Thursday , 20 September 2018
Home » Kitchen » Oil & ghee » क्या आप भी खाते हैं शुद्ध देशी की तो यह पोस्ट एक बार जरूर पढ़ें onlyayurved

क्या आप भी खाते हैं शुद्ध देशी की तो यह पोस्ट एक बार जरूर पढ़ें onlyayurved

क्या आप भी खाते हैं शुद्ध देशी की तो यह पोस्ट एक बार जरूर पढ़ें

शुध्द देशी घी की असलियत

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बाजार में मिलने वाले शुद्ध देशी घी की असलियत के बारे में बता रहे हैं। कृपया इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ें। हम आपको किसी कंपनी विशेष का नाम ना ले कर बाजार में मिलने वाले लगभग 80% कंपनियों के शुद्ध देसी घी की हकीकत बता रहे हैं। दोस्तो आपने उत्तर प्रदेश में कानपुर का नाम तो सुना ही होगा।चमड़ा सिटी के नाम से मशहूर कानपुर में जाजमऊ से गंगा जी के किनारे किनारे 10 -12 किलोमीटर के दायरे में आप घूमने जाओ तो आपको नाक बंद करनी पड़ेगी।Realty of packed deshi  ghee in hindi

यहाँ सैंकड़ों की तादात में गंगा किनारे भट्टियां धधक रही होती हैं।इन भट्टियों में जानवरों को काटने के बाद निकली चर्बी को गलाया जाता है।इस चर्बी से मुख्यतः 3 चीजे बनती हैं।

1- एनेमल पेंट (जिसे हम अपने घरों की दीवारों पर लगाते हैं)

2- ग्लू (फेविकोल इत्यादि, जिन्हें हम कागज, लकड़ी जोड़ने के काम में लेते हैं)

3- और तीसरी जो सबसे महत्वपूर्ण चीज बनती है वो है “शुध्द देशी घी”

जी हाँ ” शुध्द देशी घी” व्ही देशी घी जो आपकेे यहाँ थोक मंडियों में 120 से 150 रूपए किलो तक भरपूर बिकता है।

इसे बोलचाल की भाषा में “पूजा वाला घी” बोला जाता है।Realty of packed deshi  ghee in hindi

इसका सबसे ज़्यादा प्रयोग भंडारे कराने वाले करते हैं। लोग 15 किलो वाला टीन खरीद कर मंदिरों में दान करके पूण्य कमा रहे हैं।

इस “शुध्द देशी घी” को आप बिलकुल नही पहचान सकते, बढ़िया रवे दार दिखने वाला ये ज़हर सुगंध में भी एसेंस की मदद से बेजोड़ होता है।

भारत के औद्योगिक क्षेत्रों के कोने कोने में फैली वनस्पतिक और देशी घी बनाने वाली फैक्टरियां भी इस ज़हर को बहुतायत में खरीदती हैं।

अब आप स्वयं सोच लो आप जो वनस्पति घी ” डा$डा” “फॉर्च्यू$” खाते हो डिब्बा या बन्द देशी घी खाते हो उसमे क्या मिलता होगा। इसके सेवन से ना केवल आपका शरीर खराब होता है, बल्कि आप का धर्म भी भ्रष्ट हो रहा है।

इसमें हैरानी की कोई बड़ी बात नही देशी घी बेंचने का दावा करने वाली कम्पनियाँ भी इसे प्रयोग करके अपनी जेब भर रही हैं।Realty of packed deshi  ghee in hindi

इसलिए ये बहस बेमानी है कि कौन घी को कितने में बेच रहा है।

अगर शुध्द ही खाना है तो अपने घर में गाय पाल कर ही आप शुध्द खा सकते हो । अगर नहीं पाल सकते तो भी कोई बड़ी बात नहीं है, आप अपने नजदीक किसी गोशाला को ढूंढिए और वहाँ से देशी गाय का शुद्ध घी इस्तेमाल कीजिए । गौशाला का देशी घी आपको और आपके परिवार को बड़ी बड़ी बीमारियों से भी बचाएगा और आपका धर्म भी भिष्ठ नही होगा।साथ ही आप ऐसा करके एक तरह से गौमाता की रक्षा भी कर सकेंगे ।

यह भी पढ़े:- गाय के घी के फायदे

दोस्तों आपको हमारी आज की यह पोस्ट Realty of packed deshi  ghee in hindi  कैसी लगी हमें जरूर बताएं और अगर आपको इस पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल पूछना है तो आप हमें इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।इस पोस्ट को शेयर जरूर करें ताकि आपके जितने भी फेसबुक के दोस्त हैं उन सभी को भी इस हकीकत का मालूम चल सके।आपने पोस्ट को पूरा पढ़ा इसके लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद ।वंदे गौ मातरम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status