Wednesday , 17 January 2018
Home » आयुर्वेद » अतीस (Aconite) – पहचान, गुण धर्म, प्रयोग मात्रा एवं प्रयोग विधि

अतीस (Aconite) – पहचान, गुण धर्म, प्रयोग मात्रा एवं प्रयोग विधि

आज हम आपको अतीस (Aconite) के बारे में विस्तार से बताने जा रहें हैं. आइये जाने इसकी पहचान, गुण धर्म, प्रयोग मात्रा एवं प्रयोग की विधि.

अतीस (Aconite) का वानस्पतिक नाम: Aconitum heterophyllum Wall. ex Royle

Syn- Aconitum cordatum Royle

कुल – Ranunculaceae 

English Name – Indian Aconite

संस्कृत – शृङ्गक, अतिविषा, उपविषा, भृङ्गी, श्वेतकन्दा, श्यामकन्दा, संविषा, विरूप, गरल, विषा, घुणवल्लभा, 

प्रतिविषा, उग्र, वत्सनाभ

हिंदी – अतीस (Atish), अतिविख (Ativikh), 

उर्दू- अतीस  (Atis),

कन्नड़- अतिविषा (Ativisha), अतिबजे (Atibaje), अलसी (Alsi)

गुजरती- अतिवाखानी कलि (Ativakhani Kali)

तमिल- अतिविदायम (Atividaayam)   

तेलगु- अतिवासा (Ativasa), 

बंगाली- अताइच (Ataich)

नेपाली- विशा (Vishaa), बिख (Bikh) 

पंजाबी – चितिजारी (Chitijari), बोंगा (Bonga), पतीस (Patis)

मलयालम- अतिविषा (Ativishaa),  

मराठी- जवस (Jawas), अलसी (Alsi), 

अंग्रेजी- Atees Root, Indian Atees,  

अरबी- अतीस (Atis),   

फारसी – वाजे-तुर्की (Vajje-Turki), वज तुर्की (Vaj-Turki)

 

अतीस (Aconite) के बारे में परिचय , एवं औषधीय परयोग और विधि निचे दी गई फोटो को देख कर जाने.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status