Tuesday , 24 October 2017
Home » Major Disease » हृदय » हृदय रोगियों के लिए वरदान है ये Ayurvedic Golden Milk – Only Ayurved.

हृदय रोगियों के लिए वरदान है ये Ayurvedic Golden Milk – Only Ayurved.

हृदय रोगियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है ये गोल्डन मिल्क। हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर, बैड कोलेस्ट्रॉल इत्यादि के लिए रामबाण है ये। आइये जानते हैं इसके बारे में।

Heart Patient ke liye Golden Milk, Heart ka gharelu ilaj, Home Remedy for heart disease, Home Remedy for blood pressure, home remedy for stroke, bad cholesterol ko kam karne ke gharelu tarike

 

Blood Vessels में Plaque के जमने से उत्पन्न हुए अवरोध को खोलने के लिए Golden Milk बेहद रामबाण है.  रक्त वाहिनियों में आई हुई रुकावट को हटाने के लिए Golden Milk का उपयोग विदेशों में बहुत ही सकारात्मकता से किया जा रहा है. और इसके बहुत ही खूबसूरत रिजल्ट भी मिल रहे हैं. तो आइये जाने Ayurvedic Golden Milk के बारे में. www.OnlyAyurved.com

Ayurvedic Golden Milk के फायदे.

  1. Golden milk पीने से Blood Vessels में आई हुयी सूजन को कम करता है.
  2. ये Anti Oxidant का काम करता है, जो हानिकारक Free Radicals से हमारी रक्त वाहिनियों को बचाता है. और LDL का Oxidation रोकता है, जिससे वो रक्त वाहिनियों में जमा नहीं हो पाता.
  3. ये शरीर के अन्दर की तरफ Platelate Aggregation को रोकता है, जिससे रक्त वाहिनियों में रक्त का थक्का अर्थात Clot बनने से रोकता है. जिससे रक्त का बहाव निरंतर बना रहता है. और इससे रक्त वाहिनियों में किसी प्रकार की रुकावट नहीं होती.
  4. Golden Milk बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL) को कम करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल (HDL) को बढाता है.
  5. Golden Milk हार्ट ब्लॉकेज को खोलने में भी बहुत अहम् है. इसके उपयोग से धमनियों में जमा हुयी फैट, बैड कोलेस्ट्रॉल, Internal Blood Clot और Plaque को कम करता है. इस प्रकार से ये हृदय रोगियों के लिए एक प्रकार का अमृत पेय है.
  6. जो लोग ब्लड प्रेशर की बीमारी से त्रस्त हैं, उनके लिए ये ड्रिंक रामबाण है. इसका निरंतर सेवन आपका हार्ट बिलकुल स्वस्थ हो जायेगा.
  7. Ayurvedic Golden Milk हृदय घात अर्थात Heart Attack और Stroke से बचाव के लिए बहुत ही लाभदायक है.
  8. इसका निरंतर सेवन आपको जोड़ों के दर्द से भी निजात दिलाता है.

अभी जानते हैं Ayurvedic Golden Milk को बनाने के लिए ज़रूरी सामान और इसको बनाने की विधि.

 

Ayurvedic Golden Milk के लिए ज़रूरी सामग्री.

  • हल्दी-पाउडर  – एक चम्मच (5 ग्राम)
  • दूध – 250 ग्राम (एक गिलास)
  • दालचीनी पाउडर (Cinnamon) – एक चुटकी
  • लहसुन – 2 कली
  • नारियल तेल – 1 चम्मच (5 ग्राम.)
  • शहद – गर्मी के मौसम में 1 चम्मच (5 ग्राम), सर्दियों में 2 चम्मच (10 ग्राम)

Ayurvedic Golden Milk बनाने की विधि.

इसको बनाने की विधि बेहद अहम् है, दूध को पहले ही छान लीजिये, इसको दोबारा नहीं छानना, अभी दूध को गर्म कीजिये, लहसुन को पहले कूट कर चटनी सी कर लीजिये, अभी दूध में दालचीनी और कूटे हुए लहसुन डाल दीजिये, ध्यान रहे के लहसुन साबुत नहीं डालने, इसको धीमी आंच पर गर्म कर लीजिये, गर्म होने के बाद इसको बिना छाने किसी कांच के गिलास में डाल लीजिये, इस में अभी हल्दी और शहद डाल कर ऊपर से नारियल तेल डाल दें और अच्छे से हिला कर मिक्स कर लीजिये. बस तैयार है आपका Ayurvedic Golden Milk.

नोट – लोगों के दिमाग में फैट और फैटी एसिड्स को लेकर भ्रम रहता है और वो सोचते हैं के नारियल तेल फैट को बढाता है, तो हम उनको बताना चाहेंगे के नारियल तेल फैट नहीं बढाता इसमें उपलब्ध फैटी एसिड्स होते हैं जो Good Cholesterol को बढ़ाते हैं. और Cholesterol Ratio को बढाते हैं. और इसके सेवन से मोटापा तक भी कम होता है. www.onlyayurved.com और डायबिटीज के रोगी जो ये सवाल पूछेंगे के हम इसमें शहद डालें या नहीं तो उनको बताना चाहूँगा के भाई आयुर्वेद में सदियों से शहद से भी मूत्र में शर्करा जाने का अर्थात डायबिटीज का इलाज किया जाता रहा है. आधुनिक चिकित्सा पद्धति के बारे में हम कुछ नहीं कहना चाहेंगे, अगर आपको किसी प्रकार का भय हो तो आप शहद मत डालिए.

Ayurvedic Golden Milk  हृदय के साथ साथ जोड़ों के दर्द में भी बेहद लाभकारी है. इसलिए इसका सेवन आपके लिए अमृत समान साबित होगा.

इसके 15 से 45 दिन तक के सेवन के बाद आपको आपकी अपेक्षाओं के अनुरूप नतीजें मिलेंगे. www.Onlyayurved.com

आपको हमारे द्वारा बताये गए घरेलु नुस्खों से क्या लाभ हुआ हमसे ज़रूर साझा कीजिये.

Heart ka gharelu ilaj, Home Remedy for heart disease, Home Remedy for blood pressure, home remedy for stroke, bad cholesterol ko kam karne ke gharelu tarike

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status