Thursday , 30 June 2022
Home » हमारी संस्कृति (page 6)

हमारी संस्कृति

इस साल के नवरात्रों में होंगे सब के दुख दूर, 427 साल बाद बना है ऐसा अद्भुत संयोग – शेयर ज़रूर करें.

इस साल के नवरात्रों में होंगे सब के दुख दूर, 427 साल बाद बना है ऐसा अद्भुत संयोग – शेयर ज़रूर करें. [ads4] हिन्दुओं में पितृपक्ष और नवरात्रों का काफ़ी महत्व है. पितृपक्ष में जहां हम अपने पूर्वजों को याद करते हैं, वहीं नवरात्रों में बड़ी धूम-धाम से शक्ति की देवी दुर्गा की उपासना करते हैं. कहा जाता है कि …

Read More »

लोक कहावतों में स्वास्थ्य दर्शन.

लोक कहावतों में स्वास्थ्य दर्शन. भारतीय संस्कृति में स्वास्थ्य को बहुत महत्त्व दिया गया है, यही कारण है के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अनेक लोक कहावतों का भी जन्म हुआ, ये लोक कहावतें अपने आप में स्वास्थ्य के बड़े बड़े राज़ खोल देती हैं. आज हम आपको ऐसी ही 11 विशेष लोक कहावतों से अवगत करवाएंगे. आइये जानते …

Read More »

मिट्टी है समस्त रोगों की रामबाण औषधि! जाने क्या है mud-therapy..!!

मिट्टी है समस्त रोगों की रामबाण औषधि! जाने क्या है  mud-therapy..!! मिट्टी के औषधीय गुण / mud-therapy सर्वाधारे सर्व बीजे सर्व शक्ति समन्विते। सर्व कामप्रदे देवि सर्वेष्टं दोहिमे धरे॥ (ब्रह्मवैवर्त पुराण) “हे पृथ्वी देवी तू सबकी आधार, सबकी बीजरूप, सब प्रकार की शक्ति से युक्त तथा समस्त इच्छाओं के पूर्ण करने वाली है, मेरा कल्याण कर। मिट्टी एक अत्यन्त साधारण वस्तु समझी …

Read More »

कपालभाती प्राणायाम (Kapalbhati Pranayam) विधि, लाभ और सावधानियाँ –

कपालभाती प्राणायाम (Kapalbhati Pranayam) विधि, लाभ और सावधानियाँ – कपालभाती प्राणायाम / Kapalbhati Pranayam मस्तिष्क के अग्र भाग को कपाल कहते हैं और भाती का अर्थ ज्योति होता है। कपालभाती प्राणायाम को हठयोग के षट्कर्म क्रियाओं के अंतर्गत लिया गया है। ये क्रियाएं हैं:-1.त्राटक 2.नेती. 3.कपालभाती 4.धौती 5.बस्ती 6.नौली। आसनों में सूर्य नमस्कार, प्राणायामों में कपालभाती और ध्यान में ‍साक्षी …

Read More »

सिर्फ 5 मिनट करें “ॐ” का उच्चारण मिलेंगे चमत्कारिक शारीरिक और मानसिक लाभ

BENEFITS OF CHANTING OM ॐ अर्थात् ओउम् तीन अक्षरों से बना है, जो सर्व विदित है । अ उ म् । “अ” का अर्थ है उत्पन्न होना, “उ” का तात्पर्य है उठना, उड़ना अर्थात् विकास, “म” का मतलब है मौन हो जाना अर्थात् “ब्रह्मलीन” हो जाना। ॐ सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति और पूरी सृष्टि का द्योतक है। ॐ का उच्चारण …

Read More »

गुड़ है इतना गुणकारी जानेंगे तो बना लेंगे जीवन का अभिन्न हिस्सा.

गुड़ है इतना गुणकारी जानेंगे तो बना लेंगे जीवन का अभिन्न हिस्सा. गुड के फायदे, Benefit of Jaggery in Hindi. गुड़ का भारतीय संस्कृति में अपना महत्व है। पुराने ज़माने में गुड का सेवन बहुतायत होता था, ये सेहत के लिए अनेकों दृष्टिकोण से लाजवाब है. मगर एक विशेष साज़िश के तहत हमारी सेहत का सत्यानाश करने के लिए अंग्रेज सरकार ने गुड …

Read More »

जमीन पर बैठकर खाने के अनेक स्वास्थ लाभ –

जमीन पर बैठकर खाने के अनेक स्वास्थ लाभ – “नीचे बैठकर खाना!! ना बाबा ना, कितना आउटडेटेड और असभ्य सा तरीका है…..” जब कभी कोई आपको नीचे बैठकर खाने के लिए कहता है तो आपके दिमाग में यही शब्द घूमते होंगे कि कहीं किसी ने आपको नीचे बैठकर खाना खाते हुए देख लिया तो ये आपके लिए कितना शर्मिंदगी भरा …

Read More »

बिना दवा, बिना ईलाज के ! कैसे रहें स्वस्थ – जाने ..

[ads4] बिना दवा, बिना ईलाज के ! कैसे रहें स्वस्थ – जाने .. अगर प्रकृति का इरादा आपको जीवित रखने का नहीं होता, तो आप मर गए होते। अब भी आप उन दवाओं के कारण, जो आपने ली हैं या हेल्थ चेकअप और अपने अस्पताल की सलाह के कारण जीवित नहीं हैं, बल्कि इसलिए जीवित हैं क्योंकि प्रकृति अभी आपको जीवित …

Read More »

हमेशा काम आने वाले 51 अचूक नुस्खे –

हमेशा काम आने वाले 51 अचूक नुस्खे – हमारे जीवन में रोगों का प्रभाव पड़ता ही रहता है -हम छोटी-मोटी बीमारियों का इलाज स्वयं कर सकते है आज हम आप के लिए लाये हैं साधारण छोटे-छोटे प्रयोग जिनको आप अवश्य अपनाए कुछ प्रयोग नीचे दिए गए है जो आपके घर में ही उपलब्ध है अजमाए और लाभ ले – 1.दमे …

Read More »

हिंदू परम्पराओं से जुड़े ये वैज्ञानिक तर्क अपने बच्चों को जरूर बताएं –

हिंदू परम्पराओं से जुड़े ये वैज्ञानिक तर्क अपने बच्चों को जरूर बताएं – भारत में जितने राज्य, जितने शहर, जितने गांव उतनी ही परम्पराएं हैं। ऐसी परम्पराएं, जिन्हें देख तमाम लोग ताज्जुब करते हैं, कई लोग हँसते हैं तो कुछ कहते हैं, “ये क्या ढकोसला है”। हिंदू परम्पराआं पर हँसने वाले और उसे ढकोसला कहने वाले लोगों की सोच शायद …

Read More »
DMCA.com Protection Status