Thursday , 23 November 2017
Home » Women » अंडरआर्म्स का कालापन दूर नही बल्कि खत्म कर देगा ये उपाय onlyayurved.com

अंडरआर्म्स का कालापन दूर नही बल्कि खत्म कर देगा ये उपाय onlyayurved.com

अंडरआर्म्स का कालापन दूर करने के उपाय

नमस्कार दोस्तों onlyayurved में एक बार फिर से आपका स्वागत है दोस्तों  आज हम आपको बता रहे  हैं अंडरआर्म का कालापन दूर करने के उपाय ।यह एक आम समस्या है जिससे लगभग सभी महिलाये और पुरष परेसान है।लेकिन अब आपको इस समस्या से घभराने की जरुरत नही है।आज इस पोस्ट के द्वारा हम जो भी उपाय बता रहे हैं उसे महिलाएं और पुरष दोनों ही अपना सकते हैं ।महिलाएं अपने चेहरे की सुंदरता के साथ साथ बगल को लेकर भी काफी सजग रहती है।काली बगल एक ऐसी समस्या है जिससे फैशन की दीवानी सभी महिलाएं पीड़ित है हालाकि ये कोई बड़ी समस्या नही है लेकिन गर्मियों के मौसम में महिलाएं स्लीवलेस कपड़े पहनना पसंद करती है और बगल के कालेपन की वजह से उन्हें ये शोंक मारना पड़ता है।काली बगल की वजह से महिलाएं खुलकर हाथ नही फैला पाती।कई बार अधिक शेव करने से,कॉस्मेटिक उत्पाद का इस्तेमाल करने से,डेड सेल्स के कारण बगल काले हो जाते है।ज्यादातर मामलों में बगल की अच्छे से साफ सफाई न होने के कारण वे काले पड़ जाते है।आप यह उपाय गर्दन का कालापन दूर करने के लिए भी कर सकते हैं ।अगर आप भी बगल के कालेपन की समस्या से परेशान है तो आज हम आपके लिए एक प्राकृतिक नुस्खा लाएं है जिसकी मदद से बगल का कालापन दूर कर उन्हें गोरा बना सकते है।तो आइए जानते है नुस्खे के बारे में

Black underarm

1.इस नुस्खे के लिए आपको 2 बड़े चम्मच हल्दी पाउडर,1 बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा,1 बड़ा चम्मच शहद और 1 निम्बू का रस।इन सभी चीजो की आवश्यकता होगी इन सभी चीजो को एकत्रित कर ले।
2.सबसे पहले एक कटोरी में हल्दी पाउडर,बेकिंग सोडा,शहद ओर निम्बू का रस डालकर अच्छे से मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर ले।
3.इस पेस्ट को अंडरआर्म पर अच्छी तरह लगाएं और फिर 15-20 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दे।उसके बाद साफ पानी से धो ले और धोने के बाद नारियल तेल से मसाज करें।

दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमे जरुर बताएं और अगर इस पोस्ट से सम्बंधित आपका कोई सवाल है  तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।आपने पोस्ट को पूरा पढ़ा इसके लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status