Saturday , 15 August 2020
Home » Health » कोरोनावायरस / Coronavirus Treatment: कोरोनावायरस से लड़ने में मददगार हैं ये आयुर्वेदिक दवाएं, आयुष ने जारी की एडवाइजरी

कोरोनावायरस / Coronavirus Treatment: कोरोनावायरस से लड़ने में मददगार हैं ये आयुर्वेदिक दवाएं, आयुष ने जारी की एडवाइजरी

Coronavirus Treatment: कोरोनावायरस से लड़ने में मददगार हैं ये होम्‍योपैथ‍िक, आयुर्वेदिक और यूनानी दवाएं, आयुष ने जारी की एडवाइजरी

चीन से फैल रहे कोरोनावायरस की आशंका के चलते भारत के मुंबई, दिल्ली, कोलकाता समेत देश के 7 एयरपोर्ट पर चीन से आने वाले यात्रियों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। यह वायरस पहले नहीं देखा गया था, यह तेजी से अपना रूप बदल लेता है। चीन में कोरोनावायरस से प्रभावित 830 लोगों की पहचान हो चुकी है। 20 प्रांतों में 1072 लोगों के इसी वायरस से प्रभावित होने की आशंका है। गुरुवार तक इससे मरने वालों की संख्या 26 पहुंच गई है। भारत में एहतियात के तौर पर जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।

आयुष ने कोरोनावायर से बचाव के तरीके, कोरोनावायरस के लिए होम्‍योपैथ‍िक दवा का (Homeopathic Medicine For Coronavirus) नाम बताया है. इसके साथ ही साथ कोरोनावायरस से बचाव (Coronavirus Prevention) के लिए आयुर्वेद‍िक दवाओं (Coronavirus Ayurvedic Medicine) के नाम भी आयुष की इस एडवाजरी में बताए गए हैं. इसके साथ ही साथ कोरोनावायरस के लिए यूनानी (Unani Medicine For Coronavirus) दवाओं का ज‍िक्र भी क‍िया गया है. 

Coronavirus Treatment: रहस्यमय कोरोना वायरस लगातार फैल रहा है. कोरोनावायरस के मामले भी लगातार बढ़ रहे हैं. दुनियाभर में इस वायरस को लेकर दहशत का माहौल है. इस बीच आयुष मंत्रालय (Ayush) जोकि भारत सरकार का एक सरकारी अंग है, के रिसर्च काउंसिल ने एडवाइजरी साझा की है जोक‍ि आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होमीओपैथी के अंतरगत हैं. अपनी इस एडवाइजरी में आयुष ने कोरोनावायर से बचाव के तरीके, कोरोनावायरस के लिए होम्‍योपैथ‍िक दवा का (Homeopathic Medicine For Coronavirus) नाम बताया है. इसके साथ ही साथ कोरोनावायरस से बचाव (Coronavirus Prevention) के लिए आयुर्वेद‍िक दवाओं (Coronavirus Ayurvedic Medicine) के नाम भी आयुष की इस एडवाजरी में बताए गए हैं. इसके साथ ही साथ कोरोनावायरस के लिए यूनानी (Unani Medicine For Coronavirus) दवाओं का ज‍िक्र भी क‍िया गया है.

आयुर्वेद के अनुसार कोरोना वायरस से बचने के उपाय कुछ ऐसे हो सकते हैं (Coronavirus: Precautions, Prevention)

  • तुलसी, नीम और गिलोय की पत्तियों को पीसकर रस बनाएं। इसे दिन में तीन बार आधा कप लें।
  • काली-मिर्च के पाउडर को देसी-घी में भूनें। इसके मिश्री के साथ खाएं।
  • एक लीटर पानी में कुटी हुई सौंठ, तुलसी की पत्तियां, गिलोय का गूदा, चिरायता, नीम और पपीते के पत्तों को डालकर उबालें। एक चौथाई रह जाने पर हटा लें। इसे दिन में 3 बार हल्का गर्म करके पीएं।
  • एक मुट्ठी तुलसी के पत्तों और एक चम्मच लौंग पाउडर को एक लीटर पानी में उबाल कर रख लें। इस पानी को हर 2 घंटे के अंतराल पर लें।
  • खांसी-जुकाम अधिक होने पर खांसी अधिक आने पर कालीमिर्च पाउडर, सेंधा नमक और शहद को मिलाकर ले सकते हैं। या छोटी पिप्पली पाउडर को शहद के साथ खाना भी बेहतर विकल्प है।
  • पपीते और केले के पत्ते व एलोवीरा को पीसकर रस बना लें। इसे दिन में तीन बार आधा-आधा कप लें।
  • आयुर्वेद   के मुताबिक सर्दियों के मौसम में इम्युनिटी घटती है और संक्रमण होने का खतरा ज्यादा रहता है। इसके लिए रोजाना गाय के दूध के साथ च्यवनप्राश खाने की सलाह दी जाती है
  • कोरोनावायरस  / तुलसी, नीम और गिलोय की पत्तियों का रस इम्युनिटी बढ़ाकर घटाएगा संक्रमण
  • वायरस के संक्रमण से बचने के लिए इम्युनिटी पावर अधिक होना जरूरी
  • आयुर्वेद में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कालीमिर्च पाउडर और नीम-पपीते के पत्तों का रस दिया जाता है

कोरोनावायरस से बचाव के ल‍िए आयुष ने सुझाई आयुर्वेद‍िक दवाएं और नुस्‍खे (Ayurvedic Medicine For Coronavirus)-

– सेहतमंद आहार और जीवनशैली को अपनाएं.
– अगस्त्य हरीतकी 5 ग्राम, द‍िन में दो बार, गर्म पानी के साथ.
– संशमनी वटी 500 ग्राम, दिन में दो बार
– त्रिकटु चूर्ण (प‍िपाली, म‍रीच और शुंत‍ि) 5 ग्राम और तुलसी के 3 से 5 पत्ते लेकर 1 लीटर पानी में उबाल लें. इसे तब तक उबालें जबतक कि यह आधा लीटर न रह जाए. इस पानी को बोतल में रख लें और जब प्‍यास लगे तो इसे पीएं.
– प्रतिमर्श नस्य : दो बूंदे अनुतैला या त‍िल के तेल को नाक में रोज सुबह डालें

कोरोनावायरस से बचाव के ल‍िए आयुष ने सुझाई यह होम्‍योपैथि‍क दवा (Homeopathic Medicine For Coronavirus)-

आयुष मंत्रालय में, सेंट्रल काउंसिल फॉर रिसर्च इन होम्योपैथी (CCRH) ने 28 जनवरी 2020 को अपने वैज्ञानिक सलाहकार बोर्ड की 64 वीं बैठक में कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव के तरीकों और साधनों पर चर्चा की. विशेषज्ञों के समूह ने सिफारिश की है कि होमियोपैथी दवा आर्सेनिकम एल्बम 30 (Homoeopathy Medicine Arsenicum Album30) को कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ रोगनिरोधी दवा के रूप में मान्यता दी जा सकती है, जिसे आईएलआई (ILI) की रोकथाम के लिए भी समाप्त कर दिया गया है. इसने आर्सेनिकम एल्बम 30 (Arsenicum Album30) की एक डोज की सिफारिश की है, जो प्रतिदिन खाली पेट में इस्तेमाल की जा सकती है. खुराक को एक महीने के बाद दोहराया जाना चाहिए. विशेषज्ञ समूह ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, सरकार द्वारा हवाई-संक्रामक संक्रमणों की रोकथाम के लिए सामान्य स्वास्थ्यकर उपायों पर जोर दिया है. कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए इस बातों को ध्‍यान में रखा जा सकता है.

कोरोनावयरस से बचाव के लिए यूनानी दवाएं – (Unani Medicines useful in symptomatic management of Corona Virus infection)

– शरबत उन्नाब (SharbatUnnab) 10-20 एमएल दिन में दो बार
– त‍िर्यकअर्ब (TiryaqArba) 3-5 ग्राम द‍िन में दो बार
– त‍िर्यकनज्ला (TiryaqNazla) 5 ग्राम दिन में दो बार
– खमीरा मरवारीद (KhamiraMarwareed) 3-5 ग्राम द‍िन में एक बार
– स‍िर और छाती पर रोगनबनू/रोगनमोम/ कफूरी बाम (RoghanBaboona/ Roghan Mom/ Kafoori Balm) की मसाज करें.
– रोगन बनफ्सा (RoghanBanafsha) को नाक में डालें.
– अर्कअजीब की 4 से 8 बूंदें ताजा पानी में डालें और इसे दिन में 4 बार इस्‍तेमाल करें.
– बुखार होने पर हब्‍ब-ए-इक्‍शीरबुखार (Habb e IkseerBukhar) की दो गोल‍ियां दिन में दो बार हल्‍के गर्म पानी के साथ लें.

– शरबतनज्ला (SharbatNazla) 10एमएल को 100 एमएल गुनगुने पानी में म‍िला कर द‍िन में दो बार रोजाना लें.
– क्‍यूर्स-ए-सौल (Qurs e Suaal) की दो गोलियां दिन में दो बार चबा कर खाएं.

– ऊपर दी गई जानकारी और दवाएं आयुष की तरफ से जारी एक एडवाइजरी का ह‍िस्‍सा हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status