Saturday , 21 October 2017
Home » Health » ulcer » acidity » कमजोर याददाश्त की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें भद्रासन

कमजोर याददाश्त की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें भद्रासन

क्या आपको बार-बार बातों को भूलने की आदत है। चाहकर भी आप बातों को याद नहीं रख पाते। यदि आपके साथ भी यह समस्या है तो रोजाना कुछ समय अपनी भागदौड़ भरी दिनचर्या में से थोड़ा वक्त निकालकर भद्रासन करें। कमजोर याददाश्त की समस्या धीरे-धीरे खत्म हो जाएगी।

भद्रासन-भद्रासन के लिए नीचे दरी या चटाई बिछाकर उस पर घुटनों के बल खड़े हो जाएं। अब अपने दाएं पैर को घुटने से मोड़कर पीछे की ओर ले जाकर नितम्ब (हिप्स) के नीचे रखें। फिर बाएं पैर को भी घुटने से मोड़कर पीछे की ओर ले जाकर नितम्ब (हिप्प) के नीचे रखें। घुटनों को आपस में मिलाकर जमीन से सटाकर रखें तथा पंजे को नीचे व एड़ियों को ऊपर नितम्ब से सटाकर रखें। अब अपने पूरे शरीर का भार पंजे व एड़ियों पर डालकर बैठ जाएं। इसके बाद अपने दाएं हाथ से बाएं पैर के अंगूठे को पकड़ें और बाएं हाथ से दाएं पैर का अंगूठा पकड़ लें।
अब जालन्धर बंध लगाएं अर्थात सांस को अंदर खींच कर सिर को आगे झुकाकर कंठ मूल से सटाकर रखें और कंधे को ऊपर खींचते हुए आगे की ओर करें। अब नाक के अगले भाग को देखते हुए भद्रासन का अभ्यास करें। इस सामान्य स्थिति में जब तक रहना सम्भव हो रहें और फिर जालन्धर बंध हटाकर सिर को ऊपर करके सांस बाहर छोड़ें। पुन: सांस को अंदर खींचकर जालन्धर बंध लगाएं और भद्रासन का अभ्यास करें।

लाभ-इस आसन से शरीर फूर्तिला और फिट रहता है। दिमाग तेज चलता है। कल्पनाशक्ति का भी विकास होता है। चंचलता कम होती है। पाचन शक्ति बढ़ती है। स्नायु तंत्र मजबूत होता है। कमर का दर्द, सिर दर्द, अनिद्रा, दमा, बवासीर, उल्टी, हिचकी, अतिसार,आंखों की बीमारियां आदि असंख्य रोगों में इस आसन से लाभ होता है।

कमजोर याददाश्त से छुटकारा चाहिए तो अपनाएं ये तरीका

bhadrasana

इस जानकारी को अपने स्नेह्जनो तक पहुचाने के लिए कृपया शेयर जरुर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status