Thursday , 19 July 2018
Home » Beauty » acne homemade remedies » वैक्सिंग और शेविंग के बाद होने वाले पिंपल्स से ऐसे पाएं राहत

वैक्सिंग और शेविंग के बाद होने वाले पिंपल्स से ऐसे पाएं राहत

home-remedies-for-bumps-after-waxing

शेविंग हो या फिर वैक्सिंग दोनों प्रक्रियाओं में त्वचा के अनचाहे बालों को हटाया जाता है। लेकिन दोनों के बाल निकालने का तरीका अलग अलग होता है। हम वैक्सिंग या शेविंग के जरीए बालों को तो निकाल ही लेते हैं, लेकिन अगर हम बात उसके बाद के देखभाल की कि जाए तो वह भी दोनों में ही की जाती है। वैक्सिंगया शेविंग के बाद भी त्वचा की देखभाल करना काफी जरूरी होता है। इसलिए आप इस बात का ध्यान अगली बार से जरूर रखें कि भले ही आप वैक्सिंग या शेविंग करवा करें हो आपको अपनी त्वचा की देखभाल करनी ही है।

शेविंग से हेयर रिमूविंग टिप्‍स (Shaving)

शेविंग करते समय हम रेजर का इस्तेमाल करते हैं, और यह जरूरी भी है। यह त्वचा की सतह के ऊपर से बालों को हटा देता है। हम इस आर्टिकल (article) में आपको ना केवल शेविंग करने के साइड इफेक्ट्स (side effects) के बारे में बताने वाले हैं, बल्कि हम आपको यह भी बताने जा रहे हैं कि शेविंग के पहले और बाद में आपको क्या क्या करना चाहिए। ऐसा करने से आपको काफी फायदा होगा। आइए जानते हैं कि शेविंग के पहले और बाद में आपको क्या क्या करना चाहिए ताकि आपको किसी भी तरह की समस्या से ना जुजना पड़े।

शेविंग से पहले और बाद में त्वचा की देखभाल (Skin care – before and during shaving)

त्वचा विशेषज्ञ के अनुसार एक स्वस्थ और अच्छी तरह से हाइड्रेटेड त्वचा पाने के लिए आप सावधानी से शेविंग करें। इसलिए शेविंग करने से पहले आपका यह लक्ष्य होना चाहिए कि आपको एक हेल्दी और स्वस्थ्य त्वचा चाहिए।

इसे एक नियम बना लें कि ऐसी त्वचा में शेविंग ना करें, जहां पर सूजन या कटा हुआ हो। त्वचा में ऐसी जगह पर शेविंग करने से काफी परेशानियां सामने आती हैं। आइए जानते हैं कि शेविंग से पहले आपको किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आपकी त्वचा में पिंपल्स या दाने ना हो।

Image result for post shaving pimples

पिंपल्स से बचने के लिए सफाई (Clean to avoid pimples)

अपनी त्वचा को हल्के क्लींजर से साफ करें। एक अस्वस्थ्य त्वचा को शेविंग करना बेकार होता है, ऐसे में इंफेक्शन और बालों के रोम में संक्रमण हो सकता है, या फिर इसके अलावा और भी कई तरह की समस्या से आपको जूजना पड़ता है।

त्वचा को भिगोएं ताकि रेजर के रैशेस ना हो (Soak skin to avoid razor rashes)

अपने त्वचा को क्लींजर से साफ करने के बाद आप अपनी त्वचा को गर्म पानी में 7 मिनट के लिए भिगों कर रखें। इसके बाद बालों को समय लगता है कि वह भिग कर कोमल हो जाएं। त्वचा को भिगोने से शेविंग काफी आसानी से हो जाती हैं और त्वचा में किसी भी तरह का संक्रमण नहीं होता है।

त्वचा को जलन और पिंपल्स से बचाने के लिए त्वचा को ग्लिसरीन या पेट्रोलियम जेली के साथ हाइड्रेट करें (Hydrate with glycerin or petroleum jelly to prevent skin irritation & bumps)

त्वचा के बालों को रेजर से साफ करने के लिए आप अपनी त्वचा को ग्लिसरीन या पेट्रोलियम जेली के साथ हाइड्रेट करें। हाइड्रेट हमारी त्वचा को शेविंग करने से इंफेक्शन का खतरा कम हो जाता है। इसी के साथ त्वचा में शेविंग के बाद होने वाले दानों से भी छुटकारा मिल जाता है। इसलिए अगर आप भी चाहते हैं कि शेविंग के बाद किसी भी तरह के पिंपल्स या दानों से छुटकारा पाने के लिए आप आसानी से इस प्रक्रिया का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 Image result for post shaving pimples

सही दिशा में शेविंग करना ताकि पिंपल्स ना हो (Shave in the right direction to avoid razor bumps)

शेविंग करते समय इस बात का ख्याल जरूर रखें कि आप आसानी से यह जान लें कि किस तरह की दिशा में शेव करना बेहतर होता है। अपने रेजर को हमेशा सही दिशा में इस्तेमाल करें। उल्टी दिशा में बालों को शेव करने से आप आसानी से आपकी त्वचा में पिंपल्स या दाने होने का खतरा बना रहता है। ऐसा ना करें, अगर आपको ऐसा लगता है कि आप उल्टी दिशा से सही तरह से शेव कर पा रही हैं तो तब आप उस तरह से भी शेविंग कर सकती हैं। यह आपके जोखिम को भी कम करने में मदद मिलती है।

 

वैक्सिंग की मदद से आप आसानी से त्वचा के अनचाहे बालों से छुटकारा पा सकते हैं, इसका इस्तेमाल कर आप आसानी से जड़ों के अंदर तक बालों से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसा करने से आप आसानी से बेहतरीन तरीके से शरीर के बालों से छुटकारा पा सकते हैं। वैक्सिंग के बाद होने वाले पिंपल्स से छुटकारा पाने के लिए आप आसानी से इस तरह अपनी त्वचा का ख्याल रख सकते हैं। आइए जाने किस तरह आप अपनी त्वचा को वैक्सिंग से बचा सकते हैं।

Image result for post waxing pimples

वैक्सिंग से पहले और बाद में त्वचा की देखभाल (Skin care – before and during waxing)

वैक्सिंग टिप्स – एक्फोलेट ना करें (Wax kaise kare, do not exfoliate)

त्वचा विशेषज्ञ के अनुसार आप आसानी से अपनी त्वचा को एक्फोलेट कर सकते हैं। त्वचा में कैमिकल एक्फोलेट का इस्तेमाल करने के लिए आप अपनी त्वचा को वैक्स कर सकते हैं, इससे त्वचा में इंफेक्शन हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार वैक्सिंग के दौरान ऐसे कैमिकल एक्फोलेट (chemical exfoliate) से एक्सफोलेट ना करें, जिनमें अल्फा हाइड्रॉक्सिल एसिड (alpha hydroxyl acids), चिरायता एसिड या बीटा हाइड्रॉक्सिल एसिड (beta hydroxyl acids ) होता है, जो कि आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसी के साथ आपको फिजिकल एक्फोलेटेशन (physical exfoliation) से भी छुटकारा मिलता है।

वैक्सिंग करने का तरीका पहले साफ करें (Clean kare to avoid wax ke baad daane)

त्वचा को एक्फोलेट करने से पहले आप अपनी त्वचा को आसानी से डर्ट (dirt) और बैक्टीरिया (bacteria) से छुटकारा मिल जाएगा। इससे आपके पोर्स साफ हो जाएगे। आपको वैक्सिंग से पहले इन बातों का ख्याल रखना चाहिए कि आपकी त्वचा साफ और स्वस्थ रहें। ऐसा करने के लिए आप एक माइल्ड क्लींजर (mild cleanser) का इस्तेमाल भी कर सते हैं।

अपनी त्वचा को इंफेक्शन और रैडनेस से राहत देने के लिए करें हाइड्रेट (Hydrate skin to avoid irritation and redness)

वैक्सिंग करने से पहले इस बात का ख्याल रखें कि आपकी त्वचा पहले हाइड्रेट हो जाएं। ऐसा कहा जाता है कि हाइड्रेट करने से पिंपल्स और दानों से आसानी से छुटकारा मिल जाता है। आप त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए बेबी ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं, ऐसा करने से आप आसानी से अपने हाथ और पैरों में इस तेल से 5 मिनट के लिए मसाज कर सकते हैं। आपको इस तेल का इस्तेमाल कर त्वचा को हाइड्रेट करने का काम वैक्सिंग से 20 मिनट पहले करना चाहिए। ऐसा करने से आपकी त्वचा अच्छी तरह से इस तेल को सोख लेता है और आप आसानी से वैक्सिंग के बाद होने वाले दानों और रेशिश से राहत पा सकते हैं।

सही तरह के वैक्स का इस्तेमाल करें (Pick the right type of wax)

यह बहुत जरूरी है कि आप वैक्सिंग करते समय सही तरह के रेजर के साथ ही वैक्स का भी इस्तेमाल करें। सही और बेहतर क्वालिटी (quality) के वैक्स का इस्तेमाल करने से आप वैक्सिंग के बाद होने वाले पिंपल्स और दानों से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसा करने से आप आसानी से बेदाग और सुंदर त्वचा पा सकते हैं। आप वैक्स का चुनाव करते समय यह जान लें कि आप किस तरह की वैक्स (wax) का इस्तेमाल कर रही हैं, जहां तक हो सके आप ऐसे वैक्स का इस्तेमाल करें जिसमें शहद डला हुआ हो, ताकि आपको पिंपल्स या दांनों की शिकायत बिल्कुल ना हो। त्वचा विशेषज्ञ के अनुसार सही तरह के वैक्स का इस्तेमाल करने से हमारी त्वचा रेशिश और पिंपल्स से निजात पाया जा सकता है।

तापमान का रखें ख्याल (Watch the temperature for waxing se daane)

वैक्सिंग करते समय आपको तापमान का भी ख्याल रखना चाहिए। हॉट वैक्स (hot wax) करते समय अगर आपको अपने बालों को आसानी से छुटकारा पाना हो तो ऐसे में आप आसानी से आपके बालों को हटाने के लिए तापमान का ख्याल रख सकती हैं। हॉट वैक्स करते समय आपको हमेशा तापमान को ख्याल में रखना चाहिए। यह काफी जरूरी होता है और यह आपकी त्वचा को रेशिश से बचाता है। इससे आप आसानी से बालों को साफ कर पाती हैं।

 

वैक्सिंग करने से पहले और बाद दोनों समय हमें अपनी त्वचा की बेहतर देखभाल करने की जरूरत होती है। ताकि आपको पिंपल्स और दानों से आसानी से छुटकारा मिल जाए। आइए आपको बताते हैं कि किन बातों को ध्यान में रखकर आप आसानी से वैक्सिंग (waxing) के बाद अपनी त्वचा की देखभाल कर सकते हैं। ताकि आपको रेडनेस या किसी तरह के इंफेक्शन से छुटकारा मिल जाए।

रैडनेस से छुटकारा पाने के लिए बर्फ का करें इस्तेमाल (Use ice after waxing/shaving to avoid redness)

वैक्सिंग के बाद आप एकदम से अगर बर्फ को अपनी त्वचा में लगा लें तो ऐसा करने से आप आसानी से रेडनेस (redness) से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसा करने से पिंपल्स (pimples) और दानों से भी छुटकारा पाया जाता है। बर्फ आपकी त्वचा के खुले हुए पोर्स (pores) को आसानी से बंद कर देता है। बर्फ का इस्तेमाल कर आप आसानी से शेविंग या वैक्सिंग के दौरान होने वाले दानों से छुटकारा पा सकते हैं।

विच हेजल टोनर का इस्तेमाल कर दानों से छुटकारा (Witch hazel toner to avoid waxing bumps)

अपनी त्वचा में बर्फ लगाने के बाद आप अपनी त्वचा में आसानी से विच हेजल टोनर का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको शेविंग या वैक्सिंग के बाद दांने या किसी भी तरह के इंफेक्शन (infection) की समस्या नहीं होगी। आपको ऐसा करने से पिंपल्स से भी छुटकारा मिल जाता है। इसके लिए आप एक ताजी रूई का इस्तेमाल कर उसमें विच हेजल टोनर (witch hazel toner) ले सकते हैं। ऐसा करने के बाद इसे उस हिस्से में लगाए जहां पर आपने वैक्सिंग किया हो। ध्यान रहें कि इसका इस्तेमाल हल्के हाथों से करें, और यह टोनर बिना एल्कोहोल (alcohol) के बाजार में उपलब्ध होता है।

ऐलोवेरा जैल की मदद से रैशेस और वैक्सिंग के बाद दाने होने से रोके (Aloe vera gel to waxing ke baad dekhbhal)

वैक्सिंग और शेविंग के बाद त्वचा में होने वाले रेशिश से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी त्वचा को हाइड्रेट (hydrate) करने के लिए ऐलोवेरा से बेहतर कोई उपचार मिल ही नहीं सकती है। ऐलोवेरा का इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा में रैशेस (rashes) नहीं होंगे। इसके लिए आप या तो ऐलोवेरा की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर ऐलोवेरा के पल्प का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप बाजार में मिलने वाले ऐलोवेरा जैल का इस्तेमाल कर आराम से उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आप वैक्सिंग के बाद ऐलोवेरा जैल (aloevera gel) का इस्तेमाल कर उसे अपनी त्वचा में मसाज (massage) कर सकते हैं, ऐसा करने से आपकी त्वचा में आसानी से ऐलोवेरा सोख लेता है, जिससे रेशिश और दांने होने का खतरा नहीं रहता है।

ऐलोवेरा जैल की मदद से रैशेस और वैक्सिंग के बाद दाने होने से रोके (Aloe vera gel to waxing ke baad dekhbhal)

वैक्सिंग और शेविंग के बाद त्वचा में होने वाले रेशिश से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी त्वचा को हाइड्रेट (hydrate) करने के लिए ऐलोवेरा से बेहतर कोई उपचार मिल ही नहीं सकती है। ऐलोवेरा का इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा में रैशेस (rashes) नहीं होंगे। इसके लिए आप या तो ऐलोवेरा की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर ऐलोवेरा के पल्प का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप बाजार में मिलने वाले ऐलोवेरा जैल का इस्तेमाल कर आराम से उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आप वैक्सिंग के बाद ऐलोवेरा जैल (aloevera gel) का इस्तेमाल कर उसे अपनी त्वचा में मसाज (massage) कर सकते हैं, ऐसा करने से आपकी त्वचा में आसानी से ऐलोवेरा सोख लेता है, जिससे रेशिश और दांने होने का खतरा नहीं रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status