Wednesday , 18 July 2018
Home » Beauty » Acne Home Remedies | Pimple Home Remedies | Blackheads Home Remedies » मुलतानी मिट्टी के तवचा और बालों के लिए चौकाने वाले फायदे

मुलतानी मिट्टी के तवचा और बालों के लिए चौकाने वाले फायदे

मुलतानी मिट्टी के सौंदर्यवर्धक और स्वास्थ्यवर्धक गुण

Hindi health and beauty tips

मुल्तानी मिट्टी (fuller’s earth) का प्रयोग युगों से सौन्दर्य संबंधी उपचार के लिए किया जाता रहा है। मुल्तानी मिट्टी प्रकृति का अनमोल वरदान है जो बाल और त्वचा संबंधी किसी भी समस्या से लड़ने में मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी के लिए सबसे अच्छी बात यह होती है कि यह सस्ता होता है और आसानी से पाया जा सकता है। मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल भी आप बहुत ही सरल और सामान्य तरीके से अपने घर में कर सकते हैं।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे  multani mitti Benefits

1. मुलतानी मिट्टी में बादाम के कुछ टुकड़ों को कूटकर डाल दीजिए और उसी में कुछ मात्रा में दूध मिला लीजिए. इसे चेहरे पर लगाने से चेहरा कोमल भी बना रहेगा और साफ भी हो जाएगा.

2. पुदीने की कुछ पत्तियों को मिक्सर में पीस लीजिए. इसमें कुछ मात्रा में दही मिला लीजिए. इस पेस्ट को मुलतानी मिट्टी में मिलाकर लगाने से चेहरे के दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं.

3. गुलाब जल को मुलतानी मिट्टी में मिलाकर लगाने से चेहरे पर निखार आता है. पेस्ट को तब तक चेहरे पर लगा रहने दें जब तक वो सूख न जाए. इस पेस्ट को लगाने से चेहरे पर मौजूद अतिरिक्त ऑयल साफ हो जाता है.

4. पपीते के एक चम्मच गूदे और एक से दो बूंद शहद को मुलतानी मिट्टी में मिलाकर पेस्ट बना लीजिए. इस पेस्ट को लगाने से चेहरा निखर जाएगा.

5. चंदन पाउडर में एक चम्मच टमाटर का रस मिला लीजिए. अब इसे मुलतानी मिट्टी में मिलाकर पेस्ट तैयार कर लीजिए. इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने से दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं.

Multani mitti facepacks in Hindi – चमकती त्वचा के लिए सबसे अच्छे घरेलु मुल्तानी मिट्टी के फेस पेक्स

त्वचा- मु्ल्तानी मिट्टी में जो एन्टीसेप्टिक का गुण होता है वह त्वचा संबंधी समस्याओं से लड़ने में मदद करता है। त्वचा संबंधी चार समस्याओं से लड़ने में मुल्तानी मिट्टी का पैक बहुत मदद करता है-

  • दाग धब्बों को कम करने में मदद करता है- कभी-कभी धूप में ज़्यादा देर रहने पर या प्रदूषण के कारण चेहरे पर दाग-धब्बे बन जाते हैं और आपके सौन्दर्य पर दाग लग जाता है। मुल्तानी मिट्टी और दही का पैक इससे राहत दिलाने में बहुत मदद करेगा।

विधि- एक कटोरी में मुल्तानी मिट्टी और दही लें और दोनों को अच्छी तरह से आधा घंटा तक भिगने दें। उसके बाद उसमें पुदीना का पावडर डालकर अच्छी तरह से मिला लें। इस पैक को दाग वाले जगह पर लगाकर तीस-मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। फिर उसको गुनगुने गर्म पानी से धो लें। इस पैक के रोजाना इस्तेमाल से दाग-दब्बे धीरे-धीरे कम होने लगते है।

आप धब्बों को असरदार रूप से कम करने के लिए मुल्तानी मिट्टी में चंदन का पावडर और टमाटर का रस डालकर पैक को बना लें। यह पैक धब्बों को धीरे-धीरे कम करने में बहुत मदद करता है।

  • मुँहासों से छुटकारा दिलाने में मदद करता है- प्रदूषण और अपनी त्वचा की देखभाल अच्छी तरह से न करने के कारण चेहरे पर मुँहासे निकलने लगते हैं। मुल्तानी मिट्टी और नीम का पेस्ट मुँहासों का निकलना कम करने में मदद करता है।

विधि- एक कटोरी में एक छोटा चम्मच नीम का पावडर या पेस्ट ले, उसमें दो छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, ज़रूरत के अनुसार गुलाब जल, एक चुटकी कपूर, और चार-पाँच लौंग को पीसकर बनाया हुआ पावडर डालकर पैक को बना लें। चेहरे पर मुँहासो वाली जगह पर पैक को अच्छी तरह से लगाकर दस से पंद्रह मिनटों तक लगाकर रखें। सूखने के बाद पानी से धो लें।

  • झुर्रियों को उम्र से पहले आने से रोकता है- जैसा ही आप युवा अवस्था से वयस्क अवस्था में कदम रखने लगते हैं आपकी त्वचा अपनी रौनक खोने लगती है। लेकिन मुल्तानी मिट्टी का पैक इस समस्या से जल्द राहत दिलाने में मददगार साबित होता है।

विधि-  एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी के साथ समान मात्रा में दही लें और उसमें एक अंडा फोड़कर डालें। इस पैक को मुलायम बनाने के लिए अच्छी तरह से मिला लें। इस पैक को चेहरे पर लगाकर बीस मिनटों तक सूखने के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने गर्म पानी से धो लें। पैक को धोने के बाद आपको अलग ही तरह का ताजगी महसूस होगा।

  • तैलाक्त त्वचा के रौनक को लौटाने में मदद करता है-  मुल्तानी मिट्टी एक ऐसा प्राकृतिक चीज है जो तैलाक्त त्वचा से तेल को सोखने में मदद करता है और त्वचा को ताजगी प्रदान करता है।

विधि- एक कटोरी में एक छोटा चम्मच खीरे का पेस्ट, कच्चा दूध, दो छोटा चम्मच बेसन और मुल्तानी मिट्टी को डालकर अच्छी तरह से मिला लें। यह पैक त्वचा से अतिरिक्त तेल को सोखने में मदद करता है।

Multani mitti for hair care in Hindi – बालों की देखभाल के लिए मुलतानी मिट्टी का उपयोग कैसे करें?

बाल- आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि मुल्तानी मिट्टी सिर्फ त्वचा संबंधी समस्याओं से लड़ने में ही मदद नहीं करता है बल्कि बालों के कई समस्याओं से राहत दिलाने में भी मदद करता है। यह स्कैल्प से अतिरिक्त तेल को सोखने में मदद करता है। यह बालों से रूसी की समस्या से राहत दिलाने में और कन्डिशनिंग करने में मदद करता है।

  • रूखे बालों को स्वस्थ करने में मदद करता है- कभी-कभी प्रदूषण या बूरे खान-पान का असर बालों पर होता हैं और वे रूखे और बेजान हो जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी, दही और नींबू का पैक बालों को रेशम जैसा बनाने में मदद करते हैं।

विधि– एक कटोरी में चार छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, ½ कप दही, आधा नींबू का रस, दो छोटा चम्मच शहद डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पैक को बना लें। दहीबालों का झड़ना कम करता है और नींबू रूसी की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है।  शहद बालों को काला और घना बनाने में मदद करता है। इस पैक को बालों में अच्छी तरह से लगाकर तीस मिनट तक रख दें फिर शैंपू से धो लें।

  • दोमुँहे बालों की समस्या से राहत दिलाता है- अक्सर दोमुँहे बालों की समस्या से महिलाओं को जुझना पड़ता है। इस समस्या के कारण बाल अपने सौन्दर्य को खो देते हैं। मुल्तानी मिट्टी और दही का पैक इस समस्या से राहत दिलाने में बहुत मदद करता है।

विधि- रात को बालों में ऑलिव ऑयल लगायें। अगले दिन सुबह गर्म पानी में भिगोये हुए तौलिये से बालों को ढक कर रखें। एक घंटे के बाद दही और मुल्तानी मिट्टी का पैक बालों में लगायें और सूखने के बाद शैंपू से धो लें।

  • तैलाक्त बालों की समस्या से राहत दिलाता है- जिन लोगों के बाल तैलाक्त होते हैं वे हमेशा चिपचिपे ही नजर आते हैं। कोई भी स्टाइल करना उनके लिए कठीन होता है। मुल्तानी मिट्टी का पैक बालों को काला और घना तो बनाता ही है साथ ही बाल के जड़ों से गंदगी को साफ करने में मदद करता है।

विधि- मुल्तानी मिट्टी को कटोरी में तीन-चार घंटे तक भिगोकर रखें। बालों में लगाने के तीस मिनट पहले उसमें रीठा का पावडर डालकर अच्छी तरह से मिला लें। फिर उसको बालों में लगाकर दस-पंद्रह मिनट के लिए रख दें। फिर शैंपू से धो लें।

  • बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है-   चेहरे की तरह बालों को स्वस्थ रखना भी ज़रूरी होता है। मुल्तानी मिट्टी का पैक आपके लंबे काले बालों को स्वस्थ और सुंदर बनाये रखने में मदद करता है।

विधि-  एक कप मुल्तानी मिट्टी में पाँच छोटा चम्मच चावल का पावडर, एक अंडे की सफेदी डालकर अच्छी तरह से मिला लें। फिर इस पैक को स्कैल्प और बालों में अच्छी तरह से लगाकर दस मिनट तक रखें और फिर शैंपू से धो लें।

मुलतानी मिट्टी के अन्य लाभ (Uses of Multani mitti in Hindi)

  • मुलतानी मिट्टी रूसी, एक्जिमा और सिर की कुछ परेशानियों को दूर करने में मदद करती है।आपके सिर से खुजली कम करने का यह सस्ता और प्रभावी तरीका है।मुलतानी मिट्टी रक्त परिसंचरण को बढ़ाती है। इसे बालों के कंडीशनर  के रूप में प्रयोग किया जाता है।
  • मुलतानी मिट्टी का प्रयोग से डैंड्रफ, एक्जिमा तथा अन्य सिर की समस्याओं से निजात पाई जा सकती है। यह सिर की खुजलाहट को कम करता है।
  • मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग, यह बालों को सही रखने का सस्ता तरीका है। यह बालों के बढ़ने में सहयोगी है तथा खराब बालों को सही भी करता है।
  • यह रक्त संचार को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है। इससे आपके बाल अच्छे से उगते हैं तथा आपको घने बाल मिलते हैं।
  • मुलतानी मिट्टी का प्रयोग, बालों की कंडीशनिंग के लिए मुल्तानी मिटटी के मास्क का प्रयोग किया जाता है। इससे बाल रेशमी और चमकदार बनते हैं।
  • इसके गुणों की वजह से मुल्तानी मिटटी हमारे सिर से टोक्सिन निकालने में मददगार साबित होती है। इससे हमारे बालों की सतह को सुकून पहुँचता है। इसकी गंध इतनी अच्छी होती है कि इससे बालों की बुरी गंध ढक जाती है।
  • निरंतर मुल्तानी मिटटी का प्रयोग करने से बाल झड़ना रुकता है तथा सुन्दर बाल मिलते हैं।
  • मुल्तानी मिटटी सिर से तथा बालों से तेल सोख लेती है।
  • क्योंकि यह बहुत सौम्य होती है, अतः इससे बालों को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है।
  • मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग, इससे कई तरह के पैक बनाए जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status