Monday , 21 June 2021
Home » Search Results for: तिल (page 3)

Search Results for: तिल

दग्ध-व्रण (जले हुए घाव )के लिए अनुभूत चिकित्सा -प्रयोग में ले और अनुभव करे

दग्ध-व्रण (जले हुए घाव )के लिए अनुभूत चिकित्सा -प्रयोग में ले और अनुभव करे कभी कभी किसी अनहोनी के कारण हम लोग आग ,गर्म पानी ,गर्म चाय ,घी ,गर्म तेल आदि से जल जाने से घाव या फफोले पड़ जाते हे और जलन बहुत होती है .छोटे बच्चों में ये बहुत ही कष्ट प्रद होता है वो जलन सहन नही …

Read More »

बालो की सभी बीमारी के लिए कुछ अनुभवी और अचूक आयुर्वेदिक नुस्खे

बालो की सभी बीमारी के लिए कुछ अनुभवी और अचूक आयुर्वेदिक नुस्खे आजकल बालो की समस्या हर व्यक्ति के हो रही हे .किसी के बाल झड़ना ,सफेद होनो ,बालो में डेन्द्र्फ़ ,कम उम्र में बालो का टूटना और सफेद होना ,बालो में खुजली ,दो मुह के बाल आदि रोग हो रहे है आयुर्वेद में इसका कारण,- गलत खान -पान और …

Read More »

अनेक रोगों के लिए कुछ घरेलू नुस्खे जो शीघ्र लाभदायक और अनुभवी है |

अनेक रोगों के लिए कुछ घरेलू नुस्खे जो शीघ्र लाभदायक और अनुभवी है | आज हम आपके लिए अनेक प्रकार के बीमारियों  ( प्रमेह ,जुखाम ,मुहं ,आँखों ,बहरेपन ,दमा आदि ) के लिए कुछ उपयोगी और जल्दी ही परिणाम देने वाले नुस्खे है अवश्य लाभ ले . 1 .-बालको के जुखाम,कब्ज के लिए – विधि —- कायफल का चूर्ण 1 …

Read More »

हमारे अनुभव -लकवा रोग में जो अनेक रोगियों पे आजमाएं हुए है बनाकर लाभ ले |

हमारे अनुभव -लकवा रोग में जो अनेक रोगियों पे आजमाएं हुए है बनाकर लाभ ले | लकवा वायु रोग के अंर्तगत आता है लकवा स्नायुमंडल के अवसाद से उत्पन होता है. तथा यह शरीर के आधे                           अंग में होता है. मस्तिष्क की नाडिया निष्क्रिय हो जाने के कारण …

Read More »

मूत्राशय तथा व्रक्क रोग के लिए अनुभूत और शीघ्र लाभकारी नुस्खे-अवश्य अजमाए |

मूत्राशय तथा व्रक्क रोग के लिए अनुभूत और शीघ्र लाभकारी नुस्खे-अवश्य अजमाए -व्रक्क पीड़ा –                                                                                            …

Read More »

हमारे अनुभव -गठिया (आर्थराइटिस) के हर प्रकार के दर्द में ,शीघ्र लाभकारी |

हमारे अनुभव -गठिया (आर्थराइटिस) के हर प्रकार के दर्द में ,शीघ्र लाभकारी | 50-55 वर्ष की उम्र के बाद  घुटनों ,कन्धो और रीढ़ की हड्डी में दर्द होता है |हड्डिया घिसनी शुरू हो जाती है जोड़ हिलने -डुलने पर चटखने की आवाज होती है |कुछ का मानना हे की यूरिक अम्ल के दाने जमा हो जाने के कारण घुटने जाम …

Read More »

सन्निपात (मस्तिष्क पर सुजन ) के लिए गुणकारक,अनुभूत व अचूक नुस्खे-प्रयोग में लेकर लाभ ले |

सन्निपात (मस्तिष्क पर सुजन ) के लिए गुणकारक,अनुभूत व अचूक नुस्खे-प्रयोग में लेकर लाभ ले | यह बड़ा भयंकर रोग है | इससे मस्तिष्क पर या मस्तिष्क के पर्दों के अंदर एक प्रकार की सुजन सी आ जाती है | यदि सुजन विशेषत: मस्तिष्क पर अधिक हो तो तापांश अधिक होता है और आँखों में बड़ा भारी दर्द होता है …

Read More »

नासिका (नाक )के रोगो के सरल और अनुभूत नुस्खे जो तुरंत लाभदायक है -अनुभव कर और हमसे शेयर करे |

नासिका (नाक )के रोगो के सरल और अनुभूत नुस्खे जो तुरंत लाभदायक है -अनुभव कर और हमसे शेयर करे | परमात्मा ने हमे नाक ही ऐसा साधन दिया हे जिसके माध्यम से हमे सुगन्धि और दुर्गन्धि का ज्ञान होता है | नाक के मार्ग से अनावश्यक और मेला द्रव्य शरीर से बाहर निकलता है | हम यहा आप के लिए …

Read More »

प्रतिश्याय (नजला – जुकाम ) के रामबाण , अचूक व अनुभूत योग – एक बार अवश्य प्रयोग करे |

प्रतिश्याय (नजला – जुकाम ) के रामबाण , अचूक व अनुभूत योग – एक बार अवश्य प्रयोग करे | कंठमार्ग द्वारा गिरने वाली आर्द्रता को नजला और नासिका द्वरा गिरने वाली को जुकाम कहते है नजला जुकाम से अधिक कष्टकर  और भयंकर होता है | स्थाई नजला और जुकाम मस्तिष्क को दुर्बल और बेकार बना देते है आप की सेवा …

Read More »

कर्ण रोगो (कान के रोग)के अचूक और रामबाण घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे -एक बार अवश्य आजमाएं

कर्ण रोगो (कान के रोग)के अचूक और रामबाण घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे -एक बार अवश्य आजमाएं 1. विधि मुली का पानी 50 ग्राम और तिल का तेल 20 ग्राम |दोनों को मंद मंद आग पर रखकर पकायें |जब पानी जलकर केवल तेल शेष रह जाये तब उतार ले और शीशी में भर ले |कान में दो बूंद डाले बहुत जल्दी बहरापन,झनझनाहट …

Read More »
DMCA.com Protection Status