Wednesday , 15 August 2018
Home » Feet Care » डायबिटीज, पैरों में सुन्नपन, डायबिटीज फुट या इससे हुए घावों में अदभुत हैं इसका प्रयोग

डायबिटीज, पैरों में सुन्नपन, डायबिटीज फुट या इससे हुए घावों में अदभुत हैं इसका प्रयोग

Diabetes foot ka ilaj, Diabetes ke ghavo ka ilaj, diabetes ulcer ka ilaj, diabetic foot treatment in hindi

डायबिटीज आजकल एक सामान्य समस्या होती जा रही हैं, डायबिटीज में कुछ विशेष प्रकार की जटिलताओं  का सामना अक्सर सभी डायबिटीज के मरीजो को करना पड़ सकता है जैसे Diabetic Foot, Diabetic foot ulcer, Gangrene, Neuropathy, Retinopathy इत्यादी. आज आपको बताने जा रहें हैं इनका प्राकृतिक इलाज.

Diabetic Foot and Diabetic foot Ulcer

अगर आप लम्बे समय से डायबिटिक है और आपका रक्त में ग्लूकोस या शुगर की मात्रा बहुत अधिक है लम्बे समय से रक्त में ज्यादा ग्लूकोस की मात्रा रहने से आपकी रक्तवाहिनिया(Blood vessels) या नसों(Nerves) को काफी ज्यादा हानि होती हैं. नसों को नुकसान होने की वजय से रोगी को पैरों में सुन्नापन(Lose of Feeling) महसूस होता हैं.इस समय पर सामान्य सी चोट लगने पर पैरों में छालें या किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन आसानी से हो जाता है इसके साथ ही रक्तवाहिनियों को क्षति होने से पैरों में रक्त और ऑक्सीजन भी नहीं पहुँच पाती हैं जिससे अगर रोगी को कोई इन्फेक्शन या घाव हो जाता हैं इसे Diabetic foot Ulcer कहते हैं  वो बहुत ही मुश्किल से सही हो पाता हैं.

आप Diabetic Foot की इस समस्या से बच सकते हैं अगर आप इन बातों का ध्यान रखें

  • रोजाना अपने पैरों को चेक करें और अच्छी तरह पानी से साफ करें
  • पैरों को कोमल और मुलायम रखने की कोशिश करें
  • जूते और जुराब पहन कर रखे
  • अपने पैरों को गर्मी और सर्दी से बचा कर रखें
  • रोजाना पैरों की एक्सरसाइज करें जिससे पैरों में रक्त का संचरण सही बना रहें

पैरों में छालें या अलसर होने पर इसे अच्छी तरह नार्मल सेलाइन(Normal saline)से साफ करें और डॉक्टर के द्वारा दी गई एंटीबायोटिक का सेवन करें.

Noni in Diabetes and diabetes foot and diabetes ulcer

Noni का वैज्ञानिक नाम Morinda Citrifolia है, जिसको Indian Mulberry के नाम से भी जाना जाता है. इस पौधे के फलों के रस में Xeronine पाया जाता हैं जो टाइप 2 डायबिटीज में Insulin Resistance को कम करता हैं जिससे रक्त से ग्लूकोस आसानी से कोशिकाओ में चला जाता हैं और कोशिका उसको उपयोगऊर्जा उत्पादन में  कर लेती हैं. इस प्रकार रक्त में ग्लूकोस कम हो जाता हैं, नोनी के नियमित सेवन से आप के रक्त में ग्लूकोस की मात्रा नियमित रहती हैं. जिससे डायबिटीज से सम्बंधित जटिलता जैसे Retinopathy, Neuropathy  और Diabetic Foot or Diabetic foot Ulcer  कम होती हैं और इनमे सुधार आता हैं.

शोध में पता लगा हैं की नोनी इम्यून सिस्टम को तेज करता हैं जिससे पैंक्रियास की बीटा कोशिकाओं की कार्यक्षमता में सुधार आता है और जिससे इन कोशिकाओं से सामान्य  Insulin निकलता हैं जो रक्त में ग्लूकोस की मात्र को नियमित करता हैं .

नोनी का Glycemic index  कम होता हैं जो रक्त में ग्लूकोस की मात्र को नियमित भी करता हैं साथ में Diabetic foot Ulcer के इलाज में भी उपयोगी होता हैं

How Noni work in Diabetic foot Ulcer

नोनी से न सिर्फ आपका रक्त ग्लूकोस लेवल कम होता है जबकि  घाव भी जल्दी भरता हैं,  नोनी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल और flavanoid घाव भरने की प्रकिया को तेज कर देते है और नोनी में पाए जाने वाले पोषक तत्व blood सर्कुलेशन को सही रखते हैं जिससे पैरों में सुन्नपन कम होता है और किसी भी प्रकार का घाव जल्दी भर जाता हैं.

नोनी के फल के जूस  में Xeronine नामक अल्कलोइड पाया जाता हैं जो हमारे शरीर में एंजाइम की कार्यक्षमता और प्रोटीन की संरचना बनने की प्रकिया को बढ़ा देता हैं जिससे कोशिकाओ के रिपेयर होने की और घाव भरने की प्रकिया तेज हो जाती हैं,मुख्य रूप से ये Diabetic Gangrene में काफी लाभदायक होता हैं .

नोनी नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को बढ़ा  देता है जिससे रक्तवहिनिया खुल (relax ) जाती है और रक्त का संचरण सही ढंग से होना शुरू हो जाता हैं जिससे diabetic foot Ulcer में काफी लाभ मिलता हैं इसके साथ ही नाइट्रिक ऑक्साइड को WBC बैक्टीरिया और फंगस को मारने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं जिससे घाव जल्दी भरता हैं और इन्फेक्शन भी ठीक हो जाता हैं .

नोनी फ्रूट जूस में पाया जाने वाला SCOPOLETIN नामक रसायन रक्तवाहिनियों को खोलता है, सुजन को कम करता है साथ के साथ इन्फेक्शन भी कम करता हैं जिससे Diabetic foot Ulcer जल्दी ठीक हो जाता हैं

इसके इलावा नोनी में पाए जाने वाले रसायन जैसे Acubin, L – asperuloside और Alizarin जिनमे एंटीबैक्टीरियल गुण पाया जाता हैं जो बहुत से बैक्टीरिया ख़तम कर सकते हैं.

नोनी खरीदने के लिए आप नीचे लिखे नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.

बिहार

पटना – 7677551854, 7480099296

छत्तीसगढ़

बिलासपुर – 9584891808, 9926758959, 9300333438

असम

सिलचर – 9954000321

महाराष्ट्र

मालेगांव (नासिक) – डॉ. फरीद शेख 9860785490

धुले – 9860704470

नासिक – डॉ. फ़हमीदा – 9270928077

पुणे – 9209211786

विदर्भ – 7020579564

कल्याण – 8454050864

मलाड – 9967293444

घाटकोपर – 07738350032

बोरीवली – 9004316923

भंडारा – 9422174853

श्रीरामपुर (खंडाला) – 8888283393

औरंगाबाद – 8208266068

गुजरात

द्वारिका – 9033790000

चिकली – 9427869061

अंकलेश्वर – भरूच – 8460090090

बड़ोदा – 9725245318

सूरत –  8866181846, 9879157588

भुज / मुंद्रा  – 9974576143

मध्यप्रदेश

भोपाल – 7987552689

इटारसी – 6260342004

ग्वालियर – 9009056000

उत्तर प्रदेश

मेरठ – 9871490307, 8449471767

हाथरस ( U. P. ) –  9997397043, 7017840020

मथुरा – 9259883028

अलीगढ – 9027021056

आगरा – 9358355545

कासगंज – 7409463111

दिल्ली –  NCR

सराय कालें खां –  9015439622, 9871490307

सुभाष नगर – 9911006202

गाज़ियाबाद – 9719077555

गौतम बुध नगर – सूरजपुर – Greater Noida – 9310299100

गुडगाँव – 9310330050

हरियाणा

हसनपुर पलवल – 9050272757

पानीपत – 9812126662

बाढ़डा ( चरखी दादरी ) – 9813210584

राजस्थान

जयपुर – 8290706173, 8005648255

जोधपुर – 8005724956

अजमेर – 7976779225

सिरोही – 9875238595

टोंक – 9509392472

अजीतगढ़ – 8005648255

पंजाब

मोगा – 9988009713

बठिंडा – 9779566697

कोट कपूरा – 9872320227

मलोट – 9877159004

मलेर कोटला – 9872439723

लुधियाणा – 9803772304

जालंधर – 9814832828

अमृतसर – 8872295800

होशियारपुर उड़मुड टांडा – 9803208718

चंडीगढ़ – 9877330702

मोहाली – 09216411342

मुकेरियां – 9815296322

हिमाचल प्रदेश

नालागढ़ – 9816022153

चिन्तपुरणी – 9816414561

डिस्ट्रीब्यूटर बनने के लिए आप निमिन्लिखित जगहों पर संपर्क कर सकते हैं.

राजस्थान – 8005648255

उत्तर प्रदेश – 7017840020

पंजाब – 9779566697

दिल्ली – 9871490307

गुजरात – 9033790000, 8866181846

महाराष्ट्र – 9860785490, मुंबई – 8454050864

छत्तीसगढ़ – 9584891808

मध्य प्रदेश  – 7987552689

हिमाचल प्रदेश – 9816022153

इसके इलावा आप 7014016190 पर संपर्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status