Friday , 24 January 2020
Home » ankho ki guheri » आँखों की गुहेरी को कहे अलविदा -आजमाएं ये नुस्खे

आँखों की गुहेरी को कहे अलविदा -आजमाएं ये नुस्खे

आँखों की गुहेरी को कहे अलविदा -आजमाएं ये नुस्खे

परिचय –

पलको के ऊपर छोटी फुंसी के रूप में आती है और धीरे- धीरे बढती जाती है .इसके कारण कई बार पलको पर गांठे भी

हो जाती है ,गुहेरी पकती और फुट जाती है ,ऐसा कहा जाता हे की गुहेरी 7 बहनों के साथ आती है ये

7 से अधिक भी नकलती है .

1.- गुहेरी –

दवा —- रसांजन में समान मात्रा में त्रिकटु मिला तथा शहद के साथ बती बना ले .इसे पानी के साथ पिस गुहेरी

पर लेप करने से शीघ्र लाभ मिलता है ,

2.- आँख के ऊपर छोटी फुंसी (गुहेरी )-

दवा —- शिरीष के बीजो का चूर्ण जीरो नंबर के चूर्ण में भर ले और 1-1 केप्सूल सुबह शाम ताज पानी के साथ

10 दिनों तक ले छोटे बच्चों को आधी मात्रा में दे .

3.- गुहेरी –

दवा -1 . कांचनार गूगल 6 रती दिन में 3 बार पानी के साथ दे .

दवा -2. त्रिफला घर्त 10 ग्राम ,शहद 6 ग्राम मिलाकर रख ले ,यह दवा रात को सोते समय चाट कर ऊपर से दूध

पी ले इससे कई नेत्र रोग दूर होंगे .

4.- आँख की गुहेरी –

दवा —- पीसी हुई घेरेलु हल्दी में थोडा सा देशी घी मिलाकर रात को सोते समय फुंसी पर लगाकर सों जाये

सुबह ही फुंसी मिट जाएगी ,यदि फुंसी मोटी हो तो फुट जाए तब भी दवा लगाते रहे .

5 .- बच्चों का चश्मा छुडाना –

दवा —- सुखा आंवला 100 ग्राम ,सोंफ बारीक़ वाली 100 ग्राम ,गुडबंदी ,बादाम 50 ग्राम ,कालीमिर्च 25 ग्राम

चासकू बीज 20 ग्राम ,केसर 1 ग्राम .ले और केशर को छोडकर बाकि की दवाओ को कूट -पीसकर बारीक़ करके

केसर डालकर मिला ले और इसे एक बढ़ी चम्मच की मात्रा में सुबह खाली पेट व रात को सोने से पहले

दूध की मलाई या दूध के साथ दे और दवा के एक घंटे के भीतर कुछ ना दे .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status