Friday , 15 December 2017
Home » Health » body building » अगर आप या आपका कोई मित्र Body Building करता है ये आर्टिकल ज़रूर पढ़ें और शेयर भी करें.

अगर आप या आपका कोई मित्र Body Building करता है ये आर्टिकल ज़रूर पढ़ें और शेयर भी करें.

आजकल युवाओ में अच्छी बॉडी बनाने की एक होड़ सी हो गई है. जिसके लिए लोग gym में जाते है, heavy वर्कआउट करते है पर उस workout के साथ साथ उतनी ही प्रोटीन की जरुरत होती है उस प्रोटीन की पूर्ति के लिए या तो वो प्रोटीन सप्लीमेंट लेते है जो कि शरीर में प्रोटीन की पूर्ति करे, लेकिन इन सप्लीमेंट में जो additives डाले जाते है उनका शरीर पर काफी दुष्प्रभाव पड़ता है. कुछ लोग जल्दी बॉडी बनाने के लिए लगातार लम्बे समय के लिए anabolic steroid का इस्तमाल करना शुरू कर देते है जैसे nandrolone, Stanozolol इत्यादि लेकिन इन anabolic स्टेरॉयड से बॉडी बन जाती है पर इनके बहुत ही हानिकारक प्रभाव होते है जैसे kidney failure, heart attack , stroke जैसे समस्या युवाओ में मौत का कारण बनती है.

जब प्रकृति ने हमको Natural Anabolic दियें हैं तो हम अपनी बेशकीमती जान क्यों इन फालतू की चीजों से खतरे में डालें.

Anabolic Steroid ke side effect पुरुषों में.

Liver damage, high blood pressure, high cholesterol, enlargement in heart, अन्डकोशो का छोटा हो जाना,  शुक्राणुओं की संख्या कम हो जाना,  गंजापन, पुरुषो में महिलाओ की भांति breast का बढ़ना,  prostate कैंसर, इन सबके होने की सम्भावना बढ़ जाते है.

Anabolic Steroid ke side effect महिलाओ मे

face और शरीर पर अत्याधिक बाल उगना, पुरुषो की तरह गंजापन,  माहवारी संभंधित समस्या,  clitores का बढ़ना, आवाज का भारी  होना

Anabolic Steroid ke side effect युवाओ में :

युवाओं के इस से मसल तो बन जायेंगे मगर जो एक पूर्ण पुरुष होने के लिए जो शरीर में आवश्यक चीजें होती हैं वो नहीं बढ़ पाती. क्यूंकि इस से Bone Depression हो जाता है, जिस कारण से उनकी हड्डियों का विकास नहीं हो पायेगा. (when high hormone levels from steroids signal to the body to stop bone growth too early). जो युवा कम आयु में एनाबोलिक Steroid लेने लग जाते हैं उनकी Height रुक जाती है. कुछ लोगो के सेक्स अंग भी लगातर anabolic स्टेरॉयड लेने से छोटे हो जाते है.

Amla’s Ayurvedic action offers athelets and bodybuilders a natural way to tone muscles and build lean mass

प्रक्रति ने हमें नेचुरल anabolic दे रखे है जिनका कोई side effect नहीं है उनमे मुख्य है आंवला. हाल ही में हुए शोधो से पता लगा है कि आंवला bodybuilders के लिए काफी अच्छा है क्योकि आंवला में एक विशेष गुण  पाया जाता है वो है इसमें पाए जाने वाली anabolic activity. Anabolic का मतलब है muscle building करने वाला शरीर में होने वाली मेटाबोलिज्म की वो प्रक्रिया जिसमे छोटे छोटे अणु मिलकर एक बड़े अणु का निर्माण करते है. आइये आपको बताते हैं वो युवा या पुरुष जो अपना शारीरिक विकास करना चाहते हैं उनको आंवले से होने वाले फायदे जो इसको Anabolic Steroid के मुकाबले प्राकृतिक Anabolic के रूप में विशेष बनाता है.

  • आंवला हमारे शरीर की muscles में protien की मात्र को बढ़ा देता है, इस प्रकार ये बॉडी weight बढाने में भी काफी उपयोगी सिद्ध होता है. studies से पता लगा है कि आंवला हमारे शरीर में positive नाइट्रोजन बैलेंस बनाता है, जिससे हमारा वजन बढ़ना शुरू हो जाता है.
  • आंवला के सेवन करने से blood में प्रोटीन की मात्रा पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता ये सिर्फ muscle में ही प्रोटीन की मात्रा को बढाता है जिससे muscle अच्छी तरह ग्रोथ करना शुरू हो जाते है.  इस प्रकार आंवला muscle mass बनाता है, इसके साथ साथ ये muscle tone भी बनाये रखता है इस प्रकार ये बॉडी building और gym करने वालो के लिए muscle बढ़ने के लिए बहुत उपयोगी है.
  • आंवला का उपयोग bodybuilders के लिए cutting फेज (जो सिक्स पैक या कर्व बनाने के लिए लगातार मेहनत करते हैं) में ज्यादा लाभदायक होता है क्योकि इस दोरान फैट को बॉडी से हटाया जाता है और muscles को एक शेप में लाया जाता है और muscle को शेप देने के लिए प्रोटीन की जरुरत होती है वो जरुरत अकेला आंवला पूरा कर सकता है क्योकि आंवला शरीर में प्रोटीन बनाने की प्रक्रिया को बढाता है.
  • जर्मन शोध के अनुसार आंवला body coolant का काम भी करता है मतलब हार्ड और भारी exercise करने के बाद यदि आप आंवला पाउडर का सेवन करते है तो ये मसल्स को relax और कूल करता है जिससे वर्कआउट की थकान खत्म हो जाती है.
  • आंवला शरीर में होने वाली सुजन को भी कम करता है इसके साथ आंवला विटामिन c का अच्छा सत्रोत है जो कि कोलेजन बनाने में भी काफी मदद करता है और शरीर में होने वाली टूट फुट को भी ठीक करता है.

आंवला Anabolic के रूप में डोज़.

आंवला पाउडर 5 ग्राम सुबह और 5 ग्राम कसरत के बाद, और 5 ग्राम रात को अगर दूध पीते हैं तो दूध में या किसी भी शेक में डालकर अन्यथा पानी के साथ ही लीजिये.

वैसे तो हमारे बुजुर्गों ने आंवले के बारे में सदियों पहले ही बता दिया था, मगर यहाँ पर कुछ काले अंग्रेज हो बिना किसी Evidence या Reference के कुछ भी बाते मानते नहीं, उनके लिए नीचे Reference दिए गएँ हैं अपनी शंकाएं यहाँ जा Clear कर सकते हैं.

source

http://www.fusionaryformulas.com/wp-content/uploads/2015/03/Amla-and-bodybuilding_-helping-build-lean-muscle-mass.pdf

http://www.ijpcsonline.com/files/02-853.pdf

indian medicinal plant by cp khare page no 238- 239

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share
DMCA.com Protection Status