Friday , 17 August 2018
Home » Kitchen » FOOD » नाश्ते में दही खाने के आश्चर्यजनक फायदे।

नाश्ते में दही खाने के आश्चर्यजनक फायदे।

नाश्ते में दही खाने के आश्चर्यजनक फायदे।

नियमित् रूप से नाश्ते में दही का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक शक्ति का विकास होता है और संक्रामक रोग नही होते। दही से हमारे शरीर को भरपूर कैल्शियम, प्रोटीन, जिंक, राइबोफ़्लेविन तथा विटामिन B-12 मिलता है, इसके नियमित सेवन से हमारे शरीर की रोगों से लडने की शक्ति बढती है। आंवले के चूर्ण के साथ दही का सेवन करने से शरीर के सभी दोष दूर होते है।

आइए जानते है दही से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में।

अगर आप दही में थोडा सा गुड या आंवला पाउडर मिला कर खाए तो दही अमृत जैसा हो जाता है.

अपच:

दही में भुना हुआ पिसा जीरा, नमक और कालीमिर्च डालकर रोजाना खाने से अपच (भोजन न पचना) ठीक हो जाता है और भोजन जल्दी पच जाता है।

आधासीसी का दर्द:

यदि सिर दर्द सूर्य के साथ बढ़ता और घटता है तो इस तरह के सिर दर्द को आधासीसी (आधे सिर का दर्द) कहते हैं। आधासीसी (आधे सिर का दर्द) का दर्द दही के साथ चावल खाने से ठीक हो जाता है। सुबह सूरज उगने के समय सिर दर्द शुरू होने से पहले रोजाना चावल में दही मिलाकर खाना चाहिए।

बच्चों का भोजन:

दही, मां के दूध के बाद बच्चे का सबसे अच्छा भोजन होता है। बुल्गोरिया में जिन बच्चों को मां का दूध उपलब्ध नहीं हो पाता है। उन बच्चों को खाने के लिए दही ही दिया जाता है।

वजन करे कम-

दही में मौजूद कैल्शियम शरीर पर फैट नहीं बढ़ने देता। शरीर पर बढ़ा हुआ फैट कई तरह की समस्याओं को साथ ले आता है जैसे उच्च रक्तचाप और मोटापा। एक शोध के मुताबिक हर रोज 5 चम्मच दही पेट कम करने में मदद करता है।

हाई न्यूट्रिशन-

विटामिन ए, डी, और बी-12 से युक्त दही में 100 ग्राम फैट और 98 ग्राम केलोरी है। लगभग सभी लवण दही में मौजूद होते हैं। दही में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है जो हडि्डयों को मजबूत करता है।

पाचन के लिए बेहतर-

किसी भी प्रकार के खाने को दही से हजम किया जा सकता है क्योंकि दही भोजन प्रणाली को दुरूस्त बनाए रखता है। हर रोज एक कटोरी दही आपको एसिडिटी से भी दूर रखेगा और जिन्हें यह परेशानी रहती है उन्हें अपने खाने में दही जरूर शामिल करना चाहिए। दही से पेट की बहुत सारी परेशानियों को दूर किया जा सकता है।

बालों का झड़ना:

खट्टे दही को बालों की जड़ों में लगाकर थोड़ी देर मालिश करने के बाद उसे ठण्डे पानी से धो लें। इससे बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

गंजेपन का रोग:

दही को तांबे के बर्तन से ही इतनी देर रगडे़ कि वह हरा हो जाए। इसको सिर में लगाने से सिर की गंजेपन की जगह बाल उगना शुरू हो जाते हैं।

अफारा (पेट में गैस का बनना):

दही की छाछ (दही का खट्टा पानी) को पीने से अफारा (पेट की गैस) में लाभ होता है।

रतौंधी:

दही के पानी में कालीमिर्च को पीसकर आंखों में काजल की तरह लगाने से रतौंधी के रोग में आराम आता है।

जीभ की प्रदाह और सूजन:

दही में पानी मिलाकर रोजाना गरारे करने से जीभ की जलन खत्म हो जाती है।
दही के साथ पका हुआ केला सूर्योदय (सूरज उगने से पहले) से पहले खाने से जीभ में होने वाली फुन्सियां खत्म हो जाती है।

हडि्डयों और दांतों को मजबूत बनाए-

कैल्शियम और फास्फोरस हडि्डयों को मजबूत करने के लिए बेहद जरूरी लवण है और दही में यह भरपूर मात्रा में होते हैं। गठिया की बीमारी से परेशान लोगों के लिए दही बेहतर माना जाता है।

सेहतमंद दिल –

आज की भागदौड़ भरी जीवन शैली और जंक फूड खाने की आदत से आपके दिल पर काफी असर पड़ता है। हर रोज खाने में दही को शामिल करने से आपका दिल मजबूत रहेगा और कई बीमारियों से बचे रहेंगे। दही शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कोे कम करता है और ब्लड प्रेशर की समस्या से भी दूर रखता है।

सावधानी – दही का सेवन वर्षा, हेमन्त और शिशिर में नही करना चाहिए।

5 comments

  1. RAM GOPAL AGGARWAL

    Helpfull for healthy life.

  2. Veryuseful meterial

  3. बहुत अच्छे नस्खे है ! वन्दे मातरम

  4. प्रतीक बाबा

    आचार्य जि धन्यवाद !
    आचार्य जि हमारी 12 साल कि बिटिया को अल्सरेटिभ कोलाइटिस है
    कोहि अचुक घरेलु नुस्खे बताकर्‍ आभार किजिय।

    • उनको बेल का मुरब्बा और छाछ अधिक से अधिक पिलायें… खाने कि जगह छाछ ही पिलायें… और हो सके तो धीमी गति से कपाल भाति ज़रूर करवाएं…

  5. Very good Suggestions fr our Heath General but above of all ,All posts shares good fr health by the health to the health

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status