Tuesday , 9 August 2022
Home » Search Results for: arthritis joint pain (page 3)

Search Results for: arthritis joint pain

Dioscorea वाराहीकंद – किडनी कैंसर नासूर पौरुष रोगों और बुढापे का काल जिमीकंद

वाराहीकंद, varahi kand ke fayde, वराहीकंद के फायदे, सूरन के फायदे, Dioscorea in hindi

वाराहीकंद एक अनमोल सब्जी – benefit of dioscorea in hindi Dioscorea in hindi – वाराहीकंद जिसको उत्तर भारत में जिमीकंद और अन्य भाषाओँ में चमालू, पीता आलू, सूरन, रतालू, इत्यादि नामों से जाना जाता है, इसका उपयोग सब्जी बनाने में किया जाता है. इसकी सब्जी तो लाजवाब बनती ही है, इसके साथ में इसके गुण इस सब्जी को और भी …

Read More »

‘हाथीपाँव’, श्लीपद या फीलपाँव ( lymphatic filariasis ) का इलाज

120 मिलियन से अधिक व्‍यक्ति lymphatic filariasis से संक्रमित है। 73 देशों में लगभग 1.4 बिलियन व्‍यक्तियों पर बीमारी का खतरा मडरा रहा है। अफ्रीका तथा एशिया के क्षेत्र में यह आम हैं। इस बीमारी के कारण, एक वर्ष में कई बिलियन डॉलर का आर्थिक नुकसान होता है।  ‘हाथीपाँव‘, श्लीपद या फीलपाँव (Elephantiasis) के रोगी के पाँव फूलकर हाथी के पाँव के समान मोटे हो जाते हैं। …

Read More »

स्वस्थ, दमदार और दुरुस्त जिन्दगी के लिए बस हर रोज़ एक ..

हम आपको अरब देशों में प्रचलित ऐसे प्रसिद्ध उपाय के बारे में बताएँगे हर किसी के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद है। ये चमत्कारी उपाय छुहारा और दूध का मिश्रण है। इसके फ़ायदे जानने से पहले हम छुहारो के बारे में कुछ महत्तवपूर्ण जानकारी बताएँगे। छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन है। इन दोनों की तासीर गर्म होती है …

Read More »

ब्लड प्रेशर, कैंसर, डायबिटीज और आंखों के लिए फायदेमंद है कद्दू का सेवन

कद्दू एक स्वादिष्ट फल है जिसका प्रयोग हम लोग सब्जी, हलवा, खीर, रायता, अचार, सांभर आदि बनाने में करते हैं। इसे कुम्हड़ा या काशीफल भी कहते हैं। कद्दू का फल बड़ा और मोटा होता है साथ ही इसका आकार गोल-मटोल होता है इसलिए मजाक में कई बार लोग बड़े पेट वाले व्यक्ति की तुलना कद्दू से कर देते हैं या …

Read More »

अनेको रोगों से मुक्त होने का अचूक चमत्कारिक चूर्ण !!

अनेको रोगों से मुक्त होने के लिए चमत्कारिक चूर्ण: इस चूर्ण को नित्य लेने से शरीर के कोने -कोने में जमा पड़ी सभी गंदगी (कचरा )मल और पेशाब द्वारा निकलजाता है ,फ़ालतू चर्बी गल जाती है ,चमड़ी की झुर्रियां अपने आप दूर हो जाती है ,और शरीर तेजस्वी और फुर्तीला होजाता है । आइये जाने इसको बनाने की और सेवन विधि। आवश्यक …

Read More »

गठिया,बवासीर,मिर्गी दमा, दांत कण रोग और साइटिका का रामबाण इलाज कायफल !!

आज हम आपको ऐसे चमत्कारी पौधे की छाल के बारे में बताएँगे जिसे कायफल कहते है, औषधियों के लिए लाल कायफल अधिक उपयोगी होता है। पेड़ की छाल को ही कायफल कहते है और यह ही औषधियों के रूप में प्रयोग की जाती है। गठिया, कमर दर्द, जोड़ो का दर्द, और साइटिका कायफल का रस स्वाद में कडुवा, तीखा व …

Read More »

किडनी की सुजन Kidney inflammation के लक्षण , पहचान , परहेज और आसान घरेलू नुस्खे

पहचान : पेशाब करते समय दर्द महसूस होता है, कभी-कभी पेशाब रुक-रुककर आने लगता है पीठ में दर्द एवं बेचैनी होती है, मूत्र से तीव्र दुर्गंध आती है, पेशाब द्वारा तरह-तरह के पदार्थ निकलने लगते हैं, ऐसे में सिर दर्द, मन न लगना, व्याकुलता, बदन में दर्द आदि लक्षण भी प्रकट होते हैं. परिचय : कभी-कभी गुर्दे में खराबी के कारण गुर्दे (वृक्क) अपने सामान्य …

Read More »

सेब के सिरके ( Apple Cider Vinegar ) से मस्सो (Warts ) का आसन घरेलु इलाज !!

अगर आप या आपके किसी परिचित को मस्से की शिकायत हो तो ये प्रयोग आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है आपने अक्सर देखा होगा के कुछ लोगों के हाथों-पैरों, चेहरे या शरीर के किसी भी हिस्से में दानेदार छोटा सा उभार सा होता है . इसे हम मस्से या Warts कहते हैं. ये मस्से बहुत ही जिद्दी और …

Read More »

रोज सुबह चुटकी भर चूर्ण से बनी चाय अनेको बीमारियों को दूर कर देगी जानिए कैसे …!!

रोज सुबह चुटकी भर चूर्ण से बनी चाय आपको कर देगी अनेको बीमारियों से दूर कर देगी जानिए कैसे ….!! Drumstick leaves,Moringa Sahjan ki pattiyon ke upyog faayde laabh दोस्तों आज हम आपके लिए जो टॉपिक लाये है वो ऐसी चाय के बारे में है जिसको पीने से आप कई बीमारियों से मुकत हो जाओगे |रोज सुबह चुटकी भर चूर्ण …

Read More »

बिच्छू घास (Nettle) से कमजोरी,पित्त दोष,गठिया, मोच, जकड़न और मलेरिया जैसी कई बीमारी का इलाज !!

बिच्छू घास को अंग्रेजी में नेटल (Nettle ) कहा जाता है. इसका बॉटनिकल नाम अर्टिका डाइओका ( Urtica dioica) है. कुमाऊंनी में इसे सिसूण कहते हैं. वह विशुद्ध कुमाऊंनी शब्द है. बिच्छू घास उत्तराखंड और मध्य हिमालय क्षेत्र में होती है. यह घास मैदानी इलाकों में नहीं होती. बिच्छू घास में पतले कांटे होते हैं. यदि किसी को छू जाये …

Read More »
DMCA.com Protection Status