काली खांसी – कुकर खांसी में पूर्णत: तथा स्थायी लाभ।

काली खांसी – कुकर खांसी में पूर्णत: तथा स्थायी लाभ।

Home Remedy for whopping cough. Kali khansi – Kukar khansi.

ये अनुभव श्री रामनारायण अग्रवाल जी का है जो मर्गोरिटा (आसाम) में रहते हैं, उन्होंने अपने पत्र द्वारा सूचित किया के उनके एरिया में काली खांसी एक संक्रामक रोग की तरह फैली थी उससे पीड़ित 35 बच्चों को इन्होने इस प्रयोग से सही किया। तो आइये जानते हैं ये प्रयोग।

इनके अनुसार भुनी फिटकरी 2 ग्रेन (एक रत्ती) और मिश्री 2 ग्रेन (एक रत्ती) दोनों को मिलाकर दिन में दो बार खिलाई, जिस से लगभग 35 बच्चों को काली खांसी में पूर्णत: तथा स्थायी लाभ हुआ, चूँकि हमारे यहाँ बच्चों में काली खांसी एक से दूसरे को संक्रामक रोग की भाँती होती गयी।”

विशेष।

ये प्रयोग पांच दिन तक करें। आवश्यकता पड़ने पर एक दो दिन बढ़ाये जा सकते हैं। बड़ो को इसकी खुराक दोगुनी दें। और यदि बिना पानी के ना ले सकें तो एक दो घूँट गर्म पानी ऊपर से मिलाएं।

फिटकरी को भुनने की विधि पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

loading...

1 Comment

  1. कमलेश तहिलियानी

    लेनी किस तरह से है और कब खाली पेट या खाने के बाद

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

 Notify me of followup comments via e-mail.