Sunday , 15 December 2019
Home » Baljeet Singh

Baljeet Singh

त्वचा को निखारने के लिए मुल्तानी मिटी का लेप

त्वचा को निखारने के लिए मुल्तानी मिटी का लेप  पुराने समय से ही मुलताई मिट्टी का लेप सौंदर्य और बालों के लिए किया जा रहा है। पर आजकल इसका इस्तमाल पहले से बहुत कम हो गया है। कहि न कहि इसकी वजा लोगों में कम जागरूकता है। पर आज हम आपको इसके फायदे और प्रयोग विधि के बारे में बताने जा …

Read More »

कान को निरोग बनाए रखने के लिए

कान के रोगों से बचने के लिए आएं जाने एक ऐसी आसान सी विधि जो की आपके कान क लिए है बहोत ही फायदेमंद है, जिसके करने से  आप अपने कानो को स्वस्थ बनाए रख सकते है। सप्ताह में एक बार भी इसका प्रयोग करें तो आपके के कान में कभी तकलीफ नहीं होगी। विधि भोजन करने से पहले कान …

Read More »

मस्तिषिक शक्तिवर्षक प्रयोग

मस्तिषिक शक्तिवर्षक प्रयोग To Increase Brain Power  यह बात तो हम सब लोग जानते है, की आज की पीढ़ी के लोगो की दिमागी ताकत काफी कम है, पहले के लोगो के मुकाबले जैसा के यादाश्त कम होना, जल्दी ही मानसिक थकावट महसूस करना आदि। इसलिए आज हम आपके लिए आयुर्वेदिक घरेलू और आसान सा नुस्खा ले के आएं है, जिसके …

Read More »

शिशुओं को निरोग बनाने वाला ‘हरड़ का घासा’

शिशुओं को निरोग बनाने वाला ‘हरड़ का घासा’ ये तो हम लोग बली भांति जानते ही है के शिशु कमजोर और जल्दी ही किसी बी बीमारी शिकार हो जाने वाले होते हैं। इसी खतरे से बचाये रखने के लिए आज हम आपको एक घरेलू आयुर्वेदिक उपचार बताने जा रहे है, जो की हरड के घसे के बारे में  है, जिसके …

Read More »

एक्यूप्रेशर द्वारा मिरगी का उपचार

मिरगी के रोग को हमेशा के लिए दूर करने के लिए मस्तिष्क स्नायुस्थान, ह्रदय, जिगर, आमाशय तथा अंतड़ियों के प्रतिबिम्ब केन्द्रो पर प्रेशर देना चाहिए। इसके अतिरिक्त पेट के आठ केन्द्रो पर प्रेशर देने से यह रोग दूर करने में सहायता मिलती है। गर्दन, पीठ की रीड की हड्डी के दोनों तरफ प्रेशर देना भी इस रोग में बहुत लाभदायक …

Read More »

नेत्र-विकारों से बचाव के लिए

नेत्र-विकारों से बचाव के लिए अगर आप चाहते हो की आप नेत्र विकारों से बच्चे रहे तो कीजिये एक आसान सा निचे दिया गया प्रयोग और अगर आपकी दृष्टि कम है और आप चस्मा लगते हो तो भी इस प्रयोग को निरन्तर करते रहने से आप बिना चस्मे के देखने के लायक हो जायोगे। विधि  सुबह दांत साफ करके, मुंह …

Read More »

अनेक रोगों की एक दवा-जल चिकित्सा पध्दति – Water therapy

Water Therapy

अनेक रोगों की एक दवा-जल चिकित्सा पध्दति – Water therapy Water Therapy – जापान के ‘सिकनेस एसोसिएशन’ द्वारा प्रकाशित एक लेख में इस बात की पुष्टि की गई है की यदि ढंग से पानी का प्रयोग किया जाये तो कई पुराणी तथा नई बीमारियां दूर हो जाती है। जैसे सिरदर्द, उच्च रक्तचाप, मोटापा, मधुमेह, खून की कमी, जोड़ों के दर्द, …

Read More »

थायरायड के बचाव में आयुर्वेदिक, प्रणायाम और एक्यूप्रेशर संबन्धी उपाए।

थायरायड Thyroid के बचाव में आयुर्वेदिक, प्रणायाम और एक्यूप्रेशर संबन्धी उपाए। थायरायड ग्रंथि में विकार आने से और ठीक से काम न करने से थारायड की बीमारी होती है। थायरायड एक अंत: स्रावी ग्रंथि है और सभी मनुष्यों के गले के भीतर मध्यभाग में स्वसंलि के दोनों तरफ इसका एक-एक खंड स्थित रहता है। थायरायड ग्रंथि से थायरोकिसन नमक हार्मोन्स …

Read More »

हल्दी के फायदे और गुण

हल्दी(Turmeric ) के फायदे और गुण हल्दी को आयुर्वेद में प्राचीन काल से ही एक चमत्कारिक द्रव्य के रूप में मान्यता प्राप्त है। औषधि ग्रंथों में इसे हल्दी के अतिरिक्त हरिद्रा, कुरकुमा लौंगा, वरवर्णिनी, गौरी, क्रिमिघ्ना योशितप्रीया, हट्टविलासनी, हरदल, कुमकुम, टर्मरिक नाम दिए गए हैं। आयुर्वेद में हल्‍दी को एक महत्‍वपूर्ण औषधि‍ कहा गया है। भारतीय रसोई में इसका महत्वपूर्ण …

Read More »

केले के अनजाने उपयोग

केले के अनजाने उपयोग केले के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के बारे में हम सभी जानते हैं, लेकिन केले के बहुत सारे ऐसे फायदे भी हैं जिनसे हम अनजान हैं। केला न केवल हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा होता है बल्कि इससे आप अपनी त्‍वचा, बालों और बहुत सारे घरेलू कामों में भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आइए इस स्‍लाइड शो के …

Read More »
DMCA.com Protection Status