Thursday , 19 July 2018
Home » Beauty » सुंदरता ही नहीं सेहत का भी खजाना है गुलाब….

सुंदरता ही नहीं सेहत का भी खजाना है गुलाब….

सुंदरता ही नहीं सेहत का भी खजाना है गुलाब….

 

शायद ही कोई ऐसा व्‍यक्‍ति हो, जिसे गुलाब से लगाव न हो। मसलन आज हर साल में से एक व्‍यक्‍ति की यही चाह व लालसा रहती है कि वह अपने घर के आंगन में गलाब की क्‍यारियां लगाए। शाही जमाने में राजकुमारियों, मलिकाओं, रानियों एवं सुंदरियों के नहानघरों में गुलाब जल की फुहारें उड़ाते फव्‍वारे लगे रहते थे। गुलाब की पंखुडि़यों से बना उबटन शाही सुंदरियों का मुख्‍य प्रसाधन था। फलत: गुलाब वर्षो से प्रसाधन व सज्‍जा सामग्री के रूप में तो उपयोगी होता ही रहा है, साथ ही औषधीय गुणों की खान भी है। गुलाब का इस्‍तमाल कई बीमारियों को ठीक करने के लिये प्रयोग होता है, आइये जानते हैं-

आंखों की देखभाल

गुलाब जल थकी हुई आंखों को तुरंत राहत प्रदान करने में बहुत कारगर होता है। आंखों में गुलाब जल के इस्‍तेमाल से आंखों में नई चमक आती है, और वह स्‍वस्‍थ लगती हैं। अगर आप कंप्‍यूटर के सामने बहुत ज्‍यादा समय बिताते हैं तो गुलाब जल आपका दोस्‍त साबित हो सकता है।

एस्ट्रिंजेंट

गुलाब के तेल में एस्ट्रिंजेंट के अद्भुत गुण होने के कारण यह मसूड़ों और बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करता है। साथ ही यह त्‍वचा की देखभाल, मांसपेशियों में मजबूती, आंतों और रक्त वाहिकाओं में भी मदद करता है। गुलाब के तेल का रक्त वाहिकाओं से अनुबन्ध होने के कारण यह घाव और चोट से निकलने वाले रक्त के प्रवाह को रोकने में बहुत कारगर होता है।

त्वचा की देखभाल

त्वचा के लिए फायदेमंद विस्तृत श्रृंखला उपलब्ध कराने के कारण गुलाब जल त्‍वचा की देखभाल के लिए बहुत लोकप्रिय है। गुलाब जल के इस्‍तेमाल का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह एक सर्वश्रेष्‍ठ टोनर भी है। गुलाब जल में प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट होने के यह एक सर्वश्रेष्‍ठ टोनर भी है। रोज रात को इसे चेहरे पर लगाने से त्‍वचा टाइट होती। यह त्वचा के पीएच संतुलन को बनाएं रखता है, मुंहासों को दूर करने में मदद करता है और बैक्टीरिया के संक्रमण से त्वचा की रक्षा करता है।

बालों की देखभाल

गुलाब जल का एक और आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ है इसमें बालों की देखभाल के प्रभावी गुण होते है। बालों की जड़ों में ब्‍लड के सर्कुलेशन में सुधार करता है जिससे बालों के स्‍वस्‍थ विकास में मदद मिलती है। इसके अलावा यह बालों को मजबूत और लचीला बनाने के लिए एक प्रभावी और प्राकृतिक कंडीशनर भी है।

एंटीडेप्रेसेंट

हालांकि गुलाब आपके चेहरे पर एक प्‍यारी से मुस्‍कान ला सकता है, लेकिन इसका तेल भी कम नहीं है। इसका तेल आत्मविश्वास और मानसिक शक्ति बढ़ा सकता हैं। गुलाब का तेल अवसाद और चिंता से लड़ने में मदद करता हैं। यह गुलाब का तेल अवसाद को कम करने के लिए एक कारगर उपाय के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है क्‍योंकि यह सकारात्‍मक विचारों और भावनाओं को आह्वान करता है।

गुलाब का फल

गुलाब के फल विटामिन ए, बी 3, सी, डी और ई से भरपूर होता है। इसमें उच्‍च मात्रा में मौजूद विटामिन सी के कारण डायरिया के इलाज के लिए इसका इस्‍तेमाल किया जाता है। गुलाब के फल में फ्लवोनोइड्स, बायोफ्लवोनोइड्स, सिट्रिक एसिड, फ्रुक्टोज, मैलिक एसिड, टैनिन और जिंक भी होता है।

एंटी फ्लॉजिस्टिक (सूजन कम करने वाला)

बुखार आने से रोकना भी गुलाब के तेल का एक अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य लाभ है। इसमें मौजूद एंटी इंफ्मेंटेरी तत्‍व सूक्ष्म जीवाणु संक्रमण के कारण सूजन, रसायन, अपच और निर्जलीकरण को कम करने में मदद करता हैं।

हर्बल चाय

गुलाब जल का इस्‍तेमाल एक हर्बल चाय के रूप में किया जाता है। यह पेट के रोगों और मूत्राशय में होने वाले संक्रमण को दूर करने के काम आती है। हर्बल गुलाब जल चाय एक शांत प्रभाव प्रदान करती है। इस सुखदायक चाय को घूंट आप कभी भी भर सकते हैं यह आपको आराम महसूस कराने में मदद करेगी।

एंटीसेप्टिक

घावों के इलाज के लिए गुलाब का तेल बहुत अच्‍छा उपाय है। गुलाब के तेल में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण घावों को भरता है और इसकी खुशबू से आपको रिलैक्‍स महसूस होता है। घाव पर गुलाब के तेल के इस्‍तेमाल से सेप्टिक बनने और संक्रमण के विकास से बचाने में मदद मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status