Thursday , 19 July 2018
Home » Major Disease » Kidney » kidney failure » Kidney Failure treatment in hindi – क्रिएटिनिन यूरिया और पोटैशियम अब कण्ट्रोल में
kidney failure treatment, Kidney Failure treatment in hindi

Kidney Failure treatment in hindi – क्रिएटिनिन यूरिया और पोटैशियम अब कण्ट्रोल में

Kidney Failure treatment in hindi

Kidney Failure Treatment In Hindi रक्त में यूरिया, क्रिएटिनिन, पोटाशियम की मात्रा बढ़ना किडनी की बीमारी का संकेत है यूरिया का निर्माण लीवर में प्रोटीन का मेटाबोलिज्म होने के कारन होता है अगर किडनी में किसी प्रकार की कोई बीमारी नहीं है तो किडनी सही ढंग से फिल्ट्रेशन करती है और यदि किडनी किसी बीमारी से ग्रसित है तो वो रक्त में मौजूद यूरिया, क्रिएटिनिन, पोटाशियम को फ़िल्टर नहीं कर पाती और जिससे रक्त में इनकी मात्रा बढ़ती जाती है. खून में यूरिया, क्रिएटिनिन, पोटाशियम की मात्रा अधिक होना ये बताती है की रोगी Acute Kidney Disease या Chronic  Kidney Disease या Kidney Failure से पीड़ित है.

Kidney Function Test In Hindi को चेक करने के लिए रक्त में मुख्य रूप से यूरिया BUN -Blood Urea Nitrogen, क्रिएटिनिन, पोटाशियम की मात्रा को मॉनिटर किया जाता है के इनका लेवल क्या हो गया है..

  • Blood urea Level (BUN – Level) – 7 – 25 mg/dl
  • Potassium Level – 3.5 – 5.3 mmol/dl
  • Creatinine Level – 0.6 – 1.3 mg/dl

खून में उपरोक्त लेवल यूरिया (BUN -Blood Urea Nitrogen ), क्रिएटिनिन, पोटाशियम की मात्रा बढ़ने का अर्थ है की आप की किडनी सही तरीके से काम नहीं कर रही है. तो ऐसे में क्या करें के ये लेवल कम हो जाएँ.

Urea kam karne ka tarika

How To Reduce Urea With Low intake of Protein In hindi

How to reduce urea – यूरिया का निर्माण लीवर में प्रोटीन का मेटाबोलिज्म होने के कारन होता है इसलिए जिन लोगो में यूरिया की मात्रा रक्त में ज्यादा होती है उन लोगों को प्रोटीन का कम सेवन करना चाहिए उन लोगों को दूध के प्रोडक्ट जैसे पनीर आदि का सेवन नहीं करना चाहिए इसके साथ ही अंडो मीट, दालों ,फलियों अनाज का सेवन कम करना चाहिए

How to Reduce Urea with Vitamin C in hindi

विटामिन C एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है जो किडनी को फ्री रेडिकल के प्रभाव से बचाता है इसके साथ साथ शरीर में आयरन की मात्रा को बनाये रखता है गौरतलब है कि किडनी की बीमारी में रोगी का हीमोग्लोबिन का स्तर कम हो जाता है अगर रक्त में आयरन की मात्रा सही रहेगी तो खून की कमी यानि अनेमिया की समस्या नहीं होगी इसके साथ विटामिन c किडनी को ज्यादा यूरिन बनाने के लिए उतेजित करता है जिससे यूरिया और क्रिएटिनिन फिल्क्टर आसानी से  हो सकते है

How to reduce urea with Bitter gourd in hindi

करेले का जूस शरीर को Detoxify करता है इसके साथ ही जिन  लोगो को किडनी की बीमारी के साथ डायबिटीज है उनके लिए भी काफी लाभदायक है ये शरीर को साफ करता है और हानिकारक पदार्थो को शरीर से बहार निकलता  है

How to reduce urea with alkaline diet in hindi

आप एल्कलाइन सब्जियों का सेवन कर सकते हैं जैसे गोभी, गाजर  क्योकि एल्कलाइन यूरिन होने से यूरिया का इफ़ेक्ट शरीर में कम हो जाता है इसके साथ खीरा, नीम्बू , दालचीनी और हल्दी और लाल शिमला मीर्च इत्यादि सेवन रक्त में यूरिया की मात्रा को कम कर सकता है.

How to reduce urea with Water in hindi

शरीर में पानी की मात्रा की कमी न आने दे जिससे ब्लड वॉल्यूम अधिक रहता है क्योकि शरीर में पानी कम होने से ब्लड वॉल्यूम कम हो जाता है जिससे यूरिया बढ़ जाता है ज्यादा पानी पिने से यूरिन अधिक लगता है जिससे ज्यादा यूरिया शरीर से बाहर निकलता है

How to reduce urea with avoid liquir in hindi

शराब के सेवन से किडनी पर बुरा प्रभाव पड़ता है जिससे किडनी का फिल्ट्रेशन सिस्टम प्रभावित होता है

How to reduce urea with control of potassium in hindi

क्योकि पोटाशियम कोशिकाओं में साल्ट की मात्रा को नियंत्रित करता है जब पोटाशियम की नियंत्रित मात्रा रक्त में मौजूद होती है तो किडनी पर लोड कम पड़ता है जिससे किडनी का फिल्ट्रेशन सिस्टम सही रहता है और यूरिया भी फ़िल्टर करने में सहायता मिलती है.

Creatinine kam karne ke upay

How to Reduce Creatinine In hindi

How to reduce Creatinine with control Blood presssure

किडनी के मरीजो को लगातार ब्लड प्रेशर की दवा टाइम पर लेनी चाहिए और अपना ब्लड प्रेशर चेक करते रहना चाहिए अगर किडनी के डैमेज को रोकना है तो आपको अपने ब्लड प्रेशर को सामान्य रखना होगा क्योकि ब्लड प्रेशर ज्यादा होने से किडनी को नुकसान होता है जिससे आपका क्रिएटिनिन बढ़ता जाता है

How to reduce Creatinine with avoid smoking

बीडी सिगरेट पीने से आपकी रक्त वाहिनियों में सिकुडन आ जाती है जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है जो किडनी के मरीजो के लिए हानिकारक होता है

How to reduce Creatinine with control cholesterol

रक्त में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से रक्त वाहिनियाँ Blood Vessels Hard हो जाती है जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है

How to reduce Creatinine with low intake of protein

किडनी रोगी जिनमे क्रिएटिनिन बढ़ा हुआ है उन लोगों को प्रोटीन का कम सेवन करना चाहिए उन लोगों को दूध के प्रोडक्ट जैसे पनीर आदि का सेवन नहीं करना चाहिए इसके साथ ही अंडो मीट, दालों ,फलियों अनाज का सेवन कम करना चाहिए

How to reduce Creatinine with sufficient intake of water

शरीर में पानी की कमी होने से भी रक्त सान्द्र हो जाता है जिससे क्रिएटिनिन का लेवल बढ़ जाता है क्योकि रक्त जितना तनु होगा उतना अधिक क्रिएटिनिन फ़िल्टर होगा

How to reduce Creatinine with rest

किडनी के मरीज को ज्यादा भारी काम या एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए क्योकि इससे मासपेशियों में टूट फूट होने के कारण क्रिएटिनिन बढ़ सकता है

How to reduce Creatinine – इन्फेक्शन से बचो

किडनी रोगी के शरीर  में किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन होने से भी क्रिएटिनिन का लेवल रक्त में बढ़ जाता है

How to reduce Creatinine with fiber diet

किडनी रोगी अपनी डाइट में फाइबर का सेवन बढ़ा सकता है क्योकि फाइबर युक्त डाइट क्रिएटिनिन के लेवल को कम कर सकती है “European Journal of Clinical Nutrition,”के अनुसार फाइबर क्रिएटिनिन को तोड़ सकते है फाइबर मुख्यतः फ़ल और सब्जियों में होते है लेकिन जिन किडनी रोगियों में पोटैशियम और फॉस्फोरस की मात्रा बढ़ी हुई है वो फाइबर का सेवन करने से पहले डॉक्टर की राय लें.

Drugs that elevate Creatinine level

दवाईयां जो क्रिएटिनिन के लेवल को बढ़ा सकती है

कुछ  दवाईयों का सेवन करने से भी क्रिएटिनिन का लेवल रक्त में बढ़ जाता है इसलिए इन दवाओं को तुरंत बंद कर देना चाहिए क्योकि ये किडनी को डैमेज करती है जैसे Pain Killers, vancomycin, Amikasin, gentamicin and cefoxitin इत्यादि. इन दवाओं को nephro Toxic Drugs कहा जाता है.

Bun Test In Hindi

How to reduce Creatinine with Alpha Lipoic Acid

काफी शोधो से पता लगा है की Alpha Lipoic Acid किडनी में होने वाले डैमेज को रोकता है ये मुख्य रूप से किडनी की कोशिकाओ को होने वाले नुकसान से बचाता है साथ में किडनी में सुजन को भो कम करता हैं ये मुख्य रूप से गोभी, पालक, आलू  इत्यादि में पाया जाता है.

Kidney disease and potassium

पोटाशियम की मात्रा किडनी के मरीजो के रक्त में बढ़ जाती है जिसकी वजह से किडनी की मरीजो को घबराहट और हार्ट की समस्या हो सकती है जिसमे उनकी धड़कन बढ़ जाती है इसलिए किडनी के मरीजों में पोटाशियम की मात्रा को सामान्य रखना जरुरी है जब किसी भी किडनी के मरीज में पोटाशियम की मात्रा बढ़ जाये तो उसको सामन्यता नीम्बू , संतरा ,केला जैसे पोटैशियम वाले फलों का सेवन बंद कर देना चाहिए और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए क्योकि ज्यादा मात्रा में पोटैशियम बढ़ने से हार्ट की दिक्कत हो सकती है.

How to reduce Creatinine with Ayurved

पुनर्नवा और भूमि आंवला

100 ग्राम पुनर्नवा और 100 ग्राम भूमि आंवला दोनों को बराबर लेकर इनको कूट पीस लो, और आपस में मिला लो, दो चम्मच एक गिलास पानी में 24 घंटे तक भिगो कर रख दीजिये, 24 घंटे बाद एक सूती कपडे से मल छान कर निचोड़ कर रोगी को पिला दीजिये, ऐसा दिन में 2 बार करना है. 24 – 24 घंटे के बाद रोगी को पिलाइए, ऐसा करने से किडनी, हृदय, श्वांस इत्यदि रोग नष्ट होते हैं.

Source – Drughealth.in

One comment

  1. Punarnava aur bhumi awala ayurved ki kargar dawa ha kidney kay liyea.
    If this is followed regularly the patient will gain momentum as well as the kidney
    problem will be solved for ever,.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status