Monday , 18 November 2019
Home » motapa tritament otapa » मेद रोग ( मोटापा ) के लिए अनुभव किये हुए आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर अनुभव ले

मेद रोग ( मोटापा ) के लिए अनुभव किये हुए आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर अनुभव ले

मेद रोग ( मोटापा ) के लिए अनुभव किये हुए आयुर्वेदिक नुस्खे -बनाकर अनुभव ले

मोटापा के बारे में अलग -अलग विचार हे .किसी का मानना हे कि ये वंशानुगत है ,या अधिक वसा के कारण

होता है ,या गिर अधिक मीठा खाने से मोटापा बढ़ जाता है .

मेद एक धातु हे जो शरीर को पुष्ट करता है ,पर जब हम श्लेष्मा को पैदा करने वाले पदार्थो का अधिक सेवन

करने लगते है ,मेहनत नही करते .खाना खाते ही सों जाते है,तब मेद धातु बढ़ते रहने से शरीर फुल जाता है

मेद शरीर को मोटापा तो देती है परन्तु शरीर को व अंगो को थोथुल बना देती है.पेट की चर्बी बढने से पेट बाहर

निकल आता है .

इसलिए मोटापा को घटाने के लिए कुछ अनुभव किये नुस्खे बता रहे हे लाभ ले .

1 .- मोटापा घटाना –

विधि —- त्रिफला चूर्ण ,गिलोय चूर्ण को बराबर मात्रा में मिलाकर रख ले .यही चूर्ण 3-3 ग्राम की मात्रा में सुबह

शाम एक गिलास पानी में नींबू व शहद मिलाकर उसके साथ ले .

15 दिनों में रिजल्ट मिल जाता है .

2.- मोटापा घटाना-

विधि —- काली जीरी ,कुटकी बराबर -बराबर लेकर कूट -पीसकर मिला ले .अब 500 mg के केप्सुलो में भर ले .

1-1 केप्सूल सुबह -शाम खाली पेट गुनगुने पानी से दे .एक घंटे तक खाने को कुछ ना दे .

खाने के आधे घंटे बाद -आरोग्य वर्धिन वटी -चित्रकादी वटी -मेदोहर गूगल तीनो की दो -दो गोली सुबह -शाम

दूध या पानी से दे .

3.- मोटापा घटाना –

विधि —- हरड  ,बेहड़ा ,आंवला ,बायबिडंग ,सोंठ ,छोटी पीपल ,कालीमिर्च ,चित्रक मूल ,नागरमोथा ये सभी 50-50

ग्राम लेकर कूटपीसकर छान ले और शुद्ध गूगल 900 ग्राम लेकर इमामदस्ते में रखे और उपर थोडा एरंड तेल

डालकर कूटे .यह कुछ मुलायम हो जायेगा .अब बाकि की दवायें मिलाकर कूटे और सभी अच्छी प्रकार से मिलाने के

बाद 2-2 रती की गोलिया बनाकर छाया में सुखा ले .और दो -दो गोली सुबह शाम खाली पेट सेवन करे .

यह दवा तीन महीने तक ले .लाभ होगा .

4 .- मोटापा घटाना –

विधि —- मेथी ,काली जीरी ,अजवायन ,हालो (चन्द्र्शुर) -सभी को बराबर -बराबर लेकर पिस छान मिलाकर रखे .

यह चूर्ण आधा चम्मच मात्रा में सुबह -शाम 200 ग्रा, पानी में दो चम्मच शहद मिलाकर उसके साथ ले .

5 .- मोटापा घटाना –

विधि —- मोरपंखी के ताजा पत्ते 250 ग्राम ,पानी 2 लिटर लेकर क्वाथ बनाये .1 लिटर शेष रहने पर इसमें 1 ग्राम

सोडियम बेज्योट डाल 3-4 उबाल देकर छान कर रख ले .यह क्वाथ 20 ml सुबह खाली पेट रोगी को पिलाये

एक घंटे तक कुछ नही खाने को दे .एक माह में 4-5 किलो वजन कम हो जाता है .

6.- मोटापा घटाना –

विधि —- मोरपंखी ताजा 10 किलो ,पानी 80 लिटर में 6 घंटे भीगने के बाद अर्क निकाल ले .इसका 50 लिटर

अर्क निकाल ले ,और इसमें 20 लिटर गोमूत्र अर्क मिला ले .यह अर्क 30-30 ml सुबह शाम खाली पेट .इसी अर्क

के साथ कुटकी ,काली जीरी वाला 1-1 केप्सूल तथा मेदोहर गूगल 1-1 गोली इसी के साथ दे .बहुत लाभ होगा .

7 .- मोटापा घटाना –

विधि —- पीपल के ताजे पत्ते 250 ग्राम को 2 लिटर पानी में उबाले जब एक लिटर शेष रह जाय तो छानकर

रख ले और प्रतिदिन 50 ग्राम की मात्रा में दे .लाभ होगा .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status