Monday , 24 September 2018
Home » Uncategorized » Kidney pain – किडनी का दर्द एक दिन में सही – कारण लक्षण और इलाज
KIDNEY PAIN TREATMENT IN HINDI

Kidney pain – किडनी का दर्द एक दिन में सही – कारण लक्षण और इलाज

Kidney pain – किडनी का दर्द एक दिन में सही – कारण लक्षण और इलाज

Kidney pain – दोस्तो आज हम आपको बताने जा रहें हैं कुछ ऐसे घरेलु नुस्खे जिनको जानकार आप स्वयं ही अपनी किडनी में होने वाले दर्द को समझ सकेंगे और जान सकेंगे इनके घरेलु उपचार. दरअसल यह रोग अत्यंत गर्म चीजें या अत्यंत ठंडी चीजों के सेवन से हो जाता है. इस रोग के होने पर वृक्क अर्थात गुर्दों अर्थात किडनी में खिंचवाट पैदा होकर बड़ा दर्द होता है. वृक्क के स्थान से पीड़ा उठकर ठीक पीठ की और या अंडकोष की और निकलनी शुरू हो जाती है. मूत्र त्याग की शंका बार बार होती है.

Kidney Pain reason In hindi

किडनी में दर्द होने के कारण बहुत हो सकते हैं, Kidney painपसलियों के नीचे, रीढ़ की हड्डी के दाएं या बाईं ओर हो सकता है. Kidney pain Reason in hindi

  • Kidney Stone
  • P.K.D. PolyCystic kidney Disease
  • kidney cancer
  • kidney infection etc.

Kidney Problem Symptoms in hindi

किडनी में खराबी होने के लक्षण स्पष्ट रूप से निमिन्लिखित लक्षण दिख सकते हैं.

  • पीठ के पास नीचे की तरफ रीढ़ की हड्डी के दोनों तरफ या सिर्फ एक ही तरफ दर्द महसूस होना
  • पेशाब में जलन
  • पेशाब में खून
  • बूँद बूँद कर पेशाब होना
  • बार बार पेशाब आना
  • पेट का आकार बढ़ना
  • Creatinine बढ़ जाना
  • खारिश खुजली
  • urea बढ़ जाना
  • पैरों में सूजन
  • उलटी उबाक आना
  • भूख ना लगना
  • बुखार रहना etc.

Kidney pain Treatment in hindi

Kidney pain treatment in Hindi

  • 20 ग्राम तुलसी की पत्तियां छाया में सुखाकर, 20 ग्राम साफ़ की हुई अजवायन और सेंधा नामक 10 ग्राम तीनो को घोट कर चूर्ण कर लो, और सुबह शाम दो दो ग्राम (आधा आधा चम्मच) गुनगुने पानी के साथ ले लो, एक दो मात्रा में kidney pain में तड़प रहे रोगी को भी आराम होगा.
  • खरबूजे के छिलके पीसकर पिलाने से या फिर इनको छाया में सुखाये हुए खरबूजे के छिलके पानी में पीसकर और थोडा सा गर्म करके पिलाने से पेट में पहुँचते ही गुर्दे का दर्द शांत हो जाता है. छिलके की मात्रा 50 ग्राम तक लो.
  • भूनी हुई अलसी के बीज Flax seeds और देसी खांड बराबर मात्रा में लेकर बारीक पीसकर 10 ग्राम (दो चम्मच) गर्म गोखरू का काढ़ा Gokhru ka kaadha बनाकर उसके साथ में दो.
  • रेवंद चीनी (रेवंद खटाई या खताई), नौशादर, मुस्सवर, सुहागा समभाग लेकर सूक्षम पीस लें और थोड़ी सी शक्कर मिलाकर रखें, मात्रा 1 ग्राम से डेढ़ ग्राम तक जल के साथ दें. अगर पहली बार आराम ना आये तो एक घंटे के बाद पुनः दूसरी बार यह दवा दीजिये. अवश्य आराम होना चाहिए. लेखक के अनुसार बहुत सारे मरीज इसकी पुड़ियाँ बना कर अपनी जेब में रखते हैं.

Kidney pain best home remedy in hindi

यह प्रयोग Kidney pain, kidney stone, पेशाब ना आना आदि सब रोगों के लिए अचूक है. एक या दो मात्राओं में आराम होता है.

दूब घास (हरी देसी घास, जिसको धार्मिक कार्यों में उपयोग भी किया जाता है) इसकी हरी पत्तियां 50 ग्राम और कलमी शोरा 10 ग्राम दोनों को एक किलो पानी डालकर मिटटी के बर्तन में यहाँ तक पकाएं के आधा पानी शेष रह जाये और यह बर्तन ऊपर से ढका हुआ हो, जब पानी आधा रह जाए तो इसको अच्छे से मसल कर छान लो, अभी इसको किसी कलईदार बर्तन में डालकर पकाएं और इतना पकाएं के सारा पानी जल जाए, तब इसके नीचे सिर्फ सफ़ेद सफ़ेद नमक बचेगा, तब इसको खुरच कर उतार कर शीशी में भर लो, आवश्यकता के समय दो रत्ती (चावल के दाने के समान – वजन में एक ग्राम का दसवां हिस्सा) यह पाउडर 60 ग्राम सौंफ के पानी के साथ में दीजिये. तीन चार दिनों में वृक्क और मूत्र रोगों में प्रायः आराम हो जाता है. अगर कब्ज हो तो रोगी को पहले कब्जनाशक दवाएं दीजिये.

सौंफ का पानी बनाने की विधि

200 ग्राम सौंफ को मोटा मोटा कूट कर डेढ़ किलो पानी में रात्रि को भिगो कर रख दीजिये, सुबह इसको 250 ग्राम रहने तक धीमी आंच पर पकाएं, तदुपरांत छान कर रख लीजिये, यही सौंफ का पानी है.

kidney pain – परहेज

  • चावल
  • पालक
  • टमाटर
  • ठंडी या गर्म प्रकृति की चीजें अधिक सेवन करना

[BUN Test in hindi – For Creatinine and blood urea]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status