Thursday , 21 February 2019
Home » admin

admin

मौत के मुंह में गए हुए कैंसर के रोगियों में जीवन की आस जगा रहा है Only Ayurved

only ayurved cancer ka ilaj

कैंसर का आयुर्वेदिक इलाज – मौत के मुंह से वापिस आना – कैंसर से बचाव – Only Ayurved Cancer ka ilaj नमस्कार दोस्तों, आज का विषय है कैंसर, कैंसर जिसका नाम सुनते ही व्यक्ति सिहर उठता है और अपने दिन गिनने शुरू कर देता है, ऐसे में महंगे महंगे इलाज और इस के मौजूदा इलाज के साइड इफ़ेक्ट जीवन को …

Read More »

क्यों है जरूरी विटामिन बी-12

विटामिन बी काम्प्लेक्स में तीन प्रकार के विटामिन होते हैं थाइमिन राइबोफ्लेविन और निकोटिनिक एसिड। इसकी कमी का प्रभाव डॉक्टर जीभ देख कर बता देते हैं। शरीर के लिये जरूरी पोषक तत्वों में से एक है। शरीर को सुचारु रूप से चलाने में विटामिन्स और माइक्रोन्यूट्रीएंट्स बहुत जरूरी होते हैं, पर विटामिन बी एक ऐसा तत्व है, जो मस्तिष्क और तंत्रिका …

Read More »

पलाश के फूलों द्वारा उपचा

पलाश के फूलों द्वारा उपचारः 1.महिलाओं के मासिक धर्म में अथवा पेशाब में रूकावट हो तो फूलों को उबालकर पुल्टिस बना के पेड़ू पर बाँधें। अण्डकोषों की सूजन भी इस पुल्टिस से ठीक होती है। 2.मेह (मूत्र-संबंधी विकारों) में पलाश के फूलों का काढ़ा (50 मि.ली.) मिलाकर पिलायें। 3.रतौंधी की प्रारम्भिक अवस्था में फूलों का रस आँखों में डालने से …

Read More »

एक्जीमा को दूर करने के घरेलु नुस्खे

एक्जीमा इस रोग में त्वचा शुष्क हो जाती है और बार-बार खुजली करने का मन करता है क्योंकि त्वचा की ऊपरी सतह पर नमी की कमी हो जाती है, जिसके परिणामस्वरूप त्वचा को कोई सुरक्षा नहीं रहती, और जीवाणुओं और कोशाणुओं के लिए हमला करने और त्वचा के भीतर घुसने के लिए आसान हो जाता है। एक्जिमा के गंभीर मामलों …

Read More »

शीघ्र पतन

१) तालमखाना के बीज ५० ग्राम लेकर अदरक के रस में आधा घंटे भिगोएं,फ़िर सुखाएं। आपको ऐसा तीन बार करना है। अब इनका चूर्ण बनालें। अब इस चूर्ण को २०० ग्राम शहद में अच्छी तरह मिश्रण करके शीशी में भर ले शीघ्र पतन की दवा तैयार है। १० ग्राम औषधि सुबह-शाम गाय के दूध के साथ लेने से जल्दी छूट …

Read More »

अनेक रोगों में शहद का प्रयोग

अनेक रोगों में शहद का प्रयोग – 1- कुछ बच्चे रात में सोते समय बिस्तर में ही मूत्र (पेशाब) कर देते हैं। यह एक बीमारी होती है। सोने से पहले रात में शहद का सेवन कराते रहने से बच्चों का निद्रावस्था में मूत्र (पेशाब) निकल जाने का रोग दूर हो जाता है- 2- एक चम्मच शुद्ध शहद शीतल पानी में …

Read More »

अगर चाहते हैं कभी कब्ज ना हो तो करे ये उपाय।

कब्ज क्यों होता है- हमारे अप्राकृतिक आहार,विहार और विचार के चलते कब्ज उत्पन्न होती है | जब शरीर में मल की अधिकता हो जाती है तब मल निष्कासक अंग इसे पूरी तरह से बाहर नही निकाल पाते फलस्वरूप यह शरीर में एकत्र होकर रक्त के साथ मिलकर अन्य अनेक रोग उत्पन्न कर देता है | इसके मुख्य कारण ये है …

Read More »

कब्ज ( constipation )

कब्ज constipation साधारण कब्ज होने पर रात्रि सोते समे दस-बारह मुनक्के ( पानी से अच्छी तरह धोकर साफ कर बीज निकाल कर ) दूध में उबाल कर खाएं और ऊपर से वही दूध पी ले। प्रात: खुलकर शौच लगेगा। भयंकर कब्ज में तीन दिन लगातार ले और बाद में आवश्यकता अनुसार कभी-कभी ले। विकल्प त्रिफला चूर्ण चार ग्राम ( एक …

Read More »

घरेलू उपचार यूरिक एसिड का – Home remedies uric acid

घरेलू उपचार यूरिक एसिड का – Home remedies uric acid यदि किसी कारणवश गुर्दे की छानने की क्षमता कम हो जाए -तो यह यूरिया में यूरिक एसिड बदल जाता है- जो कि बाद में हड्डियों में जमा होजाता है जिस कारण व्यक्ति को दर्द रहने लगता है-यूरिक एसिड प्‍यूरिन के टूटने से बनता है- वैसे तो यूरिक एसिड शरीर से …

Read More »

पुदीने के आयुर्वेदिक उपयोग।

पुदीने के आयुर्वेदिक उपयोग। ‎आयुर्वेद‬ के मतानुसार पुदीना, स्वादिष्ट, रुचिकर, पचने में हलका, तीक्ष्ण, तीखा, कड़वा, पाचनकर्ता, उलटी मिटाने वाला, हृदय को उत्तेजित करने वाला, शक्ति बढ़ानेवाला, वायुनाशक, विकृत कफ को बाहर लाने वाला, गर्भाशय-संकोचक, चित्त को प्रसन्न करने वाला, जख्मों को भरने वाला, कृमि, ज्वर, विष, अरुचि, मंदाग्नि, अफरा, दस्त, खाँसी, श्वास, निम्न रक्तचाप, मूत्राल्पता, त्वचा के दोष, हैजा, …

Read More »
DMCA.com Protection Status