमतौर पर दर्द निवारक दवाओं का इस्तेमाल बेधड़क करते हैं और समस्या गंभीर हो जाये तो डॉक्टर हमें स्टेरॉयड (Steroid ) भी देते हैं। घुटनों के दर्द में डॉक्टर्स घुटनों में ही स्टेरॉयड के इंजेक्शन लगा देते हैं जिसके बहुत ज्यादा साइड इफेक्ट्स / दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं।

तो आज हम आपको एक ऐसे फ़ल के बारे में बता रहे हैं जिसमें ऐसे गुण पाए जाते हैं, जिसको रोजाना खाने से आपके जोड़ो सम्बन्धित सभी प्रकार की समस्याओं का हल बिना किसी साइड इफेक्ट्स / दुष्प्रभाव के हो जायेगा।

Pineapple के पौधे से एक विशेष प्रकार का Proteolytic Enzyme “Bromelain” निकलता है जो बहुत ही अच्छा दर्द निवारक ( analgesic) और सुजन्रोधी (anti-inflammatory) है। ये एंजाइम पाइनएप्पल के fruit और तने  में काफी मात्रा में पाया जाता है। इस एंजाइम को हम osteoarthritis, arthritis और gout जैसे बीमारियों में एक बहुत अच्छे प्राकृतिक उपचार के रूप में इस्तेमाल कर सकते है। इसके अलावा sports में होने वाली Injuries में इस एंजाइम का सेवन करने से 50% recovery रेट बढ़ जाती है। दर्द निवारक दवाओ के साथ Bromelain का इस्तेमाल करने से उनका action भी काफी ज्यादा बढ़ जाता है।

Allopathic में जॉइंट और घुटनों सम्बन्धित इस प्रकार की समस्या में NSAID दर्द निवारक दवाए दी जाती है जो बीमारी की प्रोग्रेस को न रोककर सिर्फ दर्द को control करती है। जब ये काम करना बंद कर देती है तो steroidal injection लगाये जाते है NSAID और steroidal इंजेक्शन लम्बे समय तक लगाने से बहुत से side effect होते है फिर भी बात न बने तो लास्ट में जॉइंट रिप्लेसमेंट को बोल दिया जाता है। इस प्रकार natural ट्रीटमेंट बिना side effect के बहुत अच्छा अल्टरनेटिव प्रदान करता है।

सेवन :- आप Pineapple की २-३ स्लाइस रोज खा सकते हैं , इसे खाने के साथ या बाद ले सकते हैं,

अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए आप 200 ml पाइनएप्पल जूस बना के उसमे 3 ग्राम हल्दी और 5 ग्राम अदरक का रस मिला लीजिये।

इस प्रकार की जॉइंट की समस्या में Bromelain एक बहुत ही अच्छा समाधान हो सकता है वो भी बिना किसी side effects के

Properties of Bromelain / Bromelain के गुण

Anti-inflammatory: सूजन को काम करने में बहुत सहायक है

Analgesic: दर्द निवारक है

Antiedematous: घुटनों में टूट फूट होने की वजह से रक्त वाहनियों की पारगम्‍यता बढ़ जाती है। जिससे वहां पर काफी ज्यादा द्रव्य इकठ्ठा हो जाता है, जो Edema का रूप ले लेता है, Edema घुटनों में सूजन की मुख्या वजह है Bromolain इस पारगम्यता को कम करता है और इकठा हुए द्रव्य को नष्ट कर देता है (Proteolysis) और घुटनों की सूजन ख़त्म हो जाती है।

Antithrombic: Bromelain का ये गुण रक्त के थक्के नहीं जमने देता।

Fibrinolytic:  Bromelain का ये गुण खून के क्लॉट (clot ) को Dissolve / ख़त्म कर देता है / खून में घोल देता है / नष्ट कर देता है।

पाइनएप्पल के इन गुणों के कारण ये cartilage की हेल्प के लिए बहुत अच्छा है, यही cartilage हमारे घुटनों/जोड़ों को आपस में जोड़ने का काम करता है।

How Bromelain work in joint pain related to gout, arthritis, osteoarthritis etc

  • Bromelain रक्त में fibinogen और Bradykinin के मात्रा को कम करता है जिससे दर्द और edema यानि सुजन कम हो जाती है
  • Bromelain prostaglandin की मात्रा को कम कर देता है जिससे दर्द कम हो जता है
  • Bromelain कई immune cells surface adhesion molecule का modulation करता है जो rheumatism और arthritis जैसे कई autoimmune बीमारियों की प्रोग्रेस को रोकने में सहायक है

 

For reference click here 

click here

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status