Friday , 14 August 2020
Home » baby care » इन आयुर्वेदिक उपायों से बनाये अपने शरीर को वज्र के समान कठोर और शक्तिशाली |

इन आयुर्वेदिक उपायों से बनाये अपने शरीर को वज्र के समान कठोर और शक्तिशाली |

इन आयुर्वेदिक उपायों से बनाये अपने शरीर को वज्र के समान कठोर और शक्तिशाली |

परिचय –

मनुष्य अपने काम में इतना व्यस्त रहता हे की वो अपने शरीर का ध्यान अच्छे से नही रख पाता है जिससे उसका

शरीर कमजोर और बीमारी से घिर जाता है व्यक्ति भागदोड़ जिन्दगी में शरीर के प्रति लापरवाह हो जाता है

और अपने आपको बीमार के लेता है शरीर थक जाता है ,शरीर में खून की कमी ,गाल चिपके ,और पतला हो जाता है

इसलिए मनुष्यों को अपने शरीर के प्रति जागरूक होना चाहिए .

हम आपको कुछ आयुर्वेदिक उपाय बता रहे है जो आपके शरीर को बीमारियों से बचाकर स्वस्थ रखता है .,

1.- शरीर में खून का न बनना –

दवा -क –

रामदाना (कच्चा वाला ) दो चम्मच लेकर रात में आधे कप पानी में भिगो कर रखे और सुबह सिलबट्टे पर इसे मोटा

मोटा पिस ले तथा इस में थोडा और पानी मिला ले ,इसी में दो चम्मच शहद मिलाकर पिला दे ,एक हफ्ते में हिमोग्लोबिन

उचित स्तर पर आ जायेगा .

ख –

जो 50 ग्राम को 300 ग्राम पानी में उबाले ,उबलते -उबलते 200 ग्राम शेष रहे ,तब उसे छान कर ठंडा होने दे

इस पानी को पिने से रक्त बढ़ता है .

ग –

पुनर्नवा मंडूर 1-2 रती मात्रा में सुबह -शाम दे इससे जल्दी हो नया खून बनता है .

2.- शरीर थका -थका रहना ,कमर व टांगो में दर्द रहना –

दवा —

अस्वगंध चूर्ण 100 ग्राम ,लोह भस्म 10 ग्राम ,दोनों को मिला ले और 250 मी.ग्रा .के केप्सूल में 2-2 रती की मात्रा

में भर ले और

इस चूर्ण की 2-2 रती की मात्रा में या भरे हुए केप्सूल 1-1 सुबह व रात को गर्म दूध के साथ 40 दिनों तक ले 3-4

दिनों में ही प्रभाव दिखने लगेगा .

3.- शरीर में शक्ति हेतु कमजोरी चक्कर आना के लिए अनुभूत योग –

दवा —

असगंध चूर्ण ,विधारा चूर्ण बराबर -बराबर लेकर कूट-छान ले और दोनों के वजन के बराबर मिश्री मिलाकर रख ले

10-10 ग्राम की मात्रा में सुबह और रात को दूध के साथ ले ,इसके प्रयोग से 3-4 दिन में ही असर दिखने लगेगा .

4.- पिचके गालो को भरना ,झुर्रिया मिटाना व शरीर भरने के लिए –

दवा —

असगंध ,सतावर ,विधारा ,सफेद मुसली 100-100 ग्राम ,धागे वाली मिश्री 150 ग्राम ले और सबको अलग -अलग

कूट पीसकर मिला ले और

चाय वाला 1-1 चम्मच भरकर सुबह खाली पेट तथा रात को भोजन से 1 घंटे बाद गरम दूध के साथ ले ,बहुत ही

गुणकारी और अनुभूत प्रयोग है .

5.- शरीर में शक्ति बढ़ाने वाला चूर्ण –

दवा —

उटंगन के बीज ,कोंच के बीज ,गोखरू ,असगंध ,सभी को बराबर ले कर कूट-पीसकर रख ले और इन सबकी बराबर

मिश्री मिलाकर रख ले ,

10 -10 ग्राम सुबह -शाम दूध से ले बहुत लाभकारी योग है .

6.- शरीर पर मांस -वर्धि हेतु  (दुबले से मोटा होने के लिए )-

दवा —

बादाम गिरी 200 ग्राम ,बबूल गोंद कच्चा 50 ग्राम ,मिश्री 200 ग्राम ,बादाम गिरी को रात को पानी में भिगोकर

रख दे सुबह सिलबट्टे पर पिस धुप में सुखा ले .अब सबको एक साथ मिला चूर्ण बना रख ले ,1 चम्मच सुबह दूध

के साथ ले .

आने के तुरंत बाद -अस्व्गन्धारिष्ट ,द्राक्षासव 2-2 ढक्कन लोहासव व कुमार्यासव आधा -आधा ढक्कन .आधा

कप पानी में मिलाकर पिए .

न्यूरोबिआन्मर्क 1-1 गोली सुबह व रात को ताजा पानी के साथ ले .

7.- दुबली पतली स्त्रियों का शरीर भरने वाला नुस्खा –

दवा —

असगंध ,काली मुसली ,सफेद मुसली सभी बराबर -बराबर लेकर कूट-पिस ले अब दवा के मिश्रण के कुल वजन से

4 गुना दूध लेकर उसमे मिश्रण को इतना पकाए की दूध सुख जाये ,जले नही ,अब इसे धुप में सुखा कर कूट-पिस

कर चूर्ण बना ले तथा इसमें बराबर की देशी खांड मिलाकर रख ले ,

इसे प्रतिदिन प्रातः दुबली स्त्रियों 10-20 ग्राम मात्रा में दूध के साथ सेवन करे .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status