Monday , 24 September 2018
Home » Health » snoring » खर्राटे के कारण और बंद करने के रामबाण उपाय – home remedies for Snoring

खर्राटे के कारण और बंद करने के रामबाण उपाय – home remedies for Snoring

क्या आपका जीवन साथी खर्राटों की वजह से परेशान हैं, और रात को आप इनसे बहुत परेशान होते हैं तो ये घरेलु उपाय आपके लिए रामबाण सिद्ध हो सकते हैं. खर्राटे निकलना सोने के समय एक आम बात है , परन्तु लम्बे समय तक इस प्रकार के समस्या के होने से लोगो पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है. वैसे तो खर्राटे निकलने के कई कारण है परन्तु इनके मुख्य कारणों में हमारे गले की श्वांस नली में संकुचन होना है. इसके इलावा जैसे श्वांस नली की उपरी दीवार जो हमारे नाक से जुडी होती है. उसमें सिकुड़न होना भी एक कारण है.

आइये जाने खर्राटों के महत्वपूर्ण कारण और इसके रामबाण इलाज. आप ये जानकारी Only Ayurved के सौजन्य से पा रहें हैं.

खर्राटों के कुछ सामान्य कारण.

  1. गले की श्वांस नली में संकुचन होना. श्वांस नली की उपरी दीवार जो हमारे नाक से जुडी होती है. उसमें सिकुड़न होना.
  2. हमारे सोने की तरीको से अर्थात लम्बे समय तक एक ही मुद्रा में सोने से ये समस्या उत्पन्न होती है.
  3. ठन्डे मौसम के कारण. ठंडी चीजो के सेवन करने से.
  4. धुम्रपान एवं अल्कोहल की अधिक मात्रा का सेवन से.
  5. किसी कारणवश अगर गले में संक्रमण के कारण गले में सुजन होने पर भी खर्राटे आते है.

जानिये खर्राटे से सम्बंधित समस्या से बचने के 9 आसान रामबाण उपाए

Few simple home remedies to get rid of Snoring

1. अपने सोने की तरीको को बदले (try to change your sleeping habit ).

अगर आप को एक ही मुद्रा में सोने की अदत है तो ये आपको खर्राटें जैसी समस्याओ से ग्रसित कर सकती है | आप सोने के समय करवट बदल के सोने की प्रयास करे |

2. अपने नाक की साफ सफाई में ध्यान दे (keep your noise clean) ;

खर्राटे जैसी समस्याओ का मुख्य कारण हमारे श्वांस नली में पड़ने वाली बाधा है, जो नाक में जमी धुल मिट्टियों के कारण भी हो सकती है अत हमें हमारे नाक को साफ रखना चाहिए |

3. धूम्रपन से परहेज (avoid smocking);

धूम्रपन किसी भी शुरात में सेहत के लिए हानिकारक साबित होता है | अत इसके परहेज करने से भी खर्राटे जैसी समस्या से बचा जा सकता है |

4. गर्म पानी (drink hot water) ;

रोजाना सोने से पहले गर्म पानी पिए | इस्से गले की स्वांस नली खुलती है और खर्राटे नहीं आते है |

5. एक ग्लास गर्म पानी रोजाना सोने से पहले पिए |

गर्म पानी से गर्गिल (gargil with hot water) ; गर्म पानी से गर्गिल करने से गले में होने वाली सुजन से रहत मिलती है , जिससे भी खर्राटे होने से बचा जा सकता है |

6. गार्गल करें.

एक ग्लास गर्म पानी ले |
1 चम्मच नमक ले कर उस गर्म पानी में घोल दे |
दिन में दो बार सुबह उठने के बाद एवं रात में सोने से पहले पानी से गर्गिल करे |

7. शहद (honey)

शहद में कई प्रकार के medicinal गुण पाया जाता है| रोजाना शाहद के इस्तेमाल से गले में होने वाली तकलीफ दूर होती है | रोजाना 2 से 3 बार एक चम्मच शहद का सेवन करे | सोने से पहले एक चम्मच शहद जरुर ले |
Have 2-3 tablespoon of pure honey and if required then 1 glass of warm water before going to bed.

8. लहसुन और सरसों के तेल से मालिस (garlic and mustard oil massage)

लहसुन को सरसों के तेल बहुत हे लाभकारी है और वायरल fever में काफी काम आता है | लहसुन को सरसों के तेल को गर्म करके गले एवं छाती की मालिस करने से स्वांस लेने में होने वाली रुकावट दूर होती है | दो चार लह्सुन के दाने से छिलका निकल ले , फिर उसे हलके से कूच कर छोटे छोटे दाना में बदल दे | 4 या 5 चम्मच सरसों के तेल को किसी बर्तन में डाल ले फिर उसमे लहसुन के टुकडो को डाल कर लाल होने तक गर्म करे | रोजाना सोने से पहले उसके गर्म तेल से अपनी छाती एवं गर्दन की massage करे |

9. ठडे पानी या ठंडी चीजो से परहेज (avoid cold things)

ठन्डे पानी के कारण या कोई भी ठंडी चीज जैसे सीतल पेय, कुल्फी, आइसक्रीम अदि का इस्तेमाल से हमारे गले में सिकुड़न होने लगता है, अत इन सब चीजो का सेवन कम कर दे।

10. सोने की सही दिशा

खराटो में सोने की सही दिशा बहुत महत्वपूर्ण है जिन लोगों को खराटे बहुत अधिक आते हैं उनको अधिकतर बाई करवट लेकर ही सोना चाहिए ऐसा करने से आप देखेंगे की चमत्कारिक रुप से उनके खराटे बंद हो गए।

One comment

  1. Madharchod logo ko chutiya bnaatey ho.gand mra k paisa kmaaya jata hai wo kyo nhi kartey.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status