Tuesday , 20 November 2018
Home » फल » नींबू » सुबह खाली पेट निम्बू पानी पीते समय लाखों लोग एक गलती कर देते हैं जिस से पुरा फायदा नहीं मिल पाता

सुबह खाली पेट निम्बू पानी पीते समय लाखों लोग एक गलती कर देते हैं जिस से पुरा फायदा नहीं मिल पाता

Right way to drink Lemon Water, nimbu peene ka sahi tarika

सुबह खाली पेट निम्बू पीने के फायदे कौन नहीं जानता, इसके शरीर को Detoxification से लेकर अनेक फायदे है, इस से बढ़िया दिन की शुरुवात नहीं हो सकती, हार्ट, कैंसर, यूरिक एसिड के रोगियों के लिए तो ये अमृत के समान है.

मगर दुर्भाग्य से हम इसके पुरे स्वास्थ्य लाभ नहीं ले पा रहे, क्यूंकि निम्बू में जो सुपर पॉवर छुपी हुयी है हम उसको इगनोर कर देते हैं, और सिर्फ इसका छोटा सा उपयोग कर के खुश हो जाते हैं. ये तो ऐसे है जैसे हमारे पास खजाना है और हम सिर्फ एक मोती से ही खुश हो रहें हैं और बाकी को कूड़े में फेंक देते हैं. तो आइये ढूँढने की कोशिश करते हैं के क्या है वो गलती जो हम सभी जाने अनजाने में कर देते हैं.

BENEFIT OF LEMON WATER IN HINDI

एक्सपर्ट्स मानते हैं के हर रोज़ खाली पेट निम्बू पीना चाहिए, क्यूंकि इसमें Anti oxidants, Protein, Vitamin B, Vitamin c, flavonoids, phosphorus, potassium, carbohydrates होते हैं. ये सुपर Healthy जूस ढेरों गुणों से भरपूर है जैसे Anti Bacterial, Anti Viral, Immune Booster, और इन्फेक्शन से लड़ने की इसकी क्षमता. ऐसा इसमें पाए जाने वाले Bioflavonoids, Pectin, limonene, citric acid, magnesium, calcium, vitamin से होता है.

सुबह एक गिलास गर्म या गुनगुने पानी में निम्बू निचोड़ कर पीना आपको तुरंत पेट साफ़ करने में मदद करता है, आपका Digestion सही करता है, आपको वजन कम करने में मदद करता है, और बड़ी बात ये आपकी body का PH लेवल maintain करने में बहुत मदद करता है. और बड़ी बात के एक कप निम्बू पानी से आपकी दिन की vitamin सी की 187 % ज़रूरत पूरी हो जाती है.

मगर दुर्भाग्य से हम सिर्फ एक कॉमन गलती कर जाते हैं जब हम ये पानी पीते हैं, हम इसके छिलके को फेंक देते हैं, जो सबसे बुरी बात है, क्यूंकि निम्बू का छिलका निम्बू की सबसे अधिक Nutrition Properties रखता है, हम अक्सर ये करते हैं के निम्बू काटा और इसको निचोड़ कर पी लिया. मगर ये गलत है, अभी जानिए इसकी सही विधि.

निम्बू पानी बनाने की सबसे बेस्ट विधि.

सबसे पहले आप रात को निम्बू को धोकर फ्रीज़ कर दीजिये, सुबह जब ये बर्फ जैसा जम जाए तो इसको कद्दूकस कर लीजिये छिलके सहित, अभी इस कद्दूकस किये हुए निम्बू को गर्म या गुनगुने पानी में घोल दीजिये, और इसक फाइबर सहित ही पी लीजिये. इसके छिलके के इस्तेमाल के बाद ही हम कह सकते हैं के हमने निम्बू को सही मायने में उपयोग किया है. अन्यथा हमने इसको Waste ही किया है.

निम्बू के छिलके के गुण

निम्बू का छिलका fiber, potassium, magnesium, calcium, folate, और beta carotene का बहुत बड़ा स्त्रोत है. निम्बू का छिलका हमारी हड्डियों को मज़बूत करता है, इसमें काफी मात्रा में कैल्शियम और vitamin C पाया जाता है, निम्बू के छिलके का उपयोग Osteoporosis, Inflammatory Poly Arthritis, और Rheumatoid Arthritis जैसी बिमारियों से बचाता है. कैंसर के रोगियों के लिए तो ये बेहद रामबाण है. उनको नियमित इसका सेवन करना चाहिए. इसके छिलके में इसके रस से 10 गुणा अधिक vitamin सी पाया जाता है.

  • तनाव कम करे – इसके छिलकों में citrus bioflavonoids पाया जाता है, जो Oxidative Stress अर्थात तनाव टेंशन को ख़त्म करने में बेहद अहम् है.
  • कैंसर से लड़े – निम्बू का उपयोग कैंसर से लड़ने में बेहद सफलता पूर्वक किया जाता है, निम्बू के अन्दर 20 से ज्यादा एंटी कैंसर तत्व पाए जाते हैं. इसके उपयोग से कई प्रकार के कैंसर जैसे त्वचा का कैंसर, ब्रैस्ट कैंसर, आंतो का कैंसर इत्यादि में बहुत फायदा मिलता है, निम्बू का छिलका शरीर से ऐसे विषैले पदार्थ निकालने में समर्थ है जो शरीर में कैंसर बनाते हैं. निम्बू और इसके छिलके के सेवन से शरीर एल्कलाइन बनता है और एल्कलाइन शरीर में कैंसर नहीं पनपता, जैसा के हम अपनी पुरानी पोस्ट में बता चुके हैं.

[पढ़ें – एल्कलाइन करो और बीमारी मुक्त बनो]

  • हृदय रोगों में – जैसा के हम अपनी पुरानी पोस्ट में बता चुके हैं के हृदय के जितने भी रोग हैं वो vitamin सी के कमी के कारण होते हैं, ऐसे में निम्बू के छिलके में 10 गुणा अधिक vitamin सी मिलने के कारण ये हृदय के सभी रोग मसलन, ब्लड प्रेशर, बैड कोलेस्ट्रॉल, हृदयाघात और स्ट्रोक जैसी बिमारियों में बेहद महत्वपूर्ण है. इसको आप डिटेल में यहाँ से पढ़ सकते हैं.

[पढ़ें – हृदय रोगों का अंत] 

  • त्वचा रोगों में – निम्बू का छिलका बैक्टेरियल इन्फेक्शन, फंगस आदि पर भी बहुत प्रभावी है. इसका नियमित प्रयोग आपको मुंहासे और दूसरी त्वचा सम्बन्धी रोगों में बहुत उपयोगी है.
  • इसके अलावा इसके अनेकों स्वस्थ्य लाभ हैं जैसा के हमने ऊपर भी बताया के सूजन, दर्द और घुटनों सम्बंधित अनेक समस्याएँ स्वतः ही हल होंगी.

One comment

  1. wonderful and right suggestions

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status