Tuesday , 28 May 2024
Home » detoxification » शरीर की अंदरूनी सफाई के लिए डिटॉक्स डाइट प्लान ! जरुर पढ़ें..!!

शरीर की अंदरूनी सफाई के लिए डिटॉक्स डाइट प्लान ! जरुर पढ़ें..!!

शरीर की अंदरूनी सफाई के लिए डिटॉक्स डाइट प्लान ! जरुर पढ़ें..!!

आमतौर पर हम या तो गलत खा-पी रहे होते हैं या फिर पर्याप्त नहीं खाते। साथ ही वायु प्रदूषण, एल्कोहल, धूम्रपान, मिलावटी तत्व, तनाव आदि चीजों की लंबी सूची है, जिनके कारण रोज शरीर में विषैले तत्व जमा हो रहे होते हैं। समय-समय पर डिटॉक्स डाइट लेने से जरूर राहत मिल सकती है।

लंबे समय तक शरीर से जहरीले तत्वों का बाहर न निकलना हमारे तंत्रिका तंत्र, रोग प्रतिरोधक क्षमता व अंत:स्रावी ग्रंथियों पर असर डालता है। डिटॉक्स डाइट शरीर से इन्हीं जहरीले तत्वों के असर को कम करने में मदद करती है। कई बार इसे एक दिन के लिए ही अपनाना काफी होता है तो कई बार तीन दिन या एक सप्ताह तक अपनाने की सलाह दी जाती है। शरीर के मेटाबॉलिज्म को ठीक करना आपका मकसद है तो कुछ महीनों के अंतराल पर इसे अपनाते रहें।

कैसे करें डाइट प्लान

कम से कम एक सप्ताह पहले एल्कोहल और कैफीन का सेवन बंद कर दें। अगर हर रोज दो कप कॉफी पीते हैं, तो एक दिन एक कॉफी पिएं और अगले दिन कॉफी न लें। इससे सिरदर्द, उबकाई व थकावट जैसे लक्षण नहीं दिखाई देंगे। मधुमेह व हृदयरोगी पहले डॉक्टर से सलाह लें।

परहेज करें

  • ग्लूटन युक्त अनाज: ओट्स, राई, गेहूं, गेहूं से बनी ब्रेड व पास्ता आदि।
  • डेयरी प्रोडक्ट्स: दूध, योगर्ट, पनीर, मक्खन।
  • शर्करा: मिठाई, चॉकलेट, जैम।
  • प्रोसेस्ड चीजें: डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, फ्रॉजन फूड, चिप्स।
  • रिफाइंट प्रोडक्ट्स: सफेद चावल, सफेद ब्रेड, बिस्कुट, केक व पेस्ट्री।
  • पेय पदार्थ: एल्कोहल, कॉफी, काली चाय, सॉफ्ट ड्रिंक्स, डिब्बाबंद जूस, यहां तक कि कैफीन युक्त हर्बल चाय।
  • इनके अलावा अधिक नमक, कमर्शियल सॉस, कृत्रिम रंग, फ्लेवर आदि चीजें लेने से बचें।

क्या शामिल करें

  • ताजा सब्जियां खाएं और नियमित व्यायाम करें।
  • भाप स्नान व मालिश से भी टॉक्सिन बाहर निकलते हैं। सेहतमंद विकल्प अपनाएं। जैसे, अगर कॉफी पीने का मन कर रहा है तो ग्रीन टी पिएं, इससे लिवर की सफाई होती हैं।
  • कार्बोहाइड्रेट युक्त कुछ खाने का मन है तो दालचीनी वाली चाय पिएं।
  • नाश्ते के तौर पर हल्का-फुल्का खाने के लिए भुनी हुई शकरकंद या केले के चिप्स में जैतून का तेल मिलाकर खाएं।

क्या खाएं

नाश्ता: सुबह गुनगने पानी में आधा नींबू का रस मिलाकर पिएं। इसके बाद पांच बादाम खाएं। एक घंटे बाद घीया, टमाटर या खीरे का एक गिलास जूस पिएं। पुदीना, अदरक, नींबू व काली मिर्च मिला लें। नमक न मिलाएं।

दो-ढाई घंटे बाद: कैफीन फ्री हर्बल चाय के साथ एक फल खाएं।
दोपहर का भोजन: एक कटोरा सलाद खाएं। सलाद में हरी पत्तेदार चीजें अधिक लें। उसमें मशरूम, खीरा, सीताफल व अलसी के कुछ बीज व शिमला मिर्च आदि मिलाएं।

शाम का नाश्ता: एक फल हर्बल चाय के साथ लंे।

रात का भोजन: हरी पत्तेदार सब्जियों से बना एक बड़ा कटोरा सूप और एक कटोरा उबली हुई सब्जियां।

व्यायाम:

कम से कम हर रोज 45 मिनट करें।

पानी: अधिक से अधिक पानी पिएं। पानी में एक खीरे के टुकड़े व नींबू के टुकड़े व पुदीने की पत्तियां रख लें। इसी पानी को पूरे दिन पिएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status