Thursday , 19 July 2018
Home » आयुर्वेद » churn » सौ साल तक लम्बी और स्वस्थ आयु पाने के लिए विशेष सप्त धातु पोषक चूर्ण.
सप्त धातु पोषक चूर्ण

सौ साल तक लम्बी और स्वस्थ आयु पाने के लिए विशेष सप्त धातु पोषक चूर्ण.

sapt dhatu poshak churn banane ki vidhi.

आयुर्वेद के अनुसार शरीर में सप्त धातु होतें हैं, पूरा शरीर इनके द्वारा ही ऑपरेट होता है, आज हम आपको जो सप्त धातु पोषक चूर्ण के बारे में बताने जा रहें हैं ये उत्तम रसायन है, यह नस नाड़ियों एवम वात वाहिनियों को शक्ति प्रदान करता है. सात्विक भोजन औ सदाचरण के साथ इसके निरंतर सेवन से रोग प्रतिरोधक शक्ति बनी रहती है, और वृद्ध अवस्था के रोग नहीं सताते. – सप्त धातु पोषक चूर्ण

इसको बनाने के लिए ज़रूरी सामग्री है अश्वगंधा ( असगंध ) 100 ग्राम, आंवला चूर्ण 100 ग्राम, हरड 100 ग्राम, इन तीनो चीजों के चूर्ण को आपस में मिला लीजिये, अभी इसमें 400 ग्राम पीसी हुयी मिश्री मिला लीजिये. और इसको किसी कांच की भरनी में भर कर रख लीजिये. प्रतिदिन एक चम्मच गर्म पानी के साथ या गर्म दूध के साथ ये चूर्ण पूरे साल फांक सकते हैं. – सप्त धातु पोषक चूर्ण

जो व्यक्ति पूरी उम्र इसको खायेगा उसकी तो आयु कितनी होगी इसका अंदाजा भी लगा पाना मुश्किल है. अगर कोई व्यक्ति इसको 3 महीने से 1 साल तक खायेगा तो उसका शरीर भी कई सालों तक निरोगी रहेगा. इस योग को बनाने के लिए बस एक बात का ध्यान रखें के सभी वस्तुएं साफ़ सुथरी ले कर ही चूर्ण बनवाएं, कीड़े वाली अश्वगंधा ना लें. इसलिए ये सामग्री किसी विश्वसनीय दुकानदार से ही लें. सप्त धातु पोषक चूर्ण

सप्त धातुओं का वर्णन – sharir ki saat dhatu

  • रस
  • रक्त
  • मांस
  • मेद
  • अस्थि
  • मज्जा
  • शुक्र

शायद आपको पता ना हो मगर आपके किये हुए भोजन से शुक्र बनने का क्रम बहुत लम्बा है, और वही शरीर का सार है, मगर हम अपने क्षणिक आनंद के लिए इसको तुरंत निकाल देते हैं. इसलिए ही हमारे पूर्वजों ने ब्रह्मचार्य रक्षा के लिए अनेक कार्य किये, और सम्भोग को भी करने के लिए कुछ सिद्धांत निर्धारण किये, मगर हम लोगों ने अपने जीवन का पतन अपने ही हाथों से किया. खैर छोडिये, जो पाठक शुक्र बनने की पूरी कहानी जानना चाहते हैं या शुक्र को मज़बूत करना चाहते हैं वो नीचे लिंक्स से पढ़ सकते हैं. सप्त धातु पोषक चूर्ण

अगर कोई रोगी या बीमार व्यक्ति जिसको चाहे कब्ज हो या कोई भी बड़ा रोग हो उसको इस चूर्ण को सेवन करने से पहले एक बार शरीर को शोध लेना चाहिए, उसके लिए हमने एक बहतरीन चूर्ण बताया था शरीर शोधन चूर्ण. उसको भी बनाना बहुत आसान है, उसको बना कर उसका सेवन करें. जब काया एक बार साफ़ हो जाएगी तो ये चूर्ण ग़ज़ब का असर दिखायेगा. सप्त धातु पोषक चूर्ण

आप ये भी दो महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ सकते हैं.

[शरीर शोधन चूर्ण – sharir shodhan churn]

[कायाकल्प चूर्ण – kayakalp churn]

[शुक्र धातु बनने की प्रक्रिया – shukr dhatu banne ki prakriya]

25 comments

  1. कल्याण सिंह राजपूत

    कृपया अवगत करायें कि सप्त धातु पोषक,कायाकल्प, और शरीर शोधन चूर्ण आपके यहां पर भी निर्मित होते हैं क्या? यदि हाँ तो उन्हें हम किस प्रकार मँगा सकते हैं??

  2. HEMANDRA SINGH VERMA

    gatiya ke medison ho to kuch bata oo g 9927090411

  3. नमस्कार
    मुझे रोज सुबह पतली पानी जेसी दस्त आती है
    6 से 7 महीने हो गए है नित समय दवाई भी लेता हु
    परन्तु ज्यादा फर्क नही हे आर्युवेद दवाई भी ले रहा हु
    कृपया उपाय बतावे

    • 2-3 दिन तक खाना ना खाएं, पानी अधिक पियें, फलों का रस पियें. योग और कसरत करें.और लवण भास्कर चूर्ण सेवन करें.

  4. Sir meri platelets kam ho jati h Dr. Steroid dete h us se badhti h. Sir koi upay btao or steroid ko body se Kasey nikalu andar garmi paid a kr di boht inseinse help me plz

    • गिलोय पीना शुरू करें, और एलो वेरा का रस भी पीयें. और दिन भर में पानी अधिक पियें.

    • Rhododendron(buraans) ke flowers ki chai bana kar piyen platlests ki problem sure theek ho jayegi.

  5. Sir piles ke treatment me jo kadavi torai kya he gujarati me use kya kahe he

    • आप तोरई लिख कर गूगल पर सर्च करेंगे तो आपको इसकी फोटो दीख जाएगी, ये सब्जी है.

  6. es ko khaali pet khaana hai ya brakefast ke baad

  7. हरड काेन सी लेनी है पीली बडी या काली छाेटी।

  8. sir puri body sweling hai kyrna chaiyee + mirgi ke problim 20 year old hI

    • बॉडी में सूजन है तो एक बार डॉक्टर से चेक करवा लीजिये, कहीं कोई किडनी की समस्या न हो… और फिर उस के बाद ही कोई इलाज शुरू कीजियेग.
      और मिर्गी के लिए आप ये नीचे दिया गया प्रयोग करे.
      [मिर्गी का इलाज]

  9. Sir.kya ladkiyo k liye koi ilaj hai.?meri frnds ne muje uski samsya batai to mene ap ko ye msg kiya uski pareshani ye hai ki wo kbi pati se ichha puri nai hoti kya ap iska upay bata sakte hai wo dct k pass bhi gyi lekin dctr ne batya purani rog hai nai ho sakta to ap hi bataye wo bohat paresan si rhti hai

  10. हरड छोटी या बडी

  11. Hard(bdi) churn Aamla churn Ashwgandha churn and misri
    Dhudh k sath lena h kya

  12. सप्त धातु पोषक चूर्ण में हरड़ भी है क्या इस चूर्ण को दूध के साथ ले सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status