Tuesday , 17 July 2018
Home » Health » बवासीर » खुनी और बादी बवासीर के लिए घरेलु उपचार – bawasir ka ilaj

खुनी और बादी बवासीर के लिए घरेलु उपचार – bawasir ka ilaj

बवासीर मुख्यत दो प्रकार की होती हैं। खुनी बवासीर और बादी बवासीर। खुनी बवासीर में मस्से सुर्ख होते हैं, और उनसे खून गिरता हैं, जबकि बादी बवासीर में मस्सो में खाज, पीड़ा और सूजन बहुत होती हैं। अतिसार, संग्रहणी और बवासीर-ये तीनो एक दूसरे को पैदा करते हैं। जो लोग बवासीर से बहुत परेशान हैं, वो शौच करने के बाद मलद्वार में ऊँगली डाल कर सफाई करे तो कभी बवासीर नहीं होगी। ये थोड़ा अटपटा लगता हैं, मगर ऐसा करने से आप तारो ताज़ा महसूस करेंगे, और आपको बवासीर की शिकायत नहीं होगी। इसके बाद आप सरसों का तेल भी ऊँगली की सहायता से अंदर लगाये, इसको गणेश किर्या भी कहा जाता हैं।

[ ये भी पढ़िए bawasir ka ilaj बवासीर का इलाज ]

बवासीर के रोगी को बादी और तले पदार्थ नहीं खाने चाहिए, जिनसे पेट में कब्ज हो। बवासीर के रोगी को चाहिए के वो कब्ज ना रहने दे। इसलिए वो रात को दूध में एक चम्मच गाय का घी या बादाम रोगन डाल कर पिए। और इसके साथ हर सुबह नित्य कर्म से निर्व्रत हो कर 15 मिनट कपाल भाति प्राणायाम ज़रूर करे। भोजन हल्का और सुपाच्य ले।

आइये जाने बवासीर को ख़त्म करने के आयुर्वेदिक सरल उपचार। 

केला और कत्था

पके केले को बीच में से चीरकर दो टुकड़े कर ले और उस पर कत्था पीसकर, थोड़ा थोड़ा बुरक ले। कत्था बाजार से पिसा पिसाया मिल जाता हैं। इस के बाद केले के उन टुकड़ो को खुली जगह पर आसमान के नीचे रख दे। सुबह होने पर खाली पेट  उन टुकड़ो का सेवन करे। एक हफ्ते ये प्रयोग करे, कैसी भी बवासीर हो, नष्ट हो जाती हैं।

तुरई

आधा किलो तुरई को बारीक काटकर २ लीटर पानी में उबाल लिया जाए और छान लिया जाए और प्राप्त पानी में1 बैंगन को पका लें। बैंगन पक जाने के बाद इसे घी में भूनकर गुड़ के साथ खाने से बवासीर में बने दर्द तथा पीड़ा युक्त मस्से झड़ जाते हैं। ये प्रयोग ३ से 5 दिन तक करे। और इस को करने से पहले और बाद में एक घंटे तक कुछ न खाए।

नारियल की जटा

नारियल की जटा लीजिए। उसे माचिस से जला दीजिए। जलकर भस्म बन जाएगी। इस भस्म को शीशी में भर कर ऱख लीजिए। कप डेढ़ कप छाछ या दही के साथ नारियल की जटा से बनी भस्म तीन ग्राम खाली पेट दिन में तीन बार सिर्फ एक ही दिन लेनी है। ध्यान रहे दही या छाछ ताजी हो खट्टी न हो। कैसी और कितनी ही पुरानी पाइल्स की बीमारी क्यों न हो, एक दिन में ही ठीक हो जाती है।

जीरा

जीरे को भूनकर उसमे ज़रूरत अनुसार मिश्री मिलाकर मुंह में डालकर चूसे और बिना भूने जीरे को पानी के साथ पीसकर बवासीर के मस्सो पर लेप करे। इन दोनों उपचारो से बवासीर की पीड़ा में निश्चित शांति मिलती हैं।

[ ये भी पढ़िए कैंसर का इलाज Cancer ka ilaj ]

नीम्बू

खुनी बवासीर में नीम्बू को बीच में चीरकर उस पर चार ग्राम कत्था पीसकर बुरक दे और use raat में छत पर रख दे। सुबह इनको चूस लीजिये। ये प्रयोग पांच दिन करे। खुनी बवासीर के लिए ये उत्तम प्रयोग हैं।

रीठा और सफ़ेद मूसली

पचास ग्राम रीठे तवे पर रख कर कटोरी से ढक दीजिये और तवे के नीचे आग जल दे। एक घंटे में रीठे जल जाएंगे। ठंडा होने पर रीठो को खरल कर ले या सिल पर बारीक पीस ले। इसके बाद सफ़ेद कत्थे का चूर्ण बीस ग्राम और कुश्ता फौलाद तीन ग्राम ले कर उसमे रीठे का बीस ग्राम भस्म मिला दे। उसे सुबह शाम एक एक ग्राम मक्खन के साथ खाए। ऊपर से गर्म दूध पी ले। दोनों ही प्रकार की बवासीर में दस पंद्रह दिनों में आराम आ जाएगा। गुड, गोश्त, शराब, आम और अंगूर का परहेज करे।

प्याज

प्याज के छोटे छोटे टुकड़े कर के धुप में सुखा ले। सूखे टुकड़ो में से एक तोला प्याज ले कर गाय के घी में तले। बाद में एक माशा तिल और दो तोले मिश्री उसमे मिला कर रोज़ सुबह खाए। ये भी बवासीर का शर्तिया इलाज हैं।

[ ये भी पढ़िए जोड़ो के दर्द का इलाज  jodo ke dard ka ilaj, Joint pian ka ilaj, जॉइंट पेन का इलाज ]

मूली

मूली का नियमित सेवन दोनों बवासीर को ठीक कर देता हैं।

मट्ठा

बवासीर में मट्ठा अमृत सामान हैं। लेकिन बिना सेंधा नमक मिलाये इसको नहीं पीना चाहिए। यदि बवासीर के रोगी को अपच हो तो उसको मट्ठा नियमित नियमपूर्वक पीना चाहिए।

गुड हरड़

गुड के साथ हरड़ खाने से बवासीर का तत्काल नाश होता हैं।

बकरी का दूध।

सुबह सवेरे रोज़ बकरी का दूध पीने से बवासीर का नाश होता हैं।

पेट और गैस से जुडी सैकड़ो बीमारियों से बचा सकता है – Gastro Sanjeevni

बवासीर के मस्सो पर लेप।

बवासीर के मस्सो पर लेप करने के लिए निम्नलिखित उपचार अपनाने चाहिए, ताकि शीघ्र ही इस कष्ट से मुक्ति मिले।

  1. हल्दी और कड़वी तोरई का लेप सभी प्रकार के मस्सो के लिए लाभदायक है। ये मस्सो को नष्ट करता हैं।
  2. आक और सहजन के पत्तो का लेप भी मस्सो को नष्ट करता हैं।
  3. नीम और कनेर के पत्तो का लेप मस्सो को खत्म करता हैं।
  4. कड़वा घीया और गुड को कांजी में पीसकर लेप करे। इस से मस्से नष्ट होते हैं।
  5. तम्बाकू के पत्ते महीन पीसकर मस्सो पर लगाने से ये शीघ्र ही नष्ट होते हैं।
  6. नीम और पीपल के पत्तो का लेप करने से मस्से नष्ट होते हैं।
  7. बड़ (बरगद) के पीले पत्ते जलाकर उनकी ६ मासे राख सरसों के तेल में मिलकर लेप करने से बवासीर के मस्से नष्ट होते हैं।
  8. गाय के घी में कुचला घिसकर लेप करने से, बवासीर के घाव ठीक हो जाते हैं।

[Read. Bawasir ka ilaj – नारियल की जटा से करे खुनी बवासीर का एक दिन में इलाज।]

 

 

27 comments

  1. Very nice

  2. Bhahut…achchha..

  3. vVery nice

  4. Barnabas Bijay Hembrom

    Medicines are very simple and effective.

  5. RAM DARASH SHARMA

    Please provide information related to “Lower back pain.”

  6. Ati uttam gyan

  7. very useful information thnx

  8. many many thnx

  9. Aisi jankari k liye very thanxxx

  10. खूनी बवासीर के लिए हमें घरेलू उपाय चाहिए

  11. Anima ke madhyam se, Iska tariqa kya hai

  12. sir mujhe gas jab rectum se pass hoti h to aisa lagta h jse paani ya pus see mehsoos hoti aur gas bahut banti h aur pet me jalan aur baar baar stool aata h aur bharipan bhi h kya koi ayurved me ilaaj h h

    • आप हफ्ते में एक दिन सिर्फ छाछ का सेवन करें… और बेल का चूर्ण या मुरब्बा डेली सेवन करें…

  13. very nice and happy

  14. Very nice posg jai hind jai bharat

  15. Sir i m jyoti… Main janna chahti hu ki kya blood piles me masse bhi hote hai

  16. Aur piles ko jad se khatam karne ke liye kya krna chahiye plzz help me

  17. itni sari jankari k liay thanx

  18. Mujhe bavasir hua hai mere pet me gaiss to banti h par khulati nhin h is ke liye koi ilaj h dimak me ulajhan pareshani hoti h jada kamar me dard hota h

  19. sir pls mere pecche piles (massa) hai jisse kafi tej khujle or fresh hone k badd jalan hoti hai so pls aisa ilaaj batayein ki yah jaldi jadse khatm ho jaye…..

  20. Very very thanx

  21. sir muje thora latin hone me drd hota h plzz thora hlp kre

  22. sir mujhe pet me gas bahut banti hai but jaldi release nhi hoti.sine me jalan aur gas aksar sine me chadh jati haii.pure sine me sir me bharipan bana rhta hai.subah fresh bhi jaldi nhi hota.pet ke left side hamesha kam jyada bharipan aur meetha dard bana rahta hai.kamjori bhi bahut aa gayi hai.kuch bhi khata ya pita hu to dakaar bahut aati hai.dakar nhi khulti to jee ghabrata hai.kya iska koi satik upay hai?plz help me sir

  23. श्रीमान,
    सादर प्रणाम,
    मुझे हमेशा कब्ज की समस्या रहती है ।सुबह पेट साफ नही होता है।
    पूरा दिन अजीब सा महसूस होता है।
    जोड़ो मे एवं सीने में दर्द तथा सर में चक्कर आते हैं।
    वर्तमान में मुझे कायचिकित्सक ने
    Liv52-ds,
    कुट्जघन वटी, एवं
    चित्रकादि वटी का प्रयोग करने की सलाह दी है जिसे मे पिछले 1.5 महीने से प्रयोग कर रहा हूँ। यह समस्या मुझे लगभग 4 महीने से है।
    श्रीमान मुझे15 साल से सोरायशीस भी है।
    कृपया मेरा मार्गदर्शन करने की कृपा करें।धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status