Monday , 18 November 2019
Home » HAIR-CARE » Hair » बालो की सभी बीमारी के लिए कुछ अनुभवी और अचूक आयुर्वेदिक नुस्खे

बालो की सभी बीमारी के लिए कुछ अनुभवी और अचूक आयुर्वेदिक नुस्खे

बालो की सभी बीमारी के लिए कुछ अनुभवी और अचूक आयुर्वेदिक नुस्खे

आजकल बालो की समस्या हर व्यक्ति के हो रही हे .किसी के बाल झड़ना ,सफेद होनो ,बालो में डेन्द्र्फ़ ,कम

उम्र में बालो का टूटना और सफेद होना ,बालो में खुजली ,दो मुह के बाल आदि रोग हो रहे है आयुर्वेद में इसका

कारण,- गलत खान -पान और अधिक क्रोध करना और अधिक शारीरिक परिश्रम करना किसी केमिकल युक्त

सेम्पू और साबुन का इस्तमाल करना आदि कारण है

इन सभी से छुटकारा पाने के लिए हम आज कुछ अनुभवी नुस्खे लिख रहे हे जो बहुत कारगर है .

1.- बालो को धोने ,मुलायम और चिकने बनाएं –

विधि —- रीठा 1/2 भाग ,नीम के फल 1/4 भाग ,मुल्तानी मिटटी 1/4 भाग ,शिकाकाई 1 भाग ,आंवला 1 भाग

इनको लेकर कूट पीस छानकर रख ले यह पाउडर 50 ग्राम ,6 किलो पानी में रात भर भिगोकर रख दे .सुबह इसे

उबाले कर छानकर थोडा ठंडा होने पर इसमें एक चम्मच नारियल तेल और नींबू का रस 10 मिली डालकर इस

पानी से बालो को धोये तथा बाद में साफ पानी से धो ले .

इससे बाल साफ मुलायम व चिकने रहेंगे तथा बालो का झड़ना भी बंद होगा .

2. – बालो को चमकदार व मुलायम बनाना –

विधि —- नींबू व संतरे के सूखे छिलके बराबर -बराबर ले कूट -पिस कर रख ले .

रात को नारियल का तेल बालो की जडो में अच्छी प्रकार मालिश करके सों जाये और सुबह यह पाउडर 2 चम्मच

,आधे कागजी नींबू रस ,दही दो चम्मच इन सबको मिलाकर घोल बना ले और इसका लेप बालो में लगाकर सूखने

दे एक घंटे बाद मुल्तानी मिटटी से सिर धोये .सप्ताह में एक बार प्रयोग में लाये .

इससे बाल चमकीले ,काले व घने और रुसी भी मिट जाएगी

3 .- बालो का सफेद होने को रोकना –

विधि —- सूखी मेहँदी 50 ग्राम ,काफी पाउडर 5 ग्राम ,दही 2 चम्मच ,नींबू का रस 1 चम्मच ,आंवला चूर्ण 5 ग्राम

भ्रंगराज चूर्ण 1 चम्मच .सभी को रात के समय पानी में भिगोकर रख दे ,ध्यान रखे लेप अधिक पतला ना हो

नहाने से दो घंटे पूर्व इसे बालो में लगाकर सूखने दे . फिर मुल्तानी मिटटी से धो ले .ऐसा हफ्ते में एक बार करे .

4.- बालो का झड़ना –

विधि —- बादाम रोगन 100 ग्राम ,रोगन गुल 50 ग्राम (हमदर्द के ) दोनों को मिलाकर रख ले .यह तेल रात को

बालो में लगाकर सों जाये .दिन में यदि सिर धोना हो ,तो रीठे के पानी से धोये .लाभ होगा .

5 .-बाल काले करने हेतु –

विधि —- भ्रंगराज के सूखे पत्ते ,आंवला चूर्ण ,काले तिल ,मिश्री बराबर -बराबर लेकर कूट -पिस कर मिला ले .

तिलों को बिना कूटे ही मिला ले .

यह पाउडर एक चम्मच सुबह खाली पेट पानी से सेवन करे .3 माह में बाल काले हो जायेंगे .

6.- गंजेपन पर बाल –

विधि —- अमरबेल को सिलबट्टे पर पीसकर इसका लेप सिर पर करने से बाल दुबारा आ जाता है .

विधि —- दही एक भाग ,सेंधा नमक आधा भाग मिला ले . इसे गंजे स्थान पर 4-5 मिनट तक मले एक

घंटे बाद धो ले .शीघ्र लाभ होगा है .

7.- बालो का तेल –

विधि —- सरसों तेल 500 ग्राम ,धतूरे के बीज 100 ग्राम ,धतूरे का रस 500 ग्राम .धतूरे के बीजो को कूट

सिलबट्टे पर थोडा पानी के साथ चटनी बना ले .अब सरसों के तेल में धतूरे के बीजो का कल्क व धतूरे के पत्तो

का रस मिलाकर इन्हें हल्की आंच पर पकाए तथा चलाते रहे . केवल तेल शेष रह जाने पर छानकर रख ले .

इससे सिर में खुजली ,सिर में जगह जगह गोल चकते ,सिर गंजा हो जाना ,रुसी होना तथा ,बाल झड़ना .

8.- बालो का गिरना ,सिकरी ,सिर की फुन्सिया –

विधि —- रिफायंड नारियल तेल 50 मिलीलिटर ,कपूर देशी भीमसेनी 2 ग्राम ,नींबू सत 1 ग्राम  ,

कपूर व नींबू सत दोनों को अलग -अलग पीसकर नारियल तेल में मिला दे .गर्म करने की आवश्यकता नही

तथा इस तेल की मालिस करे .

9 .- सिर के बाल झगड़े से रोकने तथा बाल लम्बे करने हेतु –

विधि —- सरसों का तेल 1500 ग्राम ,नारियल तेल 300 ग्राम ,छोटी हरड 50 ग्राम ,खस -खस 50 ग्राम ,

हरे आंवलो का रस 1 किलो .

सभी को लोहे की कढाई में 48 घंटे भिगो कर रख दे ,48 घंटे बाद इस कढाई को बिल्कुल धीमी आंच पर रख दे

इसे लोहे के पलटे से चलाते रहे .जब हरड काली होकर ऊपर तेर आये तथा पानी जल कर केवल तेल रह जाये

निचे उतार दे ,ठंडा होने पर शीशी में भरके 4-5 दिन रखे .गंदा निचे बेठ जायेगा .आब इसे निथार ले और इससे

सिर धो ले और नहा ले बाल सूखने के बाद इस तेल को लगा ले .बहुत लाभकारी है .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status