Wednesday , 4 August 2021
Home » Health » leucoderma - vitiligo - psoraisis » Safed Daag ka ilaj – सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज –
safed daag ka ilaj

Safed Daag ka ilaj – सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज –

Safed Daag ka ilaj, safed daag ka ayurvedic ilaj, Vertigo in hindi, Only Ayurved Vitiligo treatment, safed dag ka ilaj, Vertigo in hindi

आइये जाने Vertigo in hindi – सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज – Safed Daag ka ilaj

Safed daag ka ilaj – प्रिय मित्रो आज हम ओनली आयुर्वेद में आपको बता रहें हैं सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज. और इस प्रयोग में विशेष बात ये है के अगर इस प्रयोग से आपको आराम आना होगा तो ये 15 दिन में अपना असर दिखा देगा. तो आइये जाने बेहद सरल ये रामबाण प्रयोग. Vertigo in hindi

safed daag me parhej

safed daag ka ilaj – सबसे पहले ओनली आयुर्वेद में हम आपसे एक बात कहना चाहेंगे के ये प्रयोग करते समय आपको नमक, मिर्ची, तला हुआ, मांस, मछली, शराब, धुम्रपान बिलकुल बंद करना होगा. अगर आप ये काम कर सको तो ही इस प्रयोग को शुरू करें. और इस प्रयोग को करते समय इसके साथ में आपको कोई अच्छा सा झंडू का या बैद्यनाथ का ब्लड Purifier भी पीना होगा.

safed daag ka ilaj – इस प्रयोग की सफलता के लिए बेहद उपयोगी है सुबह एक गिलास लौकी का जूस इसको आप 11 पत्ते तुलसी और 11 पत्ते पोदीने के डाल कर बनाये. और इसको नित्य 15 दिन तक पीना है. आइये अब जानते हैं – सफ़ेद दाग का इलाज

Safed Daag ka ilaj – सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज – Vertigo in hindi

इस प्रयोग के लिए आवश्यक सामग्री.

बावची – 50 ग्राम.

नारियल का तेल – 100 मि.ली.

नौशादर – 25 ग्राम.

इस प्रयोग को बनाने की विधि.

सबसे पहले बावची को कूट पीसकर महीन चूर्ण बना लीजिये. और नारियल तेल में नौशादर मिला लीजिये.

safed daag ka ilaj – प्रयोग करने की विधि.

सफ़ेद दाग का इलाज – प्रथम सप्ताह.

सबसे पहेल रात को 2 ग्राम चूर्ण को पानी में भिगो कर रख दीजिये. बावची के ताज़ा चूर्ण को 2 ग्राम. हर रोज़ सुबह पानी के साथ नाश्ते के एक घंटे के बाद फांक लीजिये. इसके बाद में नौशादर वाले तेल को दाग वाली जगह पर लगायें. और इसी तेल वाली जगह पर रात को भिगोया हुआ बावची का चूर्ण लगा दें. यह काम प्रातः काल सुबह एक हफ्ते तक करें. Safed Daag ka ilaj

सफ़ेद दाग का इलाज – दूसरा सप्ताह.

दुसरे सप्ताह में यह चूर्ण दो दो ग्राम सुबह शाम खाएं अर्थात दिन में दो बार. तेल और चूर्ण सिर्फ प्रातः काल लगायें अर्थात दिन में एक बार. Safed Daag ka ilaj

Safed Daag ka ilaj – विशेष:-

यदि 15 दिन अर्थात दो सप्ताह के अन्दर सफ़ेद दागों पर बारीक बारीक बिंदियाँ ना बनें तो समझ लें की लाभ नहीं होगा. फिर यह प्रयोग बंद कर दें. और यदि बिंदियाँ बनती हैं तो वे धीरे धीरे बड़ी होती जाएँगी और सफ़ेद दाग हमेशा के लिए गायब हो जायेगा. यदि कोई हानि, उपद्रव या परेशानी ना हो तो इस प्रयोग को जारी रखें.

Safed Daag ka ilaj – नोट:-

होंठ, पलक, हथेली, तलवे और गुप्तांगों के लिए यह दवा प्रायः ठीक नहीं होती. प्रयोग की यह मात्रा दस वर्ष की आयु से अधिक उम्र वालों के लिए है. इस से कम उम्र वाले को आधा अर्थात एक ग्राम चूर्ण दें. और तेल और बावची का भीगा हुआ चूर्ण सफ़ेद दाग पर ही लगाना है, आसपास की त्वचा पर नहीं.

सफ़ेद दाग में परहेज और क्या खाएं.

सफ़ेद दाग में खान पान पर बहुत ध्यान देना पड़ता है. खटाई तो हर हाल में बंद होनी चाहिए.ऐसे में आप ये निमिन्लिखित चीजों का सेवन कर सकते हैं.

  • अंगूर, मुनक्का
  • आंवला
  • गेंहू के जवारे का रस
  • पत्ता गोभी, लौकी, गाजर
  • सेब, शहतूत
  • सभी प्रकार की Berries
  • लौंग
  • दालचीनी
  • जीरा
  • अजवायन
  • अदरक
  • तुलसी
  • हल्दी
  • गौ मूत्र सिर्फ देसी गाय का जो गर्भवती ना हो.
  • सभी प्रकार के ड्राई फ्रूट्स
  • Olive Oil, Almond Oil

सफ़ेद दाग का रामबाण इलाज –  व्र्ह्त मंजिष्ठादी क्वाथ और ब्रंह मरिचादी तेल

आज हम Only Ayurved  में आप को बताने जा रहे है एक ऐसे काढ़े के बारे में  जिस के निरंतर  3 से 6 महीने सेवन करने से 18 प्रकार के भयंकर चर्म रोग जैसे सफ़ेद दाग, सोराइसिस , कोढ़ , पामा, विचर्चिका, कंडू, दाद, विस्फोटक, वलिपलित, छाया, नीलिका और व्यंग जैस रोगों में लगाने मात्र से आराम आता है और 80 प्रकार के वात रोग जैसे आमवात, जोड़ो का दर्द, सुजन, जोड़ो में पानी भरना, हाथ पैरो में अकडन, जोड़ो का टेढ़ा मेढ़ा होना, शारीर के अंगो की आकृति बिगड़ जाना, यूरिक एसिड बढ़ना, गाउट, सायटिका , गर्दन और कमर में दर्द , एवं शरीर की सभी मांशपेशियों में दर्द , वातरक्त , कोढ़ उपदंश रोग, आतशक, श्लीपद ,हाथी पांव, अंग सुन्यता, पक्षाघात एकांगवात, फालिज, मेद रोग, और नेत्र रोग इत्यादि 80 प्रकार के वात रोग को भी निरंतर 3 से 6 महीने लगातार अर्क पीने और तेल लगाने से नष्ट हो हो सकते है साथ  ही शारीर भी वायु के समान वेग वाला हो जाता है.

skin Reviver Ark

मंजीठ, नागर मोथा, कूड़े की छाल या जड़, गिलोय, मीठाकूट,सौठ,  भारंगी कटेरी का पंचांग, बच, नीम की छाल, हल्दी, दारुहल्दी, हरड़, बहेड़ा, आंवला, परवल के पत्ते, कुटकी मुरवा , बायबिडंग, विजयसार, चीते की चाल, शतावर, त्रायमान, छोटी पीपल इंदर जौ, अडूसे के पत्ते, भांगरा, देवदारु, पाढ, खैरसार, लाल चंदन, निशोथ, बरना की छाल, चीरायत बावची, अमलतास का गूदा, संहोड़ा की छाल, बकायन, कंजा, अतीस, नेत्रबाला, इंद्रायण की जड़, धमासा सरिवा और पित्त-पापड़ा इन 25 दवाओं को बराबर बराबर लेकर पीस कूट कर रख लो इसमें से 2 तोले दवा लेकर डेढ़ पाव जल में काढा बनाओ और चौथाई पानी रहने पर छान लो.

इस काढ़े में दो माशे पीपर का चूरन और दो माशे शुद्ध गूगल मिला कर पी लीजिये . इस तरह लगातार एक से तीन महीने पीने से वातरक्त 18 प्रकार के कोढ़, उपदंश रोग, आतशक, श्लीपद ,हाथी पांव, अंग सुन्यता, पक्षाघात एकांगवात, फालिज, मेद रोग, और नेत्र रोग नष्ट हो जाते है यदि इन दवाओ में कचनार के छाल, बबूल की छाल, सालसे की लकड़ी  सरफोंका ये र दवाए मिला ली जाय तो तब तो कहना ही क्या .इस अर्क को शुद्ध शहद या शरबत उन्नाव छह छह ग्राम मिला ली जाय तो यह और भी जल्दी आराम करता है . इस अर्क को 15-15 ml सुबह शाम लेना है अगर शुद्ध शहद या शरबत उन्नाव नहीं है तो एक कप सादा पानी में भी ले सकते है .

इस अर्क को शुद्ध शहद या शरबत उन्नाव छह छह ग्राम मिला कर पिने से अनेक कष्ट साध्य और वैधो के त्यागे हुए रोगियों को भी आराम मिलता है . जिन के शरीर को देखने से भी घृणा होती है , जिन्हें कोई पास भी बैठने नहीं देता है वे सब इस अर्क और तेल के इस्तेमाल से स्वर्ण की सी कान्ति वाले हो सकते है . ध्यान रहे आप को इस का इस्तेमाल करते समय धर्य रखना बोहोत जरुरी है परिणाम आप को अवश्य मिलेंगे पर जो इसे बीच में ही छोड़ देंगे उन्हें लाभ मिलेगा कह नहीं सकते है .

skin reviver, skin reviver ark, skin reviver oil, स्किन रीवाइवर तेल, स्किन रीवाइवर अर्क, ब्रह्मंजीस्ठादी क्वाथ, ब्रह्मंजीस्ठादी तेल, वात रोग का इलाज, कोढ़ का इलाज , सफेद दाग का इलाज, लकवा का इलाज, मोटापा का इलाज, नेत्र रोगों का इलाज, सोराइसिस का इलाज , कोढ़ का इलाज, पामा का इलाज, विचर्चिका का इलाज, कंडू का इलाज, दाद का इलाज, विस्फोटक का इलाज, वलिपलित का इलाज, छाया का इलाज, नीलिका का इलाज, व्यंग का इलाज

आपके नजदीकी Only Ayurved Dealer list और उनकी Location

बिहार

पटना – 7677551854

गोपालगंज – 9431059379

गया (इमामगंज) – 9771898989

मधेपुरा – 9546552233

छत्तीसगढ़

चिरमिरी – 9131984372

बिलासपुर – 9584891808, 9926758959, 9300333438

रायपुर – 9300333438

दुर्ग भिलाई – 9691305217

कोरबा- 7067030160

झारखण्ड

मनिका – लातेहार – 9801290105

धनबाद – 7004458228

ओड़िसा

बारीपदा – 9692801437

महाराष्ट्र

मालेगांव (नासिक) – डॉ. फरीद शेख 9860785490

धुले – 8999909029

नासिक – 9270928077

गोंदे नासिक – 7666061396

पुणे – 9209211786

अहमद नगर – राओरी – 8605606664

कल्याण – 8454050864

कौन गाँव – 9321257946

मलाड – 9967293444

भंडारा – 9422174853

औरंगाबाद – 7020505445

जालना – 7020505445

तामिलनाडू

चेन्नई – 9884164854

गुजरात

अहमदाबाद – 9974019763,

पालनपुर ( डॉ. हिदायत मेमन )  –  9428371583

द्वारिका – 9033790000

चिकली – 9427869061

अंकलेश्वर – भरूच – 8460090090

वड़ोदरा – 7574857452

राजकोट – 7984243655

सूरत –  8866181846, 9879157588

जामनगर – 9974199748

मध्यप्रदेश

भोपाल – 9827455290

छिंदवाडा – 7879128011

इंदौर – 9713500239

सिरपुर इंदोर – 9977893736

अनूपपुर  – राजनगर कोलियरी  – 9302375790

जबलपुर – 9039868554

ग्वालियर – 9229239248

उत्तर प्रदेश

मेरठ – 8449471767

सहारनपुर -9760117040

हापुड़ – 9528777776

हाथरस ( U. P. ) –  9997397043, 7017840020

मथुरा ( वैध रविकांत जी ) – 9259883028

फ़िरोज़ाबाद – 8445222786

रायबरेली – 9236038215

गोरखपुर – 9792960999

महाराजगंज – 9455426806

लखनऊ – 9140546350

लखनऊ आयुष चिकित्सालय –  7071332332

इटावा – 9557463131 डॉ. कौशलेन्द्र सिंह

उत्तराखंड

देहरादून – 9760117040

दिल्ली –  NCR

सराय कालें खां –  9015439622, 9871490307

गाज़ियाबाद – 9719077555

Greater Noida – 9310299100

गुडगाँव – 9310330050

फ़रीदाबाद – 9315154682

हरियाणा

फ़रीदाबाद – 9315154682

डबवाली – 9416218182

करनाल – 8396007444

पंजाब

बठिंडा – 9779566697

डबवाली – 9416218182

मलोट – 9878100518

मुक्तसर – 8054652839

मलेर कोटला – 9872439723

लुधियाणा – 9803772304

जालंधर – 9814832828

अमृतसर – 8872295800

होशियारपुर उड़मुड टांडा – 9803208718

मोहाली – 09216411342

चंडीगढ़ – 9779566697

राजस्थान

जयपुर – 9462633257

जोधपुर – 8005724956

बाड़मेर – 9799436645

सिरोही – 9875238595

उदयपुर – 9875238595

 

हिमाचल प्रदेश

नालागढ़ – 9816022153

चिन्तपुरणी – 9816414561

अगर आप Only Ayurved के साथ मिलकर ये काम करना चाहते हैं तो संपर्क कीजिये

उत्तर प्रदेश 7017840020

महाराष्ट्र – 9860785490

गुजरात – 8866181846

बिहार – 7677551854

हरियाणा – 9315154682

पंजाब – 9779566697

मध्य प्रदेश – 7987552689

छत्तीसगढ़ – 9300333438

अन्य राज्यों के लिए संपर्क करें. 7014016190

13 comments

  1. Next page nahi khulta hai, next par click he nahi hota hai.

  2. Psorisis ke liye kya upchar hai

  3. 9657349564
    Plz given medicine leucoderma.

  4. Me nemichand choudhary me mera weight badana chathata hu so WO upay btana OK thanks

  5. pimple me liye kya ilaj hai .mere chehre per bhahut he jyada pimle nikal aaye hain or dard bhi kar rage hai

  6. बावची और नौसादर कहा मिलेगे

  7. Your suggestion is very mostly purifier

  8. हमारे एक मित्र को सफ़ेद दाग है. क्या वो ठीक हो सकता है इस फोर्मुले से ?

  9. Good evening sir, plz. Tell me that hartal ka tail (oil) kahan milega. Thanks.

    • हरताल का तेल बनाना पड़ेगा.. इसकी विधि ऊपर बता दी गयी है.

  10. Can I get this medicine in Nepal ?

    • जी मिल जाएगी, आप हमारे उत्तर प्रदेश के महाराजगंज वाले डीलर से संपर्क कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status