Thursday , 21 June 2018
Home » Major Disease

Major Disease

कैंसर किलर VITAMIN B17 In Hindi full detail- Natural Sources of vitamin B17

vitamin b17 in hindi

Vitamin b17 natural sources –  VITAMIN B17 In Hindi – Natural Sources of vitamin B17 सन 1950 में Krebs नामक वैज्ञानी ने Vitamin B17 का Medically इस्तेमाल किया था, और इसके बेहद आश्चर्यजनक परिणाम मिले. इसको सन 1980 तक इस पद्धति का इस्तेमाल होता रहा और इसका सफलता अनुपात 90 प्रतिशत से ज्यादा रहा. इसका उल्लेख डॉक्टर Haroid. W. Manner ने अपनी …

Read More »

पेट और गैस से जुडी सैकड़ो बीमारियों से बचा सकता है – Gastro Sanjeevni

एक स्वस्थ वयस्क इन्सान की सिर्फ आंत में ही करीब 100 खरब बैक्टीरिया पाए जाते हैं. ये अलग-अलग किस्म के होते हैं और उनके हितों के बीच टकराव पैदा होने से बीमारियां उपजती हैं. Gastro Sanjeevni पिछले दो दशकों में हुई रिसर्च से पता चला है कि पूरी तरह स्वस्थ रहने के लिए आंतों का स्वस्थ रहना कितना जरूरी है. आंतों …

Read More »

‘हाथीपाँव’, श्लीपद या फीलपाँव ( lymphatic filariasis ) का इलाज

120 मिलियन से अधिक व्‍यक्ति lymphatic filariasis से संक्रमित है। 73 देशों में लगभग 1.4 बिलियन व्‍यक्तियों पर बीमारी का खतरा मडरा रहा है। अफ्रीका तथा एशिया के क्षेत्र में यह आम हैं। इस बीमारी के कारण, एक वर्ष में कई बिलियन डॉलर का आर्थिक नुकसान होता है।  ‘हाथीपाँव‘, श्लीपद या फीलपाँव (Elephantiasis) के रोगी के पाँव फूलकर हाथी के पाँव के समान मोटे हो जाते हैं। …

Read More »

दिन में चार चमच और कैंसर हो सकता है बिलकुल सही ! रूस के मशहूर वैज्ञानिक ने बनाई एक शक्तिशाली औषधि.!!

दुनिया भर के अरबों लोग कैंसर से पीड़ित हैं, आज के  समय की यह सबसे घातक बीमारी है। लेकिन कुछ लोगों का दावा है कि यह रूसी वैज्ञानिक Hristo Mermerski द्वारा की खोजे  एक प्राकृतिक उपचार से ठीक किया जा सकता है। रूस के एक वैज्ञानिक  Hristo Mermerski ने घर में बनाई जाने वाली एक इसी औषधि इजाद की है …

Read More »

बड़ी से बड़ी पथरी का इलाज पहला पाषाणभिन्न रस दूसरा पाषाणवज्र रस और तीसरा वरना की छाल

पथरी होने के कारण व प्रकार पथरी चार प्रकार की होती है एवं इसी आधार पर इस का इलाज किया जाता है बिना इस का प्रकार जाने इसे निकलना मुश्किल है 1 वात से होने वाली पथरी  2. पित्त से होने वाली पथरी 3. कफ से होने वाली पथरी 4. शुक्र धातु अर्थात वीर्य से होने वाली पथरी वीर्य से …

Read More »

ब्लड प्रेशर, कैंसर, डायबिटीज और आंखों के लिए फायदेमंद है कद्दू का सेवन

कद्दू एक स्वादिष्ट फल है जिसका प्रयोग हम लोग सब्जी, हलवा, खीर, रायता, अचार, सांभर आदि बनाने में करते हैं। इसे कुम्हड़ा या काशीफल भी कहते हैं। कद्दू का फल बड़ा और मोटा होता है साथ ही इसका आकार गोल-मटोल होता है इसलिए मजाक में कई बार लोग बड़े पेट वाले व्यक्ति की तुलना कद्दू से कर देते हैं या …

Read More »

किडनी की सुजन Kidney inflammation के लक्षण , पहचान , परहेज और आसान घरेलू नुस्खे

पहचान : पेशाब करते समय दर्द महसूस होता है, कभी-कभी पेशाब रुक-रुककर आने लगता है पीठ में दर्द एवं बेचैनी होती है, मूत्र से तीव्र दुर्गंध आती है, पेशाब द्वारा तरह-तरह के पदार्थ निकलने लगते हैं, ऐसे में सिर दर्द, मन न लगना, व्याकुलता, बदन में दर्द आदि लक्षण भी प्रकट होते हैं. परिचय : कभी-कभी गुर्दे में खराबी के कारण गुर्दे (वृक्क) अपने सामान्य …

Read More »

यह नुस्खा गाल ब्लैडर स्टोन और किडनी स्टोन को मात्र 5 से 7 दिन में निकाल सकता है !

gall bladder stone treatment in hindi आयुर्वेद का एक ऐसा चमत्कार जिसे देखकर एलॉपथी डॉक्टर्स ने दांतों तले अंगुलियाँ चबा ली. जो डॉक्टर्स कहते थे के गाल ब्लैडर स्टोन अर्थात पित्त की थैली की पथरी निकल ही नहीं सकता, उनकी जुबान हलक से  नीचे  पेट में गिर गयी. सिर्फ एक नहीं अनेक मरीजों पर सफलता से आजमाया हुआ ये प्रयोग. …

Read More »

पुनर्नवा जो कैन्सर के मरीज़ों के लिए आयुर्वेद जगत की अद्भुत औषधि है !!

पुनर्नवा जो कैन्सर के मरीज़ों के लिए आयुर्वेद जगत की अद्भुत औषधि है क्यूँकि ये नयी कोशिकाएँ बनाती है पुनर्नवा जो कि पहले गाँवों में बहुत आसानी से मिल जाती थी पर अब यह इतनी आसानी से नहीं मिल पाती है ! पुनर्नवा में भी सिर्फ एक प्रजाति विशेष फायदेमंद है ! इस औषधि का नाम पुनर्नवा इसलिए ऋषियों ने …

Read More »

किशमिश और कॉफ़ी का ये प्रयोग लौ ब्लड प्रेशर की समस्या में है अचूक Low B.P Cure

किशमिश का ये प्रयोग लौ ब्लड प्रेशर की समस्या में है अचूक Low Blood Pressure लौ ब्लड प्रेशर या कहे बी पी लौ की समस्या तब होती है जब हमारे शरीर में रक्त का परवाह सामान्य स्तर से कम होता है अगर इस समस्या का सही समय पर समाधान न किया जाये तो इसका प्रभाव शरीर के दूसरे अंग पर …

Read More »
DMCA.com Protection Status