Wednesday , 12 December 2018
Home » पेड़ पौधे » bhumi anwla » भूमि आंवला लिवर के रोगियों के लिए वरदान।

भूमि आंवला लिवर के रोगियों के लिए वरदान।

भूमि आंवला लिवर के रोगियों के लिए वरदान।

भूमि आंवला लीवर की सूजन, सिरोसिस, फैटी लिवर, बिलीरुबिन बढ़ने पर, पीलिया में, हेपेटायटिस B और C में, किडनी क्रिएटिनिन बढ़ने पर, मधुमेह आदि में चमत्कारिक रूप से उपयोगी हैं।

यह  पौधा लीवर व किडनी के रोगो मे चमत्कारी लाभ करता है। यह बरसात मे अपने आप उग जाता है और छायादार नमी वाले स्थानो पर पूरा साल मिलता है। इसके पत्ते के नीचे छोटा सा फल लगता है जो देखने मे आंवले जैसा ही दिखाई देता है। इसलिए इसे भुई आंवला कहते है। इसको भूमि आंवला या भू धात्री भी कहा जाता है। यह पौधा लीवर के लिए बहुत उपयोगी है। इसका सम्पूर्ण भाग, जड़ समेत इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके गुण इसी से पता चल जाते हैं के कई बाज़ीगर भूमि आंवला के पत्ते चबाकर लोहे के ब्लेड तक को चबा जाते हैं।

बरसात मे यह मिल जाए तो इसे उखाड़ कर रख ले व छाया मे सूखा कर रख ले। ये जड़ी बूटी की दुकान पंसारी आदि के पास से आसानी से मिल जाता है।

साधारण सेवन मात्रा

आधा चम्मच चूर्ण पानी के साथ दिन मे 2-4 बार तक। या पानी मे उबाल कर छान कर भी दे सकते हैं। इस पौधे का ताज़ा रस अधिक गुणकारी है।

लीवर की सूजन, बिलीरुबिन और पीलिया में फायदेमंद।

लीवर की यह सबसे अधिक प्रमाणिक औषधि है। लीवर बढ़ गया है या या उसमे सूजन है तो यह पौधा उसे बिलकुल ठीक कर देगा। बिलीरुबिन बढ़ गया है , पीलिया हो गया है तो इसके पूरे पौधे को जड़ों समेत उखाडकर, उसका काढ़ा सुबह शाम लें। सूखे हुए पंचांग का 3 ग्राम का काढ़ा सवेरे शाम लेने से बढ़ा हुआ बाईलीरुबिन ठीक होगा और पीलिया की बीमारी से मुक्ति मिलेगी। पीलिया किसी भी कारण से हो चाहे पीलिया का रोगी मौत के मुंह मे हो यह देने से बहुत अधिक लाभ होता है। अन्य दवाइयो के साथ भी दे सकते (जैसे कुटकी/रोहितक/भृंगराज) अकेले भी दे सकते हैं। पीलिया में इसकी पत्तियों के पेस्ट को छाछ के साथ मिलाकर दिया जाता है।
वैकल्पिक रूप से इसके पेस्ट को बकरी के दूध के साथ मिलाकर भी दिया जाता है। पीलिया के शुरूआती लक्षण दिखाई देने पर भी इसकी पत्तियों को सीधे खाया जाता है।

कभी नहीं होगी लीवर की समस्या।

अगर वर्ष में एक महीने भी इसका काढ़ा ले लिया जाए तो पूरे वर्ष लीवर की कोई समस्या ही नहीं होगी। LIVER CIRRHOSIS जिसमे यकृत मे घाव हो जाते हैं यकृत सिकुड़ जाता है उसमे भी बहुत लाभ करता है। Fatty LIVER जिसमे यकृत मे सूजन आ जाती है पर बहुत लाभ करता है।

हेपेटायटिस B और C में. Hepatitis b – hepatitis c

हेपेटायटिस B और C के लिए यह रामबाण है। भुई आंवला +श्योनाक +पुनर्नवा ; इन तीनो को मिलाकर इनका रस लें। ताज़ा न मिले तो इनके पंचांग का काढ़ा लेते रहने से यह बीमारी बिलकुल ठीक हो जाती है।

डी टॉक्सिफिकेशन

इसमें शरीर के विजातीय तत्वों को दूर करने की अद्भुत क्षमता है।

मुंह में छाले और मुंह पकने पर

मुंह में छाले हों तो इनके पत्तों का रस चबाकर निगल लें या बाहर निकाल दें। यह मसूढ़ों के लिए भी अच्छा है और मुंह पकने पर भी लाभ करता है।

स्तन में सूजन या गाँठ।

स्तन में सूजन या गाँठ हो तो इसके पत्तों का पेस्ट लगा लें पूरा आराम होगा।

जलोदर या असाईटिस

जलोदर या असाईटिस में लीवर की कार्य प्रणाली को ठीक करने के लिए 5 ग्राम भुई आंवला +1/2 ग्राम कुटकी +1 ग्राम सौंठ का काढ़ा सवेरे शाम लें।

खांसी

खांसी में इसके साथ तुलसी के पत्ते मिलाकर काढ़ा बनाकर लें .

किडनी

यह किडनी के इन्फेक्शन को भी खत्म करती है। इसका काढ़ा किडनी की सूजन भी खत्म करता है। SERUM CREATININE बढ़ गया हो, पेशाब मे इन्फेक्शन हो बहुत लाभ करेगा।

स्त्री रोगो में।

प्रदर या प्रमेह की बीमारी भी इससे ठीक होती है। रक्त प्रदर की बीमारी होने पर इसके साथ दूब का रस मिलाकर 2-3 चम्मच प्रात: सायं लें। इसकी पत्तियाँ गर्भाधान को प्रोत्सहित करती है। इसकी जड़ो एवं बीजों का पेस्ट तैयार करके चांवल के पानी के साथ देने पर महिलाओ में रजोनिवृत्ति के समय लाभ मिलता है।

पेट में दर्द

पेट में दर्द हो और कारण न समझ आ रहा हो तो इसका काढ़ा ले लें। पेट दर्द तुरंत शांत हो जाएगा। ये पाचन प्रणाली को भी अच्छा करता है।

शुगर में

शुगर की बीमारी में घाव न भरते हों तो इसका पेस्ट पीसकर लगा दें . इसे काली मिर्च के साथ लिया जाए तो शुगर की बीमारी भी ठीक होती है।

पुराना बुखार

पुराना बुखार हो और भूख कम लगती हो तो , इसके साथ मुलेठी और गिलोय मिलाकर, काढ़ा बनाकर लें। इसका उपयोग घरेलू औषधीय के रूप में जैसे ऐपेटाइट, कब्ज. टाइफाइट, बुखार, ज्वर एवं सर्दी किया जाता है। मलेरिया के बुखार में इसके संपूर्ण पौधे का पेस्ट तैयार करके छाछ के साथ देने पर आराम मिलता है।

आँतों का इन्फेक्शन

आँतों का इन्फेक्शन होने पर या अल्सर होने पर इसके साथ दूब को भी जड़ सहित उखाडकर , ताज़ा ताज़ा आधा कप रस लें . रक्त स्त्राव 2-3 दिन में ही बंद हो जाएगा .

अन्य उपयोग।

खुजली होने पर इसके पत्तों का रस मलने से लाभ होता है।
इसे मूत्र तथा जननांग विकारों के लिये उपयोग किया जाता है।
प्लीहा एवं यकृत विकार के लिये इसकी जडों के रस को चावल के पानी के साथ लिया जाता है।
इसे अम्लीयता, अल्सर, अपच, एवं दस्त में भी उपयोग किया जाता है।
इसे बच्चों के पेट में कीडे़ होने पर देने से लाभ पहुँचाता है।
इसकी पत्तियाँ शीतल होती है।
इसकी जडों का पेस्ट बच्चों में नींद लाने हेतु किया जाता है।
इसकी पत्तियों का पेस्ट आंतरिक घावों सुजन एवं टूटी हड्डियो पर बाहरी रूप से लगाने में किया जाता है।
एनीमिया, अस्थमा, ब्रोकइटिस, खांसी, पेचिश, सूजाक, हेपेटाइटिस, पिलिया एवं पेट में ट्यूमर होने की दशा में उपयोग किया जा सकता है।

इसका कोई साइडेफेक्ट नहीं है।

लिवर व् किडनी रोगियों के लिए विशेष।

लीवर व किडनी के रोगी को खाने मे घी तेल मिर्च खटाई व सभी दाले बंद कर देनी चाहिए। मूंग की दाल कम मात्रा मे ले सकते हैं। मिर्च के लिए कम मात्रा मे काली मिर्च व खटाई के लिए अनारदाना प्रयोग करना चाहिए।भोजन मे चावल का अधिक प्रयोग करना चाहिए। हरे नारियल का पानी बहुत अच्छा है।

भोजन –

1- सभी किस्म की दाले बंद कर दे। केवल मूंग बिना छिलके की दाल ले सकते।
2-लाल मिर्च, हरी मिर्च, अमचूर, इमली, गरम मसाला और पैकेट का नमक बंद कर दे।
3- सैंधा नमक और काली मिर्च का प्रयोग करे बहुत कम मात्रा मे।
4- यदि खटाई की इच्छा हो खट्टा सूखा अनारदाना प्रयोग करे।
5- प्रतिदिन लगभग 50 ग्राम किशमिश/दाख/ मुनक्का (सूखा अंगूर) , खजूर व सुखी अंजीर पानी मे धो कर खिलाए।
6- चावल उबालते समय जो पानी (माँड़) निकलता है वह ले। वह स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है।
7- गेहू का दलिया, लौकी की सब्जी, परवल की सब्जी दे
8- भिंडी, घुइया (अरबी), कटहल आदि न खाए।
9- सफ़ेद पेठा (कूष्माण्ड जिसकी मिठाई बनाई जाती है) वह मिले तो उसका रस पिए व उसकी सब्जी खाए। पीले रंग का पेठा जिसे काशीफल या सीताफल कहते हैं वह न खाए।

[Must. Read. लिवर के रोगियों के लिए अमृत हैं ये 4 चीजे।]

Liver Reactivator – लीवर की संजीवनी – मात्र 380 रु में लीवर को दीजिये जीवनदान

liver reactivator, liver ka ilaj, jaundice ka ilaj, liver reactivator

Liver ReActivator – लीवर सिरोसिस, हेपेटाइटिस, फैटी लीवर सहित लीवर की सभी बिमारियों के लिए रामबाण

Liver ReActivator – लीवर सिरोसिस, हेपेटाइटिस, फैटी लीवर, बढे हुए SGPT और SGOT सहित लीवर की सभी बिमारियों के लिए रामबाण है, इसको हमने लीवर के अनेक मरीजों को दिया और बहुत ही सकारात्मक परिणाम भी पायें हैं.

Liver ReActivator Formulation

इसकी Formulation बहुत बढ़िया है. यह भूमि आंवला, पुनर्नवा, कासनी, मकोय, भृंगराज,अरंड, दारुहल्दी, हरड, कुटकी जैसी 9 नायाब औषधियों का मिश्रण है. इसमें सबसे अधिक मात्रा में भूमि आंवला मिलाया गया है. जो के लीवर के सभी रोगों के लिए अमृत है.

Liver ReActivator Price

Liver Reactivator को हर वर्ग तक पहुंचाने के उद्देश्य से Only Ayurved ने इसके मूल्य बहुत कम रखा है. यह 200 ml की बोतल है और इसकी कीमत सिर्फ 160 रुपैये है,  500 ml की बोतल है और इसकी कीमत सिर्फ 380 है.  वो रोगी जिनको लीवर की कोई भी समस्या हो चाहे वो Fatty liver, Liver cirrhosis, Alcoholic liver, digestive problem, hepatitis, jaundice इत्यादि हों, उनमे इसका उपयोग बेहद लाभकारी है.

[SGOT Test In Hindi]

Liver Reactivator का सेवन.

Liver Reactivator को अगर सुबह खाली पेट एलो वेरा और पंच तुलसी के साथ लिया जाए तो ये बहुत ही ग़ज़ब का रिजल्ट देगा, इसके लिए Only Ayurved का एलो वेरा जो के क्वालिटी में कई विदेशी कंपनी को टक्कर देता है 500 ml सिर्फ 380 रुपैये का है और पंच तुलसी जो 30 ml 120 की है, एक गिलास पानी में 30 ml एलो वेरा मिला कर 10 ml Liver Re activator और 2 बूँद मिला कर लेना चाहिए.

[Jaundice ka ilaj]

Liver ReActivator Result

उपरोक्त विधि से Liver Reactivator लेने पर इसके नतीजे सिर्फ 15 दिन में दिखेंगे. पूर्ण आराम के लिए इसको 3 महीने तक लेना चाहिए.

Liver ReActivator Availability

आपके नजदीकी Only Ayurved Dealer list और उनकी Location

बिहार

पटना – 7677551854, 7480099296

छपरा – 9473221039

छत्तीसगढ़

बिलासपुर – 9584891808, 9926758959, 9300333438

रायपुर – 9644133772

दुर्ग भिलाई – 9691305217

झारखण्ड

मनिका – लातेहार – 9801290105

पश्चिम बंगाल – West Bengal

कोलकाता –  7003386968

असम

सिलचर – 9954000321

महाराष्ट्र

मालेगांव (नासिक) – डॉ. फरीद शेख 9860785490

धुले – 9860704470

नासिक – 9270928077

पुणे – 9209211786

अकोला – 7020579564

वर्धा – 9579997503

नागपुर – 8830998853

शोलापुर – 8308604642

कल्याण – 8454050864

टिटवाला – 9821315415

मलाड – 9967293444

घाटकोपर – 07738350032

बोरीवली – 9004316923

भंडारा – 9422174853

औरंगाबाद – 8208266068

विरार – 9892967369

अमरावती – 9765332255

कर्नाटक – Karnataka

धारवाड़ (Dharwad) – 9844984103

बैंगलोर (Bangalore) – 7019098485

तामिलनाडू

चेन्नई – 9884164854

तेलंगाना

हैदराबाद – 08374457775

गुजरात

अहमदाबाद – 9974019763

अहमदाबाद घाटलोडिया – 9974019763

पालनपुर ( डॉ. हिदायत मेमन )  –  9428371583

द्वारिका – 9033790000

चिकली – 9427869061

अमरेली – 9427888387

अंकलेश्वर – भरूच – 8460090090

बड़ोदा – 9725245318

सूरत –  8866181846, 9879157588

भुज / मुंद्रा  – 9974576143

मध्यप्रदेश

भोपाल – 7987552689

इटारसी – 6260342004

इंदौर – 9713500239

विदिशा – 9131055585

जबलपुर – 9039868554

ग्वालियर – 9229239248

कटनी – 9074901083

उत्तर प्रदेश

मेरठ – 8449471767

हाथरस ( U. P. ) –  9997397043, 7017840020

मथुरा ( वैध रविकांत जी ) – 9259883028

अलीगढ – 9027021056

आगरा – 8923234014

कासगंज – 7409463111

फ़िरोज़ाबाद – 8445222786 वैध रविन्द्र सिंह

मैनपुरी – 8449601801

फ़र्रुख़ाबाद – 9839196374

रायबरेली – 9236038215

वाराणसी – 9125349199

इलाहाबाद ( डॉ.  सी. पी. सिंह ) – 9520303303

गोरखपुर – 9792960999

सिद्धार्थ नगर – 9936404080

महाराजगंज – 9455426806

लखनऊ – 8417856005

इटावा – 9557463131 डॉ. कौशलेन्द्र सिंह

दिल्ली –  NCR

सराय कालें खां –  9015439622, 9871490307

सुभाष नगर – 9911006202

गाज़ियाबाद – 9719077555

Greater Noida – 9310299100

गुडगाँव – 9310330050

फ़रीदाबाद – 9315154682

हरियाणा

हिसार – 9518884444

हसनपुर पलवल – 9050272757

पानीपत – 9812126662

बाढ़डा ( चरखी दादरी ) – 9813210584

फ़रीदाबाद – 9315154682

चंडीगढ़ – 9877330702

डबवाली – 9416218182

पंजाब

मोगा – 9988009713

बठिंडा – 9779566697

डबवाली – 9416218182

कोट कपूरा – 9872320227

मलोट – 9878100518

मलेर कोटला – 9872439723

लुधियाणा – 9803772304

रोपड़ – 9478391123, 8528386098

जालंधर – 9814832828

अमृतसर – 8872295800

होशियारपुर उड़मुड टांडा – 9803208718

गुरदासपुर – 9815483791

मोहाली – 09216411342

मुकेरियां – 9815296322

चंडीगढ़ – 9877330702

राजस्थान

जयपुर – 8290706173, 8005648255

दौसा – 7737497140

जोधपुर – 8005724956

बीकानेर – 7062169968

अजमेर – 7976779225

सिरोही – 9875238595

उदयपुर – 9875238595

टोंक – 9509392472

अजीतगढ़ – 8005648255

फतेहपुर शेखावाटी – 9636648998

उदयपुर वाटी (झुंझुनू)  डॉ राकेश कुमार – 9351606755

संगरिया – 7597714736

हिमाचल प्रदेश

नालागढ़ – 9816022153

कुल्लू – 8219500630

चिन्तपुरणी – 9816414561

अगर आप Only Ayurved के साथ मिलकर ये काम करना चाहते हैं तो संपर्क कीजिये

उत्तर प्रदेश 7017840020

महाराष्ट्र – 9860758490

मुंबई – 8454050864

गुजरात – 8866141846

बिहार – 7677551854

हरियाणा – 9315154682

पंजाब – 9779566697

मध्य प्रदेश – 7987552689

छत्तीसगढ़ – 9300333438

अन्य राज्यों के लिए संपर्क करें. 7014016190

38 comments

  1. अति लाभदायक जानकारी। धन्यवाद श्रीमन्।
    मेरी आयु इकतालीस वर्ष है एवं मुझे लीवर की कुछ समस्या है। पीलिया या हेपेटाईटाईटिस नहीं है, किन्तु कुछ हद तक लीवर बढ़ा हुआ है। कारण… शराब एवं (जैसा कि डॉक्टर बताते हैं) एक बार कई वर्ष पहले बुखार हुआ था दवाईतों से ठीक हो गया था, पर शरीर से बाहर नहीं निकला और लीवर पर बैठ गया। शराब का सेवन अधिक नहीं करता, मात्र रात्रि में लगभग तीन पेग।
    यदि ईलाज इससे हो सकता हो तो कृप्या बतायें। यहाँ शहर में पूरा पौधा मिलना तो असंभव है। पंसारी से जो मिल जाये उसका प्रयोग कर सकता हूँ। कैसे करना है, कृप्या मार्गदर्शन करें।
    धन्यवाद।

  2. Rajesh R Upadhyay.

    Very informative & most essential one. Thanks a lot, pl. keep continue.

  3. My wife is suffering from continue bleeding.in medical terms it is called endometrosys.plzhelp me

  4. aap be achi jankari di.aap ko day was.

  5. Ayurveda is perfect treatment,

  6. Where I will get powder of Bhumi Awala

  7. Very nice work please continue this God help you. Thanks lot.

  8. Chandrakant N Sangai

    Please send this useful information on my e.mail. lt is required for me.

  9. Sir namaskaar 20 Feb 2016 KO mujhe hydrated cyst ka pata chala hai yeh infection ka upchar batain sir please

  10. Sir mere father ko liver mein infection or right leg mein vein infection bhi h 6mnth hgye h..
    Plz hlp

  11. thanks for giving such a nice report

  12. भूमि अमला कहाँ मिलेगा.क्रपया अवगत करायें.

  13. Please suggest how to take Bhumi amla powder and Punarnva for HCV and Fatty liver ? How many times in a day ? In empty stomach ??

    • Mujhe hapetitic C h plz tell me advise

      • भूमि आंवला और नारियल पानी इसके लिए वरदान है.. अभी तो बरसात का मौसम है तो भूमि आंवला बहुत आसानी से मिल जायेगा…

  14. Please suggest how to take Bhumi amla and Punarnva for HCV ? How many times in a day?? After meal or before meal ?

    • after 1 hour of meal or an empty stomach… juice of whole plant…. if not available plant then you can use its powder..

  15. kindly send this information to my e mail address – [email protected]
    thank you

  16. mujhe heptitas c tha mane rohatak pgi se injecasan bhi lgwa liye hai or mai ab bhi thik nhi hu
    koi bdiya upchar bataye

  17. भूमी आमला खरीदने के लिए सम्पर्क करै
    9713391319

  18. Please send me this very information on my email

  19. Bhoomi aamla ki pahchan ke liye contact karen 9713391319

  20. सत्येंद्र

    भुई आंवला या अन्य सभी जडीबुटी के लिये सम्पर्क करे कॉन्टेक्ट 07869197116

  21. Can we buy this product in market?

  22. Swamiayurveda429 @gmail.com.9928123009 Whatsup amla toni sugar free or humen sels impurvment toni.is avelable hanumangarh rajasthan

  23. My wife ko spleen badha h kya bhoomi amla juice se ise theek kiya ja sakta uko jaldi feaver hota rehta h jabki blood test report normal please help me

  24. Detection of australia antigen or hepatitis b surface antigen in patient’s serum

  25. Sir mujhe 4 years se acidity,gas,constripetion or cholesterol hai mai bahut paresan hu kafi dawa khaya lekin koi fayde nahi hua please sahi treatment batai

  26. Rajnish Kumar Singh

    Bhui awala ka paudhe ke liye 7977892225 pe sampark kare

  27. Sukhdeep singh Mann

    Bahi jis kisi ko bumi amla chahia vo ,,hamare. Khat me se free le skta hai but sawan me ok

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status