Thursday , 18 October 2018
Home » Search Results for: पेट कि बीमारी

Search Results for: पेट कि बीमारी

सावधान! आपके खाने में है हानिकारक ट्रांस फैट, लेकिन कितना अब बताएगा FSSAI – WHO

ट्रांस फैट – पराठा, आलू टिक्की, आल-पूड़ी, छोले-भटूरे, बेकरी आइटम जैसे केक, कुकीज, बिस्किट, क्रीम कैंडीज, फास्ट फूड, डोनट्स इन चीजों का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है, है ना. क्योंकि खाने की यह चीजें बहुत ही स्वादिष्ट होती हैं, लेकिन जरूरी नहीं हर स्वादिष्ट चीज हेल्दी भी हो. जी हां, भारत के अधिकतर खानों में ट्रांस फैट …

Read More »

किडनी की सुजन Kidney inflammation के लक्षण , पहचान , परहेज और आसान घरेलू नुस्खे

पहचान : पेशाब करते समय दर्द महसूस होता है, कभी-कभी पेशाब रुक-रुककर आने लगता है पीठ में दर्द एवं बेचैनी होती है, मूत्र से तीव्र दुर्गंध आती है, पेशाब द्वारा तरह-तरह के पदार्थ निकलने लगते हैं, ऐसे में सिर दर्द, मन न लगना, व्याकुलता, बदन में दर्द आदि लक्षण भी प्रकट होते हैं. परिचय : कभी-कभी गुर्दे में खराबी के कारण गुर्दे (वृक्क) अपने सामान्य …

Read More »

पेट की हर समस्या का इलाज छिपा इन पत्तियों में जाने कैसे  ??

दोस्तों आज हम आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक लाये है जो आपके पेट से सम्बंधित है, आजकल के खानपान व प्रदूषण की वजह से हर कोई पेट के किसी न किसी रोग से पीड़ित है |इसके लिए वे लोग न जाने क्या क्या एलोपैथिक दवाइया लेते है और जिनका बुरा असर हमारे शरीर पर पड़ता है इससे हमारी लिवर …

Read More »

बिच्छू घास (Nettle) से कमजोरी,पित्त दोष,गठिया, मोच, जकड़न और मलेरिया जैसी कई बीमारी का इलाज !!

बिच्छू घास को अंग्रेजी में नेटल (Nettle ) कहा जाता है. इसका बॉटनिकल नाम अर्टिका डाइओका ( Urtica dioica) है. कुमाऊंनी में इसे सिसूण कहते हैं. वह विशुद्ध कुमाऊंनी शब्द है. बिच्छू घास उत्तराखंड और मध्य हिमालय क्षेत्र में होती है. यह घास मैदानी इलाकों में नहीं होती. बिच्छू घास में पतले कांटे होते हैं. यदि किसी को छू जाये …

Read More »

पथरी क्या है ? पथरी के लक्षण व मुख्य कारण, रोकथाम, किडनी पर असर, क्या तुरंत निकलना जरूरी ह ?

हर साल 10 लाख से ज़्यादा मामले (भारत) पथरी के होते है जिनमेसे 50 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों में पथरी ( Stone ) का आकर छोटा होता है, जो प्राकृतिक रूप से तीन से छः सप्ताह में अपने आप पेशाब के साथ निकल जाती है। इस दौरान मरीज को दर्द से राहत के लिए और पथरी को जल्दी निकलने में सहायता के लिए दवाई …

Read More »

हरसिंगार हर बीमारी में फायदेमंद विशेषत: सायटिका, घठिया और मधुमेह – Harshringar Upyog Ki Vidhi

हरसिंगार यह 10 से 15 फीट ऊँचा और कहीं 25-30 फीट ऊँचा एक वृक्ष होता है और पूरे भारत में विशेषतः बाग-बगीचों में लगा हुआ मिलता है। विशेषकर मध्यभारत और हिमालय की नीची तराइयों में ज्यादातर पैदा होता है। इसके फूल बहुत सुगंधित, सफेद और सुन्दर होते हैं जो रात को खिलते हैं और सुबह मुरझा कर गिर जाते हैं। विभिन्न …

Read More »

Kidney Transplant in hindi – किडनी फेल हो गयी – डॉक्टर ने बोला है ट्रांसप्लांट को – तो पढ़ें ऐसे प्रयोग जिनको करके अनेक ऐसे रोगी सही हो गये.

Kidney transplant Recovery, Natural Treatment of chronic Kidney Disease,kidney kaise sahi kare, How To avoid Kidney Transplant in hindi अगर आपकी किडनी फेल हो गयी है, या ट्रांसप्लांट की नौबत आ गयी है, या फिर ऐसी स्थिति है के डॉक्टर डायलिसिस भी नहीं कर रहे और मरीज सिर्फ मौत का इंतज़ार कर रहा है तो अभी Only Ayurved आपके लिए उम्मीद …

Read More »

जानिए किस वास्तु दोष ने आपके घर को बीमारी या दरिद्रता से घेरा हुआ है? Dr. Mohit Bijaka

डॉ. मोहित बीजाका – खंडेला Research Health Analyst बी-644 मुरलीपुरा स्कीम , जयपुर-302039 हर आदमी का एक सपना होता है की उसका एक बड़ा सा …सुन्दर घर हो और उस घर में  परिवार के हर सदस्य के लिए अलग अलग बैडरूम हों और हर बैडरूम के साथ डैसिगरूम और अटैच टायलेट भी होना चाहिए। बैडरूम के अलावा एक पूजा रूम, स्टडीरूम, …

Read More »

स्वाइन फ्लू, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, टाइफाइड और किसी भी प्रकार के वायरल बुखार को सिर्फ 3 से 7 दिन में सही कर सकता है अमृत रस

Amrit Ras, अमृत रस, Amrit Ras By Only Ayurved, Amrit ras ke fayde, Swine flu ka ilaj, dengue ka ilaj सावन और भादवा ये दो महीने में आयुर्वेद में दूध और दही खाने की मनाही कही गयी है, ख़ास कर के सावन में दूध और भादवे में दही. और इसी के लिए हमारे पूर्वजों ने विधान बनाया था सावन में …

Read More »

Noni – हृदय किडनी लीवर कैंसर आर्थराइटिस जैसे रोगों का एक हल है नोनी

noni, noni benefit in hindi, none ke fayde नोनी का english नाम reat morinda, Indian mulberry, noni, beach mulberry, और cheese fruit है , और इसका Botanical नाम Morinda Citrifolia है, Morinda शब्द Latin के Morus और Indicus से मिलकर बना है, Morus का अर्थ होता है Mulberry अर्थात शहतूत और Indicus का अर्थ है Indian. इसको भारत में Indian Mulberry और Nuna भी कहा जाता …

Read More »
DMCA.com Protection Status