Sunday , 23 September 2018
Home » Acupressure » जानिए एक्यूप्रेशर चिकित्सा से नींद न आने की बीमारी का इलाज OnlyAyurved

जानिए एक्यूप्रेशर चिकित्सा से नींद न आने की बीमारी का इलाज OnlyAyurved

Acupressure Treatment for Insomnia in Hindi

नमस्कार दोस्तों onlyayurved में आपका एक बार फिर से स्वागत है आज हम आपको बता रहे हैं Acupressure Treatment for Insomnia in Hindi नींद न आने की बीमारी  का एक्यूप्रेशर चिकित्सा द्वारा प्रामाणिक इलाज रात में नींद न आना अथवा रात को देर तक जगे रहने को अनिद्रा कहते हैं। इसे अंग्रेजी में Insomnia भी कहते हैं

आइए जाने पहले अनिंद्रा का कारण क्या है

अनिद्रा रोग का खास कारण चिंता को माना जाता है। अगर कोई व्यक्ति अति उत्तेजित है, अवसाद जैसी मानसिक बीमारी से ग्रस्त है, कैफीन जैसे उत्तेजक पदार्थ लेता है, गंदे वातावतण में रहता है, ज्यादा मेहनत करता है, बासी और गरिष्ठ भोजन का सेवन करता है, धूम्रपान करता है, नींद की गोलियां लेता है, नशा ज्यादा करता है, तो उसे अनिद्रा का रोग हो सकता है। अनिद्रा रोग का एक कारण स्नायु-संस्थान की गड़बड़ी होना भी हो सकता है।Acupressure Treatment for Insomnia in Hindi

अनिंद्रा के लक्षण लक्षण

आंखों का लाल होना, आंखों में नींद भरी होना, किसी भी काम में मन न लगना आदि अनिद्रा रोग के लक्षण होते हैं।

अनिंद्रा का एक्यूप्रेशर द्वारा उपचार

अनिद्रा रोग को दूर करने के लिए सबसे पहले रोगी को अपनी नींद को पूरा करना चाहिए। रोगी को रात को जल्दी सो जाना चाहिए, सुबह जल्दी उठकर व्यायाम करना चाहिए, हरी घास पर नंगे पांव चलना चाहिए, हल्के गुनगुने पानी से नहाना चाहिए, मन-मस्तिष्क को शांत रखना चाहिए। रोगी के स्नायु-संस्थान और पाचनतंत्र से सम्बन्धित केन्द्र बिन्दुओं पर प्रेशर देना चाहिए। अगर अनिद्रा रोग का कारण मनोवैज्ञानिक हो तो किसी अच्छे मनोचिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए।

एक्यूप्रेशर चिकित्सा से उपचार करने के लिए हाथ की कलाई के पास तथा कंधे से छाती के पास के प्रतिबिम्ब बिन्दुओं पर प्रेशर देने से तथा पैरों पर टखने से ऊपर और टखने के पास के प्रतिबिम्ब बिन्दुओं पर प्रेशर देने से रोगी का अनिद्रा रोग धीरे-धीरे कुछ ही दिनों में ठीक हो जाता है। प्रेशर रोगी की सहनशक्ति के अनुसार प्रतिदिन कुछ सेकेण्ड के लिए देना चाहिए।

हाथ की कलाई के पास का बिन्दु
हाथ की कलाई के पास का बिन्दु

रोगी की दोनों भौंहों के बीच के प्रतिबिम्ब बिन्दु तथा रोगी के हाथ की कलाई के पास और अंगूठे से नीचे की ओर के प्रतिबिम्ब बिन्दु पर 2-3 मिनट के लिए प्रतिदिन प्रेशर देने से रोगी का अनिद्रा रोग कुछ ही दिनो में ठीक हो जाता है।

अनिंद्रा के लिए जरुरी एक्युप्ररेसर बिंदु
अनिंद्रा के लिए जरुरी एक्युप्ररेसर बिंदु

अनिद्रा रोग को ठीक करने के लिए एक्यूप्रेशर चिकित्सा के द्वारा मस्तिष्क, पाचनतंत्र तथा स्नायुसंस्थान से सम्बन्धित प्रतिबिम्ब बिन्दुओं पर कुछ दिनों तक प्रतिदिन कुछ मिनट के लिए 3 बार प्रेशर देने से अनिद्रा रोग ठीक हो जाता है। इसके अलावा चित्र में दिए गए प्रतिबिम्ब बिन्दुओं (जो कि पीठ की रीढ़ के हड्डी के दोनों तरफ हैं), पर  नियमित रूप से रोजाना प्रेशर देने पर कुछ ही दिनों में अनिद्रा रोग ठीक हो जाता है।

रीढ़ की हड्डी के पॉइंट
रीढ़ की हड्डी के पॉइंट

इस प्रकार प्रेशर देने से स्नायु-संस्थान के कार्य में सुधार हो जाता है जिसके फलस्वरूप अनिद्रा रोग दूर हो जाता है।दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें जरुर बताइए और अगर इस पोस्ट से सम्बंधित आपका कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपने पोस्ट को पूरा पढ़ा इसके लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status