Friday , 26 May 2017
Home » अनिद्रा » एक मिनट के इस टिप से दूर होगी अनिद्रा की शिकायत

एक मिनट के इस टिप से दूर होगी अनिद्रा की शिकायत

एक मिनट के इस टिप से दूर होगी अनिद्रा की शिकायत

हमें जीवन पर्यंत स्वस्थ रहने के लिए नींद अति आवष्यक है। राष्ट्रीय निद्रा संस्थान के अनुसार एक व्यक्ति के शरीर के विभिन्न कार्यो को सुचारू रूप से चलाने के लिए निद्रा की भूमिका महत्वपूर्ण है।

एक बार अकबर ने बीरबल से पूछा कि इस दुनिया में सबसे प्यारी चीज क्या है? बीरबल ने जवाब दिया- नींद। जीने के लिए खाना जितना जरूरी है उतनी ही नींद भी। रिसर्च के अनुसार इंसान 12-15 दिन तक बिना खाये रह सकता है लेकिन बिना सोए छ: दिन से ज्यादा नहीं रह सकता। तो ऐसे में नींद की जरूरत को समझा जा सकता है। शहरीकरण का सबसे ज्यादा नुकसान इंसान को अपनी नींद खोकर चुकाना पड़ा है। आज अधिक से अधिक शारीरिक औऱ मानसिक मेहनत कर लेने के बावजूद अनिद्रा की समस्या के मामले बढ़ रहे हैं। ऐसा क्‍यों हो रहा है और कैसे चैन की नींद लें, इसके बारे में इस लेख में जानते हैं।

  • शहरीकरण के दौर में अनिद्रा सबसे बड़ी बीमारी है।
  • अधिकतर लोग इनसोमनिया डिसऑर्डर के शिकार हैं।
  • “4-7-8” ब्रीथिंग ट्रिक इस डिसऑर्डर का बेहतर उपाय है।
  • इसमें हार्टबीट स्लो होती है और दिमाग को आराम मिलता है।

इनसोमनिया डिसऑर्डर

इंसान में कई तरह के स्लीपिंग डिसऑर्डर पाए जाते हैं। उनमें इनसोमनिया डिसऑर्डर सबसे ज्यादा होने वाली बीमारी है। इस बीमारी में मरीज रात को बिस्तर में लेटने के बाद भी जगे रहता है। पूरी कोशिश के बाद भी मरीज को नींद नहीं आती और वह बिस्तर पर लेटकर करवटें बदलता रहता है।

विशेषज्ञों के अनुसार 18 से 40 वर्ष तक के आयु वाले हर इंसान को 6 घंटे की नींद ज़रूरी होती है। लेकिन आज देर रात तक जागकर काम करने को लोगों ने क्रिएटिविटी का नाम दिया है। रात तक जागकर काम करने से एक समय के बाद अनिद्रा की शिकायत होना आम समस्या बन जाती है। ऐसे में एक समय के बाद रात को नींद नहीं आती।

यह ट्रिक क्या है जानने के लिए next पर क्लिक करे

यह ट्रिक क्या है जानने के लिए next पर क्लिक करे

One comment

  1. Very educative

Leave a Reply

Your email address will not be published.