Friday , 24 January 2020
Home » Diabetes » शुगर को जड से मिटाने के लिए रामबाण आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर लाभ ले|

शुगर को जड से मिटाने के लिए रामबाण आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर लाभ ले|

शुगर को जड से मिटाने के लिए रामबाण आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर लाभ ले|

अधिकतर व्यक्ति केवल शुगर की जाँच करवाते है ,यह उनकी भूल हे ,ध्यान रहे की मधुमेह के मूत्र परिक्षण से ही

शुगर,कास्ट,फास्फेट,रक्त एंव एलब्युमिन की जानकरी होती है .

आधुनिक चिकित्सको का यह सोचना है की यूरिया एंव क्रितिनिन वर्धि तथा मूत्र से एल्ब्यूमिन के निकलने को बंद

करने की दवा नही बनी यह एक भूल ही है .मधुमेह रोग में आयुर्वेदिक ओषधिया सहयोग के rp में नियंत्रित रखती है .

और पूरी जिन्दगी सामान्य किर्या कलापों से चलती रहती है और रोगी कभी गुर्दा रोग से पीड़ित नही होता है

मधुमेह रोगी जीवन -भर ये नुस्खे प्रयोग करते रहे तो उनका जीवन अच्छा चलता रहेगा .

1.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- हल्दी चूर्ण 100 ग्राम, आंवला चूर्ण 150 ग्राम दोनों को मिलाकर रख ले .खाने के 1 घंटा पूर्व सुबह व रात

में पोना चम्मच दवा एक गिलास ताजा पानी के साथ लेते रहने से शर्करा समान स्तर पर बनी रहती है .यह ओषधि

अग्नाशय में इन्सुलिन उचित मात्रा में बनाता है .

यह नुस्खा अनेक रोगियों पर अजमाया हुआ है ,सबको लाभ मिला है .

2.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- दारुहल्दी पेड़ के तने या शाखाओ के छोटे टुकड़े ,जो किसी भी जड़ी बूटियों वाले के मिल जाएगी 3-3 इंच

लम्बे दो टुकडों को मोटा -मोटा कूट ले और इस चूर्ण की 1 चम्मच रात को 100 ग्राम पानी में भिगोकर रखे .और

सुबह इसे छान कर खाली पेट रोगी को पिला दे .लकिन याद रखना इस नुस्खे का प्रयोग जिस व्यक्ति की प्रकति

वायु कारक हो उसे ना दे

3.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- नीम के ताजा पत्ते 20 नग ,बेल के ताजा पत्ते 15 नग ,गुडमार बूटी सूखी 20 पत्ते ले और तीनो को

पानी डालकर सिलबट्टे पर पिस ले और इसमें 100 ग्राम पानी मिला छानकर खाली पेट पी ले .यह दिन में केवल

एक बार ही दे .10 से 15 दिनों में सुगर नोर्मल हो जाएगी .परीक्षित नुस्खा है .

4.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- आंवला 100 ग्राम ,तेज पत्ता 20 ग्राम ,गिलोय सत्व 10 ग्राम ,हल्दी 40 ग्राम ,गुडमार बूटी 80 ग्राम

मेथी 40 ग्राम ,काला जीरा 40 ग्राम इन सबको कूट पीसकर रख ले और

सूखे पलास पुष्प 5 नग रात को पानी के साथ कुल्हड़ में भिगो कर रख दे तथा सुबह उस पानी से इस चूर्ण की

1 चम्मच बासी मुंह ले .इसके बाद

बसंत कुसुमाकर सुबह नाश्ते के बाद तथा रात को 8 बजे 1-1 गोली फीके दूध के साथ सेवन करे .

5.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- सेमल की मुसली 100 ग्राम ,विदारीकन्द 100 ग्राम ,दारुहल्दी 40 ग्राम ,तालमखाना बीज 30 ग्राम

बड़ा गोखरू 30 ग्राम ,इसबगोल भूसी 10 ग्राम ,शुद्ध गंधक 10 ग्राम ,शुद्ध कुचला 5 ग्राम सभी ओषधि को

अलग -अलग कूट -पिस कर मिला ले और 1-1 चम्मच सुबह शाम ताजा पानी के साथ ले .और 1-1 गोली

चन्द्रप्रभा वटी की ले तथा रात को खाने के बाद 1 चम्मच त्रिफला चूर्ण अवश्य ले

6.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- गेंहू ,जो ,कलोंजी ,देशी बबूल का कच्चा गोंद .इन चारो को 100 -100 ग्राम लेकर दरदरा कूट ले और उनमे

3 लिटर पानी मिला हल्की आंच पर उबाले जब आधा पानी शेष रह जाये छानकर रख ले और 30 मिलीलिटर

सुबह खाली पेट पी ले 1 घंटे तक कुछ ना ले .

7.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- सूखे पलास पुष्प 5 नग ,पानी 100 ग्राम दोनों को कुल्हड़ में रख दे .सुबह फुल पानी में मसल पानी छान

कर बासी मुंह पी ले ,केवल एक बार ,हर हफ्ते के बाद एक फुल बढ़ा दे ,यह केवल 4 सप्ताह तक करे .

8.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- गुडहल  की कली 1-2 नग सुबह खाली पेट चबाकर खाए इस नुस्खे से पेशाब में कितनी भी शर्करा आयी हो

क माह में ठीक हो जाएगी .

9.- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- सरीफा के ताजा पत्ते 20 -25 नग ,400 ग्राम पानी में विजयसार की लकड़ी के गिलास में सुबह भिगो दे

तथा शाम को क्वाथ करे .जब पानी 50 -80 ग्राम रह जाये छानकर पी ले .इसी प्रकार रात को भिगोकर सुबह क्वाथ

बनाकर पिए .

10 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- पीपल की कोंपल 5 नग ,नीम कोंपल 5 नग ,तुलसी के पत्ते 5 नग ले .इन सबको धोकर कम में ले इसे

हाथो से मसलकर गोली बनाकर थोड़े से ताजा पानी के साथ निगल जाये .मधुमेह शीघ्र मिट जायेगा .

11 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- सुदर्शन चूर्ण 1 ग्राम ,अर्जुन छाल चूर्ण 1 ग्राम ,गंधक रसायन 1 रती ,शंख भस्म 1 रती ,टंकन भस्म 1 रती

अभ्रक भस्म 1 रती ,रस सिंदूर 1\4 रती यह एक मात्रा की दवा हे ऐसी दिन में दो बार गर्म पानी से ले .

12 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- मेथी दाना कुता हुआ 1 चम्मच रात को 100 ग्राम पानी में भिगोकर रखे .सुबह मसलकर छानकर इसी के

साथ शिवा गुटिका 2 गोली सुबह खाली पेट ले .एक महीने बाद जाँच करवा ले नार्मल आने पर दवा बंद कर दे .

13 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- सदाबहार लाल फूलों वाला के 5 पत्ते ,कढ़ी पत्ता के 5 पत्ते सुबह खाली पेट चबा ले ,केवल दस दिनों तक

ऐसा करे  सुगर नोर्मल हो जाएगी .

14 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- कलोंजी  50 ग्राम ,मेथी 50 ग्राम ,अस्वग्न्धा 50 ग्राम ,कासनी के बीज 25 ग्राम ,काले तिल 50 ग्राम इन

सबको कूट पीसकर रख ले और प्रति दिन खाली पेट एक चम्मच रोगी को पानी के साथ दे ,एक घंटे तक कुछ भी खाने

को ना दे .

15 .-शुगर (मधुमेह) –

दवा —- काली जीरी ,आंवला ,सोंफ तीनो 100- 100 ग्राम कूट पीसकर रख ले और 1 चम्मच सुबह खाली पेट ताजा

पानी के साथ दिन में एक बार ले इससे शुगर 1 महीने में नष्ट हो जाएगी .

16 .- शुगर (मधुमेह) –

दवा —- शुद्ध शिलाजीत 6 ग्राम ,प्रवाल भस्म 4 ग्राम ,रस सिंदूर 3 ग्राम ,नाग भस्म 1 ग्राम ,गुडमार बूटी 1 ग्राम

बबूल की कच्ची फली का चूर्ण ,जामुन की गुठली चूर्ण 1 ग्राम ,सबको कूट पीसकर छान खरल में रख गुडमार

काढ़े की एक भावना देकर सुखा ले  और गोलिया बना ले .2-2 गोली सुबह शाम गाय के दूध के साथ दे .

शुगर  बहुत लाभ मिलता है .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status