Tuesday , 27 June 2017
Home » Major Disease » Sugar » प्रमाणित जानकारी – सिर्फ Cooking Oil बदल कर आप Diabetes को Control कर सकते हैं.

प्रमाणित जानकारी – सिर्फ Cooking Oil बदल कर आप Diabetes को Control कर सकते हैं.

आज हम आपको बताने जा रहें हैं एक ऐसा सरल सा उपयोग जिससे Diabetes के रोगियों को मधुमेह और मोटापे दोनों से ही मुक्ति मिल सकती है. इसके लिए आपको सिर्फ नारियल तेल की आवश्यकता है. आइये जानते हैं श्री बलबीर शेखावत जी के मुख वाक् से.

Diabetes type 2 के लिए मुख्यता दो रिस्क factor है.

  1. Obesity ( मोटापा)
  2. Insulin resistance

नारियल तेल का उपयोग obesity और insulin resistance को कम करता है. ऐसा इसमें पाए जाने वाले MCT (Medium Chain triglyceride) की वजह से होता है. आइये जानते हैं इनके बारे में.

नारियल तेल में मुख्यता तीन तरह के MCT  Fat पाई जाती है

  • Caprylic acid
  • Lauric acid
  • Capric acid

नारियल तेल में जो MCT(MIDIUM CHAIN TRIGLYCERIDE ) पाए जाते है उनके मुकाबले दुसरे तेल जैसे जैतून का  तेल, सरसों का तेल , SUNFLOWER oil में मुख्यता LCT ( LONG CHAIN TRIGLYCERIDE) पाए जाते है, LCT बॉडी में वसा के  रूप में स्टोर हो जाते है इस प्रकार LCT बॉडी में फैट को बढ़ाते है, जबकि MCT बॉडी में स्टोर न होकर जल्दी से एनर्जी बनाते है  इस प्रकार MCT मेटाबोलिज्म को बढाता है जिससे बॉडी में फैट कि कमी आ जाती है.

नारियल तेल में पाया जाने वाला capric acid भूख में भी कमी लाता है जो diabetes के एक मुख्य लक्षण polyphagia (अधिक भूख लगना )को कम करता है. नारियल तेल insulin resistance को कम करता है जो के मधुमेह रोगियों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं.

What is Insulin Resistance

Insulin resistance का अर्थ – Insulin हमारे blood में मोजूद ग्लूकोस को शरीर कि कोशिकाओ में लेकर जाता है.  वहा ग्लूकोस कोशिका के द्वारा इंधन के रूप में उर्जा प्रदान  करने के लिए उपयोग में लिया जाता है, जब शरीर कि कोशिका Insulin के प्रति resistant हो जाती है तो इस condition में चाहे जितना भी insulin रक्त में हो वो ग्लूकोस को कोशिका के अन्दर ले जाने में असफल रहता है और  blood में ग्लूकोस कि मात्रा बढ़ जाती है. और यही Diabetes का कारण बनता है.

MCT जो है ये Insulin resistant को कम करते है | नारियल तेल ग्लूकोस को कोशिका के अंदर ले जाने में सहायक है, इस तरह ये रक्त में  ग्लूकोस लेवल को कम करने में बेहद सहायक होता है. जिससे diabetes को आसानी से कण्ट्रोल किया जा सकता है.

कैसे करें इस्तेमाल – How to use Coconut Oil

खाने के लिए आप कोई बढ़िया Virgin, Extra Virgin, Cold Pressed नारियल तेल मिले तो बहुत ही बढ़िया है, इसको आप Cooking में इस्तेमाल कर सकते हैं. और इसको डायरेक्ट सेवन कर सकते है, या इसको सलाद पर लगा कर खा सकते हैं. कैसे भी करें, दिन में 15 से 20 मिली. तेल का सेवन मोटापे को दूर करने वाले और शुगर को दूर करने वालें लोगों को ज़रूर करना चाहिए.

खाने वाला कुकिंग आयल बहुत आसानी से मिल जाता है, जैसे आप घर में कोई बालों पर नारियल तेल लगातें हों तो उस पर लिखा रहेगा के Edible Oil जिसका अर्थ ही होता है खाद्य तेल. अर्थात इसको खाया जा सकता है. अगर Virgin या cold Pressed मिल जाए तो बेस्ट है नहीं तो ये ही इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिये.

इसके साथ Diabetes Control करने का घरेलु नुस्खा.

इसके साथ सुबह सुबह खाली पेट एक गिलास गिलोय का जूस पीजिये, इसके साथ 5 पत्ते सदाबहार के भी खाएं. इस से आपकी शुगर कुछ ही दिनों में कण्ट्रोल हो जाएगी. और हाँ सैर करना मत भूलिए.

Diabetes के साथ Heart की प्रॉब्लम.

जिन लोगों को डायबिटीज के साथ हार्ट की समस्या हो वो भी बे झिझक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, उनको तो इस से डबल फायदा मिलेगा, Saturated fat होते हुए भी नारियल तेल Bad Cholesterol LDL को कम करता है और Good Cholesterol HDL को बढाता है. ये OverAll कर Cholesterol Ratio को कम करता है.

विशेष – जो लोग पतले होने के लिए फैट खाना कम या बंद कर देतें हैं वो उनके लिए अत्यंत हानिकारक हो सकता है, क्यूंकि Vitamin A D E K ये शरीर में तभी काम कर पाएंगे जब शरीर में आवश्यक फैट होगी, अगर शरीर में फैट ही नहीं होगी तो ये vitamin शरीर में कोई काम नहीं कर पाएंगे और इनकी कमी के चलते दुसरे रोग भी आपको घेर लेंगे.  इसकी पूरी जानकारी हम अपनी अगली पोस्ट में देंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status