Wednesday , 18 July 2018
Home » आयुर्वेद » जड़ी बूटियाँ » शतावरी » बल बुद्धि वीर्य शक्ति बढ़ाने वाले शतावरी के पेड़े

बल बुद्धि वीर्य शक्ति बढ़ाने वाले शतावरी के पेड़े

Shatawari ke pede banane ki vidhi aur iske fayde.

शतावरी के पेड़ों के लाभ.

शतावरी बच्चों बड़ो बूढों स्त्री मर्द सब के लिए अनुपम गुणकारी है, इसका सेवन बारह मास तक किया जा सकता है. शतावरी के पेड़ों के नियमित सेवन से बालक की बुद्धि, स्मरण शक्ति और निश्चय शक्ति बढती है और अच्छा विकास होता है. रूप रंग निखरता है. त्वचा मज़बूत और स्वस्थ होती है. शरीर भरा भरा पुष्ट और संतुलित होता है. फेफड़े रोग रहित और मज़बूत बनते हैं. कुपित कफ का नाश होता है. आँखों में चमक और ज्योति बढती है. दिल कि ताक़त बढती है. शरीर की सब प्रकार की कमजोरियां नष्ट होकर अपार वीर्य वृद्धि और शुक्र वृद्धि होती है. इसके सेवन से वृद्धावस्था दूर रहती है. और मनुष्य दीर्घायु होता है.

शतावरी के पेड़े बनाने की विधि

पांच किलो भैंस का दूध का घर पर मावा (खोया) बनाये. (पांच किलो दूध का लगभग एक किलो मावा बनता है. मावा बनाने के लिए दूध को धीमी आंच पर रख दीजिये. जब दूध पकते पकते काफी गाढ़ा सा हो जाए और मावा बनने वाला हो तब पच्चास ग्राम शतावरी का चूर्ण उसमे डालकर कुछ देर तक हिलाते रहें. मावा बनने के साथ शतावरी का चूर्ण उसमे एक समान हो जायेगा. जब मावा बनकर तैयार हो जाए तब 20-20 ग्राम के पेड़े बना लीजिये, और किसी कांच के बर्तन में सुरक्षित रख लीजिये.

शतावरी के पेड़ों कि सेवन विधि.

रोजाना प्रातः नाश्ते से पहले एक पेड़ा दूध के साथ बच्चे और बड़े सभी खा सकते हैं. और बारह मास इन पेड़ो का सेवन किया जा सकता है.

शतावरी के गुण

शतावरी शीतल, भारी, स्निग्ध, मधुर, स्वादिष्ट, अग्निदीपक, बलवीर्यवर्द्धक, मेध्य, चक्षुस्य और रसायन है. रक्तदोष, पित्त, कफ, वायुनाशक, अतिसार, रक्तपित, गुल्म, शूल और शोथहर, महिलाओं के लिए पौष्टिक, स्त्री दुग्धजनक, गर्भ पोषक, नेत्र, हृदय तथा मस्तिष्क के लिए बलकारक, बाजीकरण और रसायन है.

जो बच्चें रात को चौंककर और डरकर अचानक नींद से जाग उठते हों उनके सिरहाने, तकिये के नीचे या जेब में शतावरी के पौधे की एक छोटी सी डंठल रख दें तो बच्चा रात में नींद में डरकर या चौंककर नहीं उठेगा.

शतावरी का चूर्ण बनाने की विधि

शतावरी की जड़ निकालकर उसे साफ़ कर छीलकर सुखा लीजिये, और सुखाने के बाद कूटकर शतावरी का चूर्ण बनाकर रख लीजिये, ये चूर्ण  साल भर खराब नहीं होता.

 

5 comments

  1. Very nice
    Thanks

  2. Sir par vo kaisa dikhta hae ….kya veg market m ashani se mel jata hae ..ya fir koe aurved shop par uplad ho sakta hae …plz jankari dejeye…

  3. Shatawri hota kya h kaha milega
    Iski pahchan kaise krege

    • शतावरी किसी भी पंसारी की दूकान से मिल जाएगी…

    • पवन शर्मा

      पुजा जी ये किसी पंसारी या जडी बूटी बेचने वाले की दुकान पर मिल जायेगा या व्यास फार्मा का ले लिजिये

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status