Thursday , 19 July 2018
Home » Supplement » शिलाजीत है पुरुषों और स्त्रियों के लिए वरदान – ऐसे ऐसे रोगों में है फ्यादेमंद के जानकार चौंक जायेंगे.

शिलाजीत है पुरुषों और स्त्रियों के लिए वरदान – ऐसे ऐसे रोगों में है फ्यादेमंद के जानकार चौंक जायेंगे.

Shilajit ke fayde. Shilajit kaise sewan kare. Shilajit ka upyog

आयुर्वेद ने शिलाजीत की बहुत प्रशंसा की है, आयुर्वेद में इसे बलपुष्टिकारक, काम शक्ति वर्धक, ओजवर्द्धक, दौर्बल्यनाशक एवं धातु पौष्टिक अधिकांश नुस्खों में शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है।

आयुर्वेद के अनुसार शिलाजीत की उत्पत्ति पत्थर से हुई है। गर्मी के मौसम में सूर्य की तेज गर्मी से पर्वत की चट्टानों के धातु अंश पिघल कर रिसने लगता है। इसी पदार्थ को शिलाजीत कहा जाता है। यह देखने में तारकोल की तरह काला तथा गाढ़ा होता है जो सूखने के बाद एकदम चमकीला रूप ले लेता है। शिलाजीत के सूखने पर उसमें गौमूत्र जैसी गंध आती है।

इसके सेवन के न केवल सेक्स पॉवर बढ़ती है वरन इसके शरीर पर कई अन्य प्रभाव भी होते हैं जिनकी सहायता से बुढापा भी दूर रहता है।

शिलाजीत चार प्रकार का होता है: रजत, स्वर्ण, लौह तथा ताम्र शिलाजीत। प्रत्येक प्रकार की शिलाजीत के गुण तथा लाभ भी उनकी प्रकृति के ही अनुसार होते हैं।

 

 

बहुमूत्र में शिलाजीत shilajit

जिन लोगों को बहुमूत्र या बार-बार मूत्र जाने की समस्या हो उन्हें शिलाजीत, बंग भस्म, छोटी इलायची के दाने तथा वंश लोचन का समान मात्रा में मिलाकर शहद के साथ सुबह शाम सेवन करना चाहिए। इससे शरीर में भी ताकत आती है और शरीर मजबूत होता है।

रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये शिलाजीत shilajit

शिलाजीत से शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। शिलाजीत का सुबह शाम दूध तथा शहद के साथ सेवन करने से शरीर बीमार नहीं पड़ता है। छोटे-मोटे इंफेक्शन ऎसे लोगों से दूर ही रहते हैं।

दिमागी ताकत बढ़ाने के लिए शिलाजीत shilajit

शारीरिक ताकत के साथ साथ दिमागी ताकत बढ़ाने के लिए भी शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है। रोजाना एक चम्मच शुद्ध मक्खन के साथ शिलाजीत का सेवन करने से दिमागी थकावट नहीं होती और व्यक्ति की याददाश्त तथा दिमाग तेज होते हैं।

ब्लड़प्रेशर नियंत्रित करे शिलाजीत shilajit

शिलाजीत का प्रयोग ब्लड़प्रेशर को नॉर्मल करने में भी किया जाता है। शिलाजीत के प्रयोग से रक्त शुद्ध होकर नसों में रक्तसंचार बढ़ता है जिससे पूरे शरीर में कान्ति उभरती है तथा शरीर में ताकत आती है।

त्वचा को जवान रखने के लिए शिलाजीत shilajit

बूढ़े होते शरीर तथा झुर्रीदार त्वचा से बचने के लिए भी शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए शिलाजीत, अश्वगंधा तथा सफेद मूसली को मिलाकर विशेष प्रक्रिया द्वारा दवा तैयार की जाती है। इस दवा के प्रयोग से सभी बीमारियां दूर होकर शरीर पुन: युवा हो जाता है।

 

मधुमेह (डायबिटीज) shilajit

जिन लोगों को मधुमेह (डायबिटीज) की समस्या है, उनके लिए भी शिलाजीत बेहद कारगर है। एक चम्मच शहद तथा एक चम्मच त्रिफला चूर्ण के साथ दो रत्ती शिलाजीत मिलाकर सेवन करने से डायबिटीज पूरी तरह ठीक हो जाता है।

हड्डियों के रोग में शिलाजीत – shilajit

शिलाजीत खाने से हड्डियों की मुख्य बीमारियां जैसे जोड़ों का दर्द और गठिया की समस्या दूर होने के साथ हड्डियां मजबूत बनती हैं।

तनाव दूर करे शिलाजीत – shilajit

यदि आपको तनाव यानि टेंशन की समस्या होती हो तो शिलाजीत आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। शिलाजीत का सेवन करने से तनाव को पैदा करने वाले हार्मोन्स संतुलित हो जाते हैं जिससे इंसान को टेंशन की समस्या नहीं होती है।

सूजन में शिलाजीत में शिलाजीत – shilajit

सूजन की समस्या को ठीक करता है शिलाजीत। यदि गठिया या सूजन की समस्या हो रही हो तो वे शिलाजीत का सेवन करें आपको राहत मिलेगी।

Only Ayurved’s Exclusive पौरुष रसायन – पुरुषार्थ की सभी समस्या का समाधान !!!

कमजोर पाचनतंत्र में शिलाजीत – shilajit

जब पाचनतंत्र कमजोर होता है तब इंसान के शरीर को कई बीमारियां लगने लगती है। शिलाजीत खाने से पाचनतंत्र मजबूत और स्वस्थ बनता है।

किड़नी की परेशानी में शिलाजीत – shilajit

पैनक्रियाज और किड़नी की समस्या को भी ठीक करता है शिलाजीत। क्योंकि शिलाजीत शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखता है।

ताक़त बढ़ाये शिलाजीत – shilajit

शरीर को तुरंत उर्जा देने की क्षमता होती है शिलाजीत में। इसमें मौजूद अधिक विटामिन और प्रोटीन की वजह से शरीर में उर्जा बढ़ जाती है।

बूढ़ा होने से बचाता है शिलाजीत – shilajit

उम्र बढ़ने के साथ ही चेहरे और शरीर की त्वचा झुर्रीदार होने लगती है। ऐसे में सफेद मसूली, अश्वगंधा और शिलाजीत को मिलाकर बनाई गई दवा शरीर को फिर से जवां बनाने का काम करती है।

शीघ्रपतन की समस्या Shilajit se sheeghraptan ka ilaj

शिलाजीत का प्रयोग शीघ्रपतन की समस्या दूर कर वीर्यवर्द्धन के लिए किया जाता है। इसके लिए बीस ग्राम शिलाजीत तथा बंग भस्म में दस ग्राम लौह भस्म तथा छह ग्राम अभ्रक भस्म मिलाकर खाने से बहुत लाभ होता है। शीघ्रपतन की समस्या इससे पूर्ण रूप से दूर हो जाती है। परन्तु इस प्रयोग के दौरान खटाई, मिर्च मसाला आदि से पूरी तरह दूर रहना चाहिए।

सेक्स पॉवर बढ़ाने और स्वपनदोष के लिए Sex power badhane aur swapan dosh karne ke liye shilajit ka upyog

स्वप्नदोष की समस्या दूर करने के लिए भी शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए शुद्ध शिलाजीत, लौहभस्म, केसर तथा अम्बर का मिलाकर लेना होता है। इससे व्यक्ति की न केवल सेक्स पॉवर में सुधार आता है वरन उसका बूढ़ा शरीर भी 20 वर्ष के जवान की तरह इस प्रयोग के दौरान खटाई, मिर्च मसाला आदि से पूरी तरह दूर रहना चाहिए।

Only Ayurved’s Exclusive पौरुष रसायन – पुरुषार्थ की सभी समस्या का समाधान !!!

शिलाजीत सेवन में सावधानी shilajit

शिलाजीत गर्म होता है, जिन्हें पहले से गर्मी बढ़ी हुई हो, उन्हें शिलाजीत से दूर रहकर अन्य औषधियों का प्रयोग करना चाहिए। साथ ही शिलाजीत के सेवन के दौरान मिर्च-मसाले, खटाई, मांस, मछली, अंडे, शराब, रात में देर तक जागना, दिन में सोने जैसे कामों से बचना चाहिए।

शुद्ध शिलाजीत निरंतर सेवन करने से शरीर पुष्ट तथा स्वास्थ्य बढ़िया रहता है। आयुर्वेद में ऐसे कई योग हैं, जिनमें शुद्ध शिलाजीत होती है जैसे सूर्यतापी शुद्ध शिलाजीत बलपुष्टिदायक है, शिलाजत्वादि वटी अम्बरयुक्त मधुमेह और शुक्रमेह नाशक है, शिलाजतु वटी आयुवर्द्धक है, वीर्यशोधन वटी स्वप्नदोष और धातु क्षीणता नाशक है, चंद्रप्रभावटी विशेष नं. 1 मूत्र विकार और स्वप्नदोष नाशक है, प्रमेहगज केसरी मधुमेह नाशक है, आरोग्य वर्द्धिनी वटी विशेष नं. 1 उदर विकार नाशक है और ब्राह्मी वटी मस्तिष्क को बल देने वाली और स्मरण शक्तिवर्द्धक है। शिलाजीतयुक्त से सभी औषधियां बनी बनाई औषधि विक्रेता की दुकान पर इन्हीं नामों से मिलती है।

 

22 comments

  1. I am very impressed for your forullas thanks allot

  2. sir maine Arjun ki Chhal ko lagbhag 5 guna pani me ubal kar kadha banaya hua h. aur usko me 10 ml khali pet subah ke samay leta hu. parntu wo mujhe pachta nahi h. kuchh hi der me mujhe ulti aa jati h. mai apko bata du is kadhe me kewal arjun ki chhal hi hai aur kuchh nahi h. isme koi kharnak baat to nahi h

  3. anil prajapati

    sir apne jo sighra patan k liye jo matra batai he shijit h sath me kya ye matra ek bar me lena h ya kuch kam lena h

  4. DINESH PRAJAPAT

    घुटना का दर्द की दवाई पुराना दर्द

  5. sir,shilajit k sath bang bhasm r laoh bhasm r abhrak bhasm ko kaise use krna h kirpa KR k btaye…….

  6. शिलाजीत का प्रयोग शीघ्रपतन की समस्या दूर कर वीर्यवर्द्धन के लिए किया जाता है। इसके लिए बीस ग्राम शिलाजीत तथा बंग भस्म में दस ग्राम लौह भस्म तथा छह ग्राम अभ्रक भस्म मिलाकर खाने से बहुत लाभ होता है। शीघ्रपतन की समस्या इससे पूर्ण रूप से दूर हो जाती है। is ko kaise use krna h please sir btay r lakh bhasm kitna Lena h please sir jld se jld btay……

  7. bhai anil ji jo misran shigrapatan ke liye btaya h wo apko sahad ya mlai ke sath do chawal(rice) ke dano jitna hi lena h.

  8. ye shilajeet khareden kahan se.

  9. Sir ji koi aise davai ka name batao Jo 10 miniute me asar karena chalu ker de

  10. I want shilajeet for sex please send me my address and tell me this product cost

  11. i have original Shilajit if any one need do contact me

  12. Sir mere bal bahut jad rahai hai pls upay bataye

  13. Your Name (required):

    Desi ghee se malish karne se Baal or jhad jayenge

  14. kab tak le sakte h

  15. My yuj kiya hua salajit

  16. Sir shighrpatan ka sbse better nuskha plz

  17. It is very good medicine for human beings really shilagit is good for health

  18. give me . 09617179109 plz call me

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status