Wednesday , 24 May 2017
Home » सब्जिया » लहसुन » एक कली लहसुन खाना अमृत से कम नहीं।

एक कली लहसुन खाना अमृत से कम नहीं।

एक कली लहसुन खाना अमृत से कम नहीं।

लहसुन अनेक औषधीय गुणों की खान हैं। लहसुन का सेवन बारह महीने ही अच्छा माना जाता है, लहसुन के एक कली रोजाना खाने से शरीर को कई तरह के लाभ होते हैं। इस से आप अनेक भयंकर बीमारियो से बचे रहेंगे। चलिए आज जानते हैं लहसुन के कुछ ऐसे ही गुणों के बारे में…..

कॉलेस्ट्रॉल

कॉलेस्ट्रॉल की समस्या से परेशान लोगों के लिए लहसुन का नियमित सेवन अमृत साबित हो सकता है।लहसुन में एंटीक्लाॅटिंग गुण होते है जो खून को पतला करने में सहायक होते हैं और शरीर में खून के थक्के बनने से रोकते है। इससे चोट लगने के बाद, खून बहने का डर भी नहीं रहता है।

हार्ट – अटैक और एथ्रेरोस्लेरोसिस

लहसुन हमारे दिल को सुरक्षित बनाएं रखने में मदद करता है और हार्ट – अटैक और एथ्रेरोस्लेरोसिस से होने वाली दिक्कतों से बचाता है। इसमें दिल को सुरक्षित रखने वाले तत्व होते है। जिनके सेवन से दिल को आसानी से स्वस्थ बनाया जा सकता है। उम्र के साथ, धमनियां खिंचाव करने की क्षमता खो देती है। लहसुन, इसे कम कर देता है और दिल को ऑक्सीजन रेडीकल्स के प्रभाव से बचाता है ताकि हार्ट को कोई नुकसान न पहुंचे। इसके सल्फर युक्त यौगिक हमारी रक्त वाहिकाओं को अवरूद्ध होने से बचाता है जिसकी वजह से एथ्रेरोस्लेरोसिस की दिक्कत खत्म हो जाती है। लहसुन की एंटी – क्लॉटिंग प्रॉपर्टी, रक्त वाहिकाओं में खून के थक्के बनाने से रोकती है।

हाई-बीपी से बचाए:-

कई लोगों का मानना है कि लहसुन खाने से हाइपरटेंशन के लक्षणों से आराम मिलता है। यह न केवल ब्लड सर्कुलेशन को नियमित करता है, बल्कि दिल से संबंधित समस्याओं को भी दूर करता है। साथ ही, लीवर और मूत्राशय को भी सुचारू रूप से काम करने में सहायक होता है।

मर्दाना ताक़त।

लहसुन नियमित सेवन करने से मरदाना ताक़त भी बढ़ती हैं, अपने उत्तेजना भर देने वाले गुणों के कारण कमज़ोर हो चुकी इन्द्रियों में जोश भर देता हैं लहसुन।

डायरिया दूर करे: :-

पेट से जुड़ी समस्याओं जैसे डायरिया आदि के उपचार में भी लहसुन रामबाण का काम करता है। कुछ लोग तो यह दावा भी करते हैं कि लहसुन तंत्रिकाओं से संबंधित बीमारियों को दूर करने में बहुत लाभकारी होता है, लेकिन केवल तभी जब इसे खाली पेट खाया जाए।

डिटॉक्सिफिकेशन वैकल्पिक उपचार:-

जब डिटॉक्सिफिकेशन की बात आती है तो वैकल्पिक उपचार के रूप में लहसुन बहुत प्रभावी होता है। लहसुन शरीर को सूक्ष्मजीवों और कीड़ों से बचाता है। अनेक तरह की बीमारियों जैसे डाइबिटीज़, ट्युफ्स, डिप्रेशन और कुछ प्रकार के कैंसर की रोकथाम में भी यह सहायक होता है।

श्वसन तंत्र को मजबूत बनाएं:-

लहसुन श्वसन तंत्र के लिए बहुत लाभदायक होता है। यह अस्थमा, निमोनिया, ज़ुकाम, ब्रोंकाइटिस, पुरानी सर्दी, फेफड़ों में जमाव और कफ आदि की रोकथाम व उपचार में बहुत प्रभावशाली होता है।

ट्यूबरकुलोसिस T.B. में लाभकारी :-

ट्यूबरकुलोसिस (तपेदिक) में लहसुन पर आधारित इस उपचार को अपनाएं। एक दिन में लहसुन की एक पूरी गांठ खाएं। टी.बी में यह उपाय बहुत असरदार साबित होता है, अगर आपको लहसुन की गंध पसंद नहीं है कारण मुंह से बदबू आती है। मगर लहसुन खाना भी जरूरी है तो रोजमर्रा के लिये आप लहसुन को छीलकर या पीसकर दही में मिलाकर खाये तो आपके मुंह से बदबू नहीं आयेगी। लहसुन खाने के बाद इसकी बदबू से बचना है तो जरा सा गुड़ और सूखा धनिया मिलाकर मुंह में डालकर चूसें कुछ देर तक, बदबू बिल्कुल निकल जायेगी।

खून की कमी

जिनके शरीर में खून की कमी है, उन्हें लहसुन का सेवन जरूर करना चाहिए, इसमें पर्याप्त मात्रा में लौह तत्व होता है जो कि रक्त निर्माण में सहायक है। लहसुन में विटामिन सी होने से यह स्कर्वी रोग से भी बचाता है।

वजन कम करने में

लहसुन के नियमित सेवन से वजन को घटाया जा सकता है, क्योंकि इसमें हमारे शरीर में बनने वाली वसा कोशिकाओं को विनियमित करने की क्षमता है जिससे वजन आसानी से घट जाता है। कच्चे लहसुन का लाल मिर्च के साथ चटनी बनाकर नियमित रूप से खाने पर वजन कंट्रोल में आ जाता है।

एंटी – इंफ्लामेटरी

लहसुन में एंटी – इंफ्लामेटरी प्रॉपर्टी होती है। जिसकी मदद से एलर्जी को दूर भगाया जा सकता है। इसलिए अगर आप किसी तरह की एलर्जी से परेशान हों तो रोजाना लहसुन की एक कली को पानी से निगल लें व अपने भोजन में लहसुन को शामिल करें।

कफ और जुकाम

ठंड या बदलते मौसम में अक्सर किसी भी उम्र के लोगों को कफ और जुकाम जैसी परेशानी हो तो लहसुन के काढ़े का सेवन करें।

कैंसर

कैंसर के प्रति शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करता है। लहसुन में कैंसर निरोधी तत्व होते हैं। यह शरीर में कैंसर बढऩे से रोकता है। लहसुन के सेवन से ट्यूमर को 50 से 70 फीसदी तक कम किया जा सकता है।

[Read. प्याज के लाभ Benefit of Onion. ]

27 comments

  1. Very good site

  2. NAMASKAAR SIR ,

    MUJHE HIGH BP REHTA HAI TO LEHSUN PANI KE SAATH 1 KALI LE SAKTA HU MAI SUBAH KHALI PET ??
    AUR RAAT KO LENA HO TO KAISE LIYA JAYE LEHSUN ?

    • subah hi lijiye.. 2 kali lijiye. rozana. aur saath me chukander, seb, tulsi, neembu, anwla, kela jo bhi ho sakta hain wo khaiye…

      • Sukhjinder singh

        Sir meri mother ko high BP rahta hai us mai koi problem to nhi hogi log kahte hai ki lahsun se high BP hota hai

  3. Sir mujhe ges or constipation ki problem he
    Isme lahsun khane de koi fayda hoga

  4. Purushottam Shrestha

    अल्सरेटिव काेलाइटिस के मरीज लहसुन का सेवन कर सकता है या नहीं । किस तरह से सेवन करना चाहिए ।

  5. I like your ayurveda guidenence for human disease.

  6. Mujhe haiy BP he mucttawati goli kha raha Hu ye kesi goli rahegi bataey

  7. Kya Summer me iska sewan theek hota hai ?

  8. Sir mere ko diabities h mere ko lahshun kaise lena h or kali chabakar khani h ya kali pani k sath niglna h

  9. Sir namsahkar
    sir lahsun ki kali ko subah lena h kya????
    Ek bar me kitni kali lena h???pani se lena hai ???
    chaba k kahana hai ya nigal na hai??
    plz batayen sir muje BP aur gas ki problem hai.

    plz help sir.

    • lahsun ki kali ko subah khali pet lena hai, chhote chhote tukde kar ke nigal sakte hai, ya phir chaba chaba kar kha sakte hai…

    • Muje epilepsy ki problem 7 years se hai is me meri right leg ur hand control chord dete hain ur sun ho jate hain ur hune se pehle mere ko pata chal jata hai sath main muje high BP ki problem hai meri age 35 years hai iska mujhe ayurvedic upchar bataye

  10. sir,
    mera wajan bahut jyada hai 70kg mai bahut parisan rehti ti to mujhe kya karna padega mai bahut parisaan hu

  11. hello sir…Kay app mujhe intestine main. hone wali swelling ka upchar. bata sakte hain..

  12. Hi Sir isi tarah se ilaj batate rahiye. bahut garib logo ka bhala ho jayega.

  13. Sir mera weight 57kg h jabki height 5feet 10inch h height ke according weight kam h body bhi week h weight or body kaise badaya jaye

  14. Sir Pils k lye ayurveda ka Ilaz btaiye . Letrin k mukhiya dwar pr under k side m ghav jaisa feel hota or baitney pr pain hota h. Letrin k lye kafi tym baithna pdta h

  15. Hyy sir mujhe gastric ka problem hai kya lasun mere liya labhdahi hoga plz kaise khana hai lasun kripa karke batadijiya.

  16. Sir, axjima ke bare me kuchh bataye

  17. Sir mere potajika bhagndar ka operation huwa hai . to patachala unko cancer hai.José unko toilet me problem ho rai hai. To muze kis prakar lasun ki Kali ka upayog karu sir pls madad ki jiye. Pls sir

Leave a Reply

Your email address will not be published.